'रामलला प्राण प्रतिष्ठा को लेकर सभी लोगों में उत्साह', गोपालगंज में बोले UP के राज्यसभा सांसद

author img

By ETV Bharat Bihar Desk

Published : Jan 19, 2024, 3:52 PM IST

Updated : Jan 20, 2024, 7:45 AM IST

राज्य सभा सांसद

लोकसभा चुनाव को लेकर विभिन्न पार्टी के नेताओं द्वारा अपने अपने कार्यकर्ताओं को गोलबंद करना शुरू कर दिया गया है. राजनेताओं द्वारा अलग अलग राज्यों में जाकर कार्यकर्ता सम्मेलन किया जा रहा है. इसी कड़ी में यूपी के भाजपा राज्यसभा सांसद बाबू राम निषाद गोपालगंज पहुंचे. बाबू राम ने रामलाल प्राण प्रतिष्ठा और राहुल की न्याय यात्रा पर विचार प्रगट किये. पढ़ें, विस्तार से.

राज्यसभा सांसद बाबू राम निषाद.

गोपालगंज : लोक सभा चुनाव के पूर्व कार्यकर्ता और वोटरों को गोलबंद करने के लिए यूपी से भाजपा के राज्य सभा सांसद बाबू राम निषाद गोपालगंज पहुंचे. इस दौरान उन्होंने जिले के भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर रणनीति तैयार की. साथ ही विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल हुए. सांसद बाबू राम निषाद ने कहा कि रामलला के प्राण प्रतिष्ठा को लेकर लोगों में उत्साह है. उन्होंने यह भी कहा कि शंकराचार्यों में कोई नाराजगी नहीं है.


"विपक्षी लोग भारतीय जनता पार्टी पर तंज कसते हुए कहते थे कि 'राम लला हम आयेंगे मंदिर वहीं बनायेगे, तारीख नहीं बताएंगे'. लेकिन, अब मंदिर भी बन गया और प्राण प्रतिष्ठा की तारीख भी बता दी गई है."- बाबू राम निषाद, राज्यसभा सांसद

शंकराचार्य के बीच कोई विरोध नहींः रामलाल प्राण प्रतिष्ठा को लेकर शंकराचार्यों में नराजगी के मामले में उन्होंने कहा कि शंकराचार्यो में कोई नाराजगी नहीं है. थोड़े बहुत बयान ऐसे वैसे हैं, लेकिन ऐसा कुछ नहीं है. बात का बतंगड़ बनाने वाले लोग बना रहे हैं. वहीं उन्होंने राहुल गांधी पर हमला करते हुए कहा कि न्याय यात्रा बहुत सही समय पर निकली है. पीएम नरेंद्र मोदी के 10 साल होने जा रहे हैं. इस न्याय यात्रा में उन्हें यह मालूम चलेगा कि करीब 50 साल तक देश की सत्ता संभाली, लेकिन गरीब के कल्याण के लिए इनके 50 साल की सत्ता ने क्या किया और क्या नहीं किया.

न्याय यात्रा नहीं समझ बढ़ाने वाली यात्राः भाजपा के राज्यसभा सांसद ने कहा कि राहुल गांधी जमीन पर रहेंगे तो इन्हें पता चलेगा कि मोदी ने 10 साल में गरीबों के उत्थान के लिए गरीबों के विकास के लिए उनके हक और अधिकार के लिए क्या क्या किया है और क्या क्या नहीं किया है. उन्होंने कहा कि राहुल की यह न्याय यात्रा नहीं समझ बढ़ाने वाली यात्रा है. 2024 में चुनाव होने वाला है और इस 2024 के चुनाव में यात्रा के माध्यम से टाइम पास करने के लिए निकले हैं.

इसे भी पढ़ेंः सरकार का है प्रयास, श्रीराम के आदर्शों पर चलते हुए देश में सुशासन व ईमानदारी का हो राज: मोदी

इसे भी पढ़ेंः राम लला के दर्शन के लिए बिहार से हर रोज खुलेंगी 100 से ज्यादा ट्रेनें, 2000 करोड़ का होगा खर्च

Last Updated :Jan 20, 2024, 7:45 AM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.