मद्य निषेध दिवस पर CM नीतीश कुमार ने दिलाई शपथ, 'ना शराब पियेंगे और ना बिकने देंगे'

author img

By

Published : Nov 26, 2021, 1:27 PM IST

शपथ दिलाते मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

राज्यकर्मियों में मद्य निषेध के प्रति जागरुकता फैलाने के उद्देश्य से आयोजित शपथ ग्रहण कार्यक्रम में सभी स्तर के सरकारी कर्मचारियों शराब का सेवन नहीं करने को लेकर शपथ दिलाई गयी. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ज्ञान भवन से मद्य निषेध के प्रति जागरुकता फैलाने के लिए जागरुकता रथ को किया रवाना.

पटना: बिहार को शराब समेत सभी तरह के नशे से मुक्‍त करने के लिए मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) ने सबसे बड़े अभियान का शुक्रवार को शुभारंभ किया. नशा मुक्ति दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आजीवन शराब सहित किसी तरह के नशे का सेवन नहीं करने के लिए पूरे बिहार वासियों को संकल्‍प दिलाया. उन्‍होंने इस मौके पर जागरुकता रथों को रवाना किया.

ये भी पढ़ें: बड़ी खबर: मंत्री जनक राम के OSD समेत 3 लोगों के ठिकानों पर विजिलेंस का छापा

इन रथों के माध्यम से आम लोगों को नशे की बुराई के बारे में बताया जायेगा. इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि दूसरों को भी शराब के सेवन के लिए प्रेरित नहीं करना है. शराब से जुड़ी गतिविधियों से अपने को अलग रखना है. राज्य मुख्यालय से लेकर जिला, प्रखंड व पंचायत स्तर पर सरकारी कर्मचारियों व अफसरों ने शराब का सेवन नहीं करने की शपथ ली. राज्य सरकार के सभी कर्मचारियों व अफसरों को अपने-अपने सरकारी कार्यालयों में इसकी शपथ लेने की हिदायत दी गई है. सभी को इससे जुड़ा शपथ-पत्र भरकर उस पर हस्ताक्षर करना है.

बता दें कि मद्य निषेध दिवस पर CM नीतीश कुमार ने आज जागरुकता कार्यक्रम की शुरुआत की. बिहार में नशा मुक्ति के प्रति जागरुकता के लिए आज, 26 नवंबर को नशा मुक्ति दिवस मनाया जा रहा है. इस उपलक्ष्य पर पटना के ज्ञान भवन में मुख्य कार्यक्रम हुआ.

शपथ दिलाते मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस कार्यक्रम का उद्घाटन किया. शराबबंदी को लेकर मुख्यमंत्री जागरुकता अभियान की भी शुरुआत की. उन्होंने नशामुक्ति की मुहिम में मद्यनिषेध प्रचार-प्रसार अभियान रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया. पिछले दिनों मुख्यमंत्री ने शराबबंदी (Liquor ban in Bihar) को लेकर 7 घंटे तक मैराथन समीक्षा की थी. उन्होंने शराबबंदी को सख्ती से लागू करने का निर्देश भी दिया था.

ये भी पढ़ें: दिल्ली जाते-जाते बयान के 'तीर' छोड़ गए लालू, कहा- नीतीश को चुल्लू भर पानी में डूब मरना चाहिए

नोट: ऐसी ही जरूरी और विश्वसनीय खबरों के लिए डाउनलोड करें ईटीवी भारत एप

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.