मां का गलत तरीके से अंतिम संस्कार करने पर पुलिस ने किया मामला दर्ज, फिर सामने आई चौंकाने वाली सच्चाई

author img

By ETV Bharat Madhya Pradesh Team

Published : Feb 19, 2024, 11:21 AM IST

Wrong funeral of mother bhopal bersia police filed case

Wrong funeral of mother : मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और शव को निकलवाकर उसका पोस्टमॉर्टम कराया.

भोपाल. राजधानी भोपाल से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. यहां एक व्यक्ति द्वारा मां का गलत तरीके से अंतिम संस्कार (Funeral) करने पर पुलिस ने मामला दर्ज किया है. व्यक्ति ने अपनी बुजुर्ग मां की मृत्यु के बाद विधिवत अंतिम संस्कार (antim sanskar) करने की बजाए मां के शव को घर से कुछ दूर ले जाकर दफना दिया था, जिसकी जानकारी आसपास के लोगों ने पुलिस को दी. लोगों को शक हुआ कि कहीं व्यक्ति ने किसी को मार कर दफना न दिया हो, पर जो वजह सामने आई उसने सभी को हैरत में डाल दिया.

फॉरेस्ट की जमीन में दफनाया था शव

मामला राजधानी भोपाल (Bhopal) के बैरसिया तहसील के गुनगा थाना क्षेत्र का है. थाना प्रभारी अरुण शर्मा ने बताया कि थाना क्षेत्र के दिल्लौद गांव में झोपड़ी में रहने वाले जगदीश के साथ उसकी 80 साल की मां तुलसी बाई रहती थी. तुलसी बाई काफी समय से बीमार चल रही थी और उसी के चलते 13 फरवरी की रात उनकी मृत्य हो गई. जगदीश इसके बाद बिना किसी को बताए, मां के शव को कंधे पर घर से कुछ दूरी पर फॉरेस्ट एरिया में ले गया. इसके बाद उसने प्लांटेशन के लिए खोदे गए गड्ढे में मां के शव को दफन कर दिया.

महिला की हुई थी सामान्य मौत

मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और शव को निकलवाकर उसका पोस्टमॉर्टम कराया. पोस्टमॉर्टम में पता चला कि मौत सामान्य थी. लेकिन पुलिस के डर से व्यक्ति गायब हो गया, जिसे बाद में बुलाकर विधिवत अंतिम संस्कार कराया गया और उसके कृत्य के लिए उसपर मामला भी दर्ज किया गया. इस दौरान पुलिस ने तुलसी बाई के रिश्तेदारों को भी सूचना देकर अंतिम संस्कार में बुलाया.

Read more -

इस वजह से मां के शव को दफनाया

पुलिस ने पहले जगदीश के खिलाफ धारा 297 के तहत मामला दर्ज किया था. जब उसे ढूंढ कर इस तरह अंतिम संस्कार करने का कारण पूछा गया तो उसने बताया कि जब मां की मौत हुई तब उसके पास केवल 150 रु ही थे. ऐसे में वह अपनी मां का विधिवत अंतिम संस्कार नहीं कर पाता. इसलिए उसने किसी से मदद लेने की जगह शव को गड्ढे में दफन कर दिया. हालांकि, बाद में पुलिस ने जगदीश को थाने से ही जमानत दे दी.

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.