ETV Bharat / state

बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में पूरे कुनबे के साथ किया बाघिन ने शिकार, खितौली कोर जोन में रोमांचित हो उठे पर्यटक, देखें वीडियो - Bandhavgarh Tiger Reserve Video

author img

By ETV Bharat Madhya Pradesh Team

Published : Apr 15, 2024, 6:45 AM IST

Updated : Apr 15, 2024, 6:52 AM IST

बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में बाघों की काफी ज्यादा संख्या है पर पर्यटकों को बाघों द्वारा शिकार करने के ऐसे दृश्य कम ही देखने को मिलते हैं. ताजा वीडियो बांधवगढ़ के खितौली कोर जोन का बताया जा रहा है.
BANDHAVGARH TIGER RESERVE VIDEO
बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में बाघिन ने शिकार

बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में बाघिन ने शिकार

उमरिया. मध्यप्रदेश के उमरिया जिले में स्थित विश्व प्रसिद्ध बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व से एक रोमांचित करने वाला वीडियो सामने आया है. रविवार को बांधवगढ़ के खितौली जोन में सफारी करने गए पर्यटकों ने एक नहीं बल्कि कई बाघ एकसाथ देखे. दरअसल, पर्यटकों ने खितौली जोन में एक बाघिन को अपने पूरे कुनबे के साथ शिकार घसीटते हुए देखा. कई पर्यटकों ने इस दृश्य को अपने कैमरों में कैद कर लिया जो अब वायरल हो रहा है. (File Photo)

'कांटीवाह' बाघिन की है ये टेरेटरी

बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व से प्राप्त जानकारी के अनुसार पर्यटकों को खितौली जोन में मूणातारा तालाब के पास बाघिन अपने शावकों के साथ नजर आई. जो बाघिन शिकार के बाद मृत जानवर को घसीटती नजर आई वह 'कांटीवाह' बाघिन थी और यह उसी की टेरेटरी थी. खितौली जोन में इस बाघिन ने अपने तीन शावकों के साथ टेरेटरी बनाई है. बाघिन कांटीवाह की उम्र लगभग 7 वर्ष है और उसके तीन शावकों की उम्र लगभग 10 महीने है.

Read more -

बांधवगढ़ के जंगलों में ग्रामीणों पर जानवरों के हमले बढ़े, महुआ बीनने वाले को सतर्क रहने की सलाह

उमरिया के बांधवगढ़ नेशनल पार्क में पर्यटकों की हरकतों से परेशान पार्क प्रबंधन, वन्यजीवों के समीप जाने की तस्वीरें वायरल

शिकार के दृश्य बहुत कम देख पाते हैं पर्यटक

यूं तो बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व में बाघों की काफी ज्यादा संख्या है पर पर्यटकों को बाघों द्वारा शिकार करने के दृश्य कम ही देखने को मिलते हैं. बाघों के पूरी दुनिया में प्रसिद्ध इस टाइगर रिजर्व के कई वीडियोज सामने आते रहते हैं, जिसमें बाघ कई बार अठखेलियां करते भी नजर आते हैं. बता दें कि ठंड के मौसम के बाद गर्मी के सीजन में भी यहां पर्यटकों की काफी भीड़ होती है. दरअसल, गर्मी में जंगल में हरियाली कम होने पर बाघ आसानी से दिखाई दे जाते हैं. वहीं कई बार लाख कोशिशों के बाद भी पर्यटकों को बाघ नहीं नजर आते.

Last Updated :Apr 15, 2024, 6:52 AM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.