छत्तीसगढ़ के 26 पुलिसकर्मियों को मिलेगा गैलेंट्री अवॉर्ड, 11 पुलिसकर्मियों को शहादत के बाद सम्मान

author img

By ETV Bharat Chhattisgarh Desk

Published : Jan 25, 2024, 1:00 PM IST

Updated : Jan 25, 2024, 4:43 PM IST

Gallantry Award

Gallantry Award छत्तीसगढ़ में वीरता का परिचय देने वाले वीर पुलिकर्मियों को 26 जनवरी के दिन सम्मानित किया जाएगा.Policemen Of Chhattisgarh

रायपुर : छत्तीसगढ़ के 11 पुलिसकर्मियों को मरणोपरांत वीरता पदक से सम्मानित किया जाएगा. केंद्र सरकार ने हर साल दिए जाने वाले पुलिस पदकों का ऐलान कर दिया है. गैलेंट्री अवार्ड, सराहनीय सेवा पदक और विशिष्ट सेवा पदक का ऐलान कर दिया है. 26 पुलिसकर्मियों को इस बार वीरता पदक के लिए चयनित किया गया है, जिसमें से 11 पुलिसकर्मियों को मरणोपरांत ये अवॉर्ड दिया जाएगा.

  • Out of 277 Gallantry Medals, 275 GM have been awarded to 72 personnel from J&K Police, 18 personnel from Maharashtra, 26 personnel from Chhattisgarh, 23 personnel from Jharkhand, 15 personnel from Odisha, 8 personnel from Delhi, 65 personnel from CRPF, 21 personnel from SSB and…

    — ANI (@ANI) January 25, 2024 " class="align-text-top noRightClick twitterSection" data=" ">

पुलिस वीरता पदक : 26

  • हेमन्त कुमार पटेल, उप निरीक्षक, बलौदाबाजार
  • मालिक राम, निरीक्षक, कांकेर
  • सुक्कू राम नाम, सउनि, नारायणपुर
  • संतोष चंदन, प्रधान आरक्षक, नारायणपुर
  • साकेत कुमार बंजारे, उप निरीक्षक हाल निरीक्षक बीजापुर
  • भुवन सिंह बोरा, प्लाटून कमाण्डर हाल कंपनी कमाण्डर 21वीं वाहिनी, छसबल, बालोद
  • संजय पाल, उप निरीक्षक, बीजापुर
  • धरम सिंह तुलावी, उप निरीक्षक, बीजापुर
  • विरेन्द्र कंवर, उप निरीक्षक, बीजापुर
  • पतिराम पोड़ियामी, उप निरीक्षक, बीजापुर
  • दिलीप कुमार वासनिक, प्लाटून कमाण्डर, एसटीएफ
  • शहीद रमेश जुर्री, प्रधान आरक्षक, बीजापुर
  • शहीद रमेश कोरसा, आरक्षक, बीजापुर
  • शहीद सुभाष नायक, आरक्षक, बीजापुर
  • शहीद रामदास कोर्राम, आरक्षक, एसटीएफ
  • शहीद जगतराम कंवर, आरक्षक, एसटीएफ
  • शहीद सुख सिंह, आरक्षक, एसटीएफ
  • शहीद रमाशंकर सिंह आरक्षक, एसटीएफ
  • शहीद शंकर नाग, आरक्षक, एसटीएफ
  • शहीद किशोर एण्ड्रिक, सहायक आरक्षक, बीजापुर
  • शहीद सनकूराम सोढ़ी, सहायक आरक्षक, बीजापुर
  • शहीद बोसाराम करटामी, सहायक आरक्षक, बीजापुर
  • धरम सिंह तुलावी, उप निरीक्षक, बीजापुर
  • शिव कुमार रामटेके, प्रधान आरक्षक, बीजापुर
  • छन्नू राम पोयाम, आरक्षक, बीजापुर
  • गौतम कोरसा, आरक्षक बीजापुर

विशिष्ट सेवाओं के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक : 02

  • अमित कुमार, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, गुप्तवार्ता, पु.मु नवा रायपुर
  • कन्हैया लाल ध्रुव, पुलिस उप महानिरीक्षक, नक्सल अभियान, मु0मु0 नवा रायपुर

सराहनीय सेवाओं के लिए पुलिस पदक :11

  • डी.आर. आंचला, सेनानी, 14वीं वाहिनी, छसबल, धनोरा, जिला बालोद
  • नेहा पाण्डेय, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, जिला खैरागढ़-छुईखदान-गंडई
  • येशेश्वरी येरेवार, उप पुलिस अधीक्षक, एसबी, पु.मु. रायपुर
  • टीकाराम कुर्रे, सहायक सेनानी, 22वीं वाहिनी, भीरागांव, कांकेर
  • महेश शुक्ला, एपीसी, 6वीं वाहिनी, छसबल, रायगढ़
  • जेम्स लकड़ा, कंपनी कमाण्डर, 2री वाहिनी, छसबल, सकरी-बिलासपुर
  • ओम प्रकाश साहू, उप निरीक्षक-अ, पु.मु. नवा रायपुर
  • उदय सिंह सिदार, प्रधान आरक्षक, 15वीं वाहिनी, बीजापुर
  • महेन्द्र कुमार पाठक, उप निरीक्षक, हाल जिला नारायणपुर
  • मनोज कुमार साहू, सहायक उप निरीक्षक, जिला बस्तर
  • देवी शरण सिंह, प्रधान आरक्षक, विआशा, पु.मु. नवा रायपुर

पुलिस महानिदेशक श्री अशोक जुनेजा ने पदक से विभूषित सभी पुलिस अधिकारियों, कर्मचारियों एवं उनके परिजनों को हार्दिक शुभकामनाएं दी हैं.

किस राज्य को कितने पदक ? : 277 वीरता पदकों में से 275 जीएम जम्मू-कश्मीर पुलिस के 72 कर्मियों, महाराष्ट्र के 18 कर्मियों, छत्तीसगढ़ के 26 कर्मियों, झारखंड के 23 कर्मियों, ओडिशा के 15 कर्मियों, दिल्ली के 8 कर्मियों, सीआरपीएफ के 65 कर्मियों, 21 कर्मियों को प्रदान किए गए हैं. एसएसबी और शेष कर्मी अन्य राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के जवानों को भी अवॉर्ड से सम्मानित किया जाता है.

विशिष्ट सेवा के लिए 102 राष्ट्रपति पदक (पीएसएम) में से 94 पुलिस सेवा, 4 अग्निशमन सेवा और 4 नागरिक सुरक्षा एवं होम गार्ड सेवा को प्रदान किए गए हैं. सराहनीय सेवा (एमएसएम) के लिए 753 पदकों में से 667 पुलिस सेवा को, 32 अग्निशमन सेवा को, 27 नागरिक सुरक्षा और होम गार्ड सेवा को और 27 सुधार सेवा को मिले हैं.

एसएसबी के महिला जवानों को भी सम्मान : सीमा सुरक्षा बल के दो हेड कांस्टेबल स्वर्गीय सांवला राम विश्नोई और स्वर्गीय शिशु पाल सिंह - को इस गणतंत्र दिवस पर मरणोपरांत राष्ट्रपति वीरता पदक (पीएमजी) के लिए चुना गया है. वीरता के लिए राष्ट्रपति पदक (पीएमजी) और वीरता के लिए पदक (जीएम) जीवन और संपत्ति को बचाने या अपराध को रोकने अपराधियों को गिरफ्तार करने में दुर्लभ विशिष्ट वीरता कार्य और वीरता के विशिष्ट कार्य के आधार पर दिए जाते हैं. जिससे होने वाले जोखिम का अनुमान लगाया जाता है।

Last Updated :Jan 25, 2024, 4:43 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.