ETV Bharat / state

भीषण गर्मी के बीच रिवर राफ्टिंग का रोमांच, ब्यास नदी के ठंडे पानी में Rafting का मजा ले रहे सैलानी - River Rafting

author img

By ETV Bharat Himachal Pradesh Team

Published : Jun 14, 2024, 12:58 PM IST

Updated : Jun 14, 2024, 2:42 PM IST

River Rafting in Beas River: मैदानी राज्यों में चिलचिलाती गर्मी और हीटवेव से परेशान होकर लोग पहाड़ों का रुख कर रहे हैं. हिमाचल प्रदेश में इन दिनों सैलानियों का तांता लगा हुआ है. सैलानी ब्यास नदी के ठंडे पानी में रिवर राफ्टिंग का मजा ले रहे हैं. तपती गर्मी के बीच बड़ी संख्या में सैलानी एडवेंचर एक्टिविटी का मजा ले रहे हैं.

River Rafting in Beas River in Mandi
मंडी जिले में रिवर राफ्टिंग (ETV Bharat)
ब्यास नदी में रिवर राफ्टिंग का रोमांच (ETV Bharat)

मंडी: मई व जून माह की प्रचंड गर्मी ने इस बार कई सालों के रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. मैदानी इलाकों में लगातार बढ़ते तापमान के बीच ठंडक पाने के लिए टूरिस्ट पहाड़ों की ओर रुख कर रहे हैं. ऐसे में चिलचिलाती गर्मी के बीचे कुल्लू-मनाली की तरफ जा रहे सैलानी ब्यास नदी के ठंडे पानी में उफनती लहरों के बीच होने वाली राफ्टिंग जैसी एडवेंचर्स गतिविधि में खुद को शामिल करने से रोक नहीं पा रहे हैं.

River Rafting in Beas River in Mandi
तपती गर्मी में रिवर राफ्टिंग का आनंद ले रहे सैलानी (ETV Bharat)

मंडी जिले के झीड़ी में रजिस्टर राफ्टिंग एसोसिएशन द्वारा रिवर राफ्टिंग करवाई जाती है. सैलानी बड़ी संख्या में यहां पर रूककर राफ्टिंग का आनंद उठा रहे हैं. देश के मैदानी इलाके इन दिनों जहां हीटवेव का शिकार है और लोग भीषण गर्मी और लू के थपेड़ों से परेशान हैं. वहीं, मंडी जिले में रिवर राफ्टिंग जैसी एडवेंचर एक्टिविटी लोगों को राहत पहुंचाने का काम कर रही हैं. भरी गर्मी के बीच ब्यास नदी के ठंडे पानी में राफ्टिंग कर लोग चैन की सांस ले रहे हैं.

River Rafting in Beas River in Mandi
मंडी के झीड़ी में रिवर राफ्टिंग (ETV Bharat)

बाहरी राज्यों से आए सैलानी रेवा प्रणव, मीनाक्षी, अनुष्का, गौरव दीपाकेला और तुषारकाड बोबले ने बताया कि उनके इलाकों में इन दिनों प्रचंड गर्मी की मार पड़ रही है. दिल्ली जैसे शहर में तो सांस लेना भी मुश्किल हो रहा है, लेकिन हिमाचल प्रदेश में आकर उन्हें शीतलता का अहसास हो रहा है. राफ्टिंग के अपने अनुभवों को साझा करते हुए इन्होंने बताया कि यह एक साहसिक गतिविधि है. राफ्टिंग के दौरान डर बहुत ज्यादा लगा, लेकिन उससे कहीं ज्यादा मजा आया. उफनती नदी के बीच राफ्ट में बैठकर सफर करने का अपना एक अलग ही अनुभव था, जिसे शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता है.

River Rafting in Beas River in Mandi
ब्यास नदी में रिवर राफ्टिंग (ETV Bharat)

राफ्टिंग एसोसिएशन झीड़ी के उपाध्यक्ष चंद्रकिरण ठाकुर ने बताया कि पिछले साल के मुकाबले इस साल सैलानियों की संख्या में अभी तक थोड़ी कमी देखने को मिल रही है, लेकिन सैलानी यहां आकर राफ्टिंग का आनंद उठा रहे हैं. रिवर राफ्टिंग के दौरान सुरक्षा के सभी पुख्ता प्रबंध किए जाते हैं. ट्रेंड और लाइसेंस धारी व्यक्ति को ही राफ्ट के संचालन का कार्य सौंपा जाता है. यहां पर दो प्रकार की राइड करवाई जा रही है, जिसमें एक 7 किलोमीटर की है तो दूसरी 14 किलोमीटर की है. अधिकतर सैलानी 14 किलोमीटर वाली लंबी राइड का आनंद उठाना पसंद करते हैं.

River Rafting in Beas River in Mandi
रिवर राफ्टिंग के दौरान सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम (ETV Bharat)

गौरतलब है कि इन दिनों हिमाचल प्रदेश में टूरिस्ट सीजन चला हुआ है. लोग तपती गर्मी से राहत पाने के लिए पहाड़ों का रुख कर रहे हैं. संबंधित पर्यटन स्थलों में जो भी एडवेंचर्स गतिविधियां करवाई जाती हैं उनमें सैलानी बड़े ही उत्साह और उल्लास के साथ भाग ले रहे हैं. बड़ी संख्या में सैलानी रोज हिमाचल प्रदेश के विभिन्न पर्यटन स्थलों पर आ रहे हैं.

ये भी पढ़ें: हीटवेव से बेहाल हिमाचल, पहाड़ों को अब मानसून का इंतजार, इस दिन प्रदेश में दस्तक देगा

ये भी पढ़ें: गर्मी से ठंडक का एहसास! पहाड़ों पर लगा सैलानियों का जमघट, जून माह में 32 हजार टूरिस्ट गाड़ियां पहुंची मनाली

ये भी पढ़ें: भीषण गर्मी में सैलानियों की पसंद बने हिमाचल के पहाड़, ट्रैफिक जाम से हुई राजधानी परेशान, पुलिस ने तैयार किया ये स्पेशल प्लान

ब्यास नदी में रिवर राफ्टिंग का रोमांच (ETV Bharat)

मंडी: मई व जून माह की प्रचंड गर्मी ने इस बार कई सालों के रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. मैदानी इलाकों में लगातार बढ़ते तापमान के बीच ठंडक पाने के लिए टूरिस्ट पहाड़ों की ओर रुख कर रहे हैं. ऐसे में चिलचिलाती गर्मी के बीचे कुल्लू-मनाली की तरफ जा रहे सैलानी ब्यास नदी के ठंडे पानी में उफनती लहरों के बीच होने वाली राफ्टिंग जैसी एडवेंचर्स गतिविधि में खुद को शामिल करने से रोक नहीं पा रहे हैं.

River Rafting in Beas River in Mandi
तपती गर्मी में रिवर राफ्टिंग का आनंद ले रहे सैलानी (ETV Bharat)

मंडी जिले के झीड़ी में रजिस्टर राफ्टिंग एसोसिएशन द्वारा रिवर राफ्टिंग करवाई जाती है. सैलानी बड़ी संख्या में यहां पर रूककर राफ्टिंग का आनंद उठा रहे हैं. देश के मैदानी इलाके इन दिनों जहां हीटवेव का शिकार है और लोग भीषण गर्मी और लू के थपेड़ों से परेशान हैं. वहीं, मंडी जिले में रिवर राफ्टिंग जैसी एडवेंचर एक्टिविटी लोगों को राहत पहुंचाने का काम कर रही हैं. भरी गर्मी के बीच ब्यास नदी के ठंडे पानी में राफ्टिंग कर लोग चैन की सांस ले रहे हैं.

River Rafting in Beas River in Mandi
मंडी के झीड़ी में रिवर राफ्टिंग (ETV Bharat)

बाहरी राज्यों से आए सैलानी रेवा प्रणव, मीनाक्षी, अनुष्का, गौरव दीपाकेला और तुषारकाड बोबले ने बताया कि उनके इलाकों में इन दिनों प्रचंड गर्मी की मार पड़ रही है. दिल्ली जैसे शहर में तो सांस लेना भी मुश्किल हो रहा है, लेकिन हिमाचल प्रदेश में आकर उन्हें शीतलता का अहसास हो रहा है. राफ्टिंग के अपने अनुभवों को साझा करते हुए इन्होंने बताया कि यह एक साहसिक गतिविधि है. राफ्टिंग के दौरान डर बहुत ज्यादा लगा, लेकिन उससे कहीं ज्यादा मजा आया. उफनती नदी के बीच राफ्ट में बैठकर सफर करने का अपना एक अलग ही अनुभव था, जिसे शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता है.

River Rafting in Beas River in Mandi
ब्यास नदी में रिवर राफ्टिंग (ETV Bharat)

राफ्टिंग एसोसिएशन झीड़ी के उपाध्यक्ष चंद्रकिरण ठाकुर ने बताया कि पिछले साल के मुकाबले इस साल सैलानियों की संख्या में अभी तक थोड़ी कमी देखने को मिल रही है, लेकिन सैलानी यहां आकर राफ्टिंग का आनंद उठा रहे हैं. रिवर राफ्टिंग के दौरान सुरक्षा के सभी पुख्ता प्रबंध किए जाते हैं. ट्रेंड और लाइसेंस धारी व्यक्ति को ही राफ्ट के संचालन का कार्य सौंपा जाता है. यहां पर दो प्रकार की राइड करवाई जा रही है, जिसमें एक 7 किलोमीटर की है तो दूसरी 14 किलोमीटर की है. अधिकतर सैलानी 14 किलोमीटर वाली लंबी राइड का आनंद उठाना पसंद करते हैं.

River Rafting in Beas River in Mandi
रिवर राफ्टिंग के दौरान सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम (ETV Bharat)

गौरतलब है कि इन दिनों हिमाचल प्रदेश में टूरिस्ट सीजन चला हुआ है. लोग तपती गर्मी से राहत पाने के लिए पहाड़ों का रुख कर रहे हैं. संबंधित पर्यटन स्थलों में जो भी एडवेंचर्स गतिविधियां करवाई जाती हैं उनमें सैलानी बड़े ही उत्साह और उल्लास के साथ भाग ले रहे हैं. बड़ी संख्या में सैलानी रोज हिमाचल प्रदेश के विभिन्न पर्यटन स्थलों पर आ रहे हैं.

ये भी पढ़ें: हीटवेव से बेहाल हिमाचल, पहाड़ों को अब मानसून का इंतजार, इस दिन प्रदेश में दस्तक देगा

ये भी पढ़ें: गर्मी से ठंडक का एहसास! पहाड़ों पर लगा सैलानियों का जमघट, जून माह में 32 हजार टूरिस्ट गाड़ियां पहुंची मनाली

ये भी पढ़ें: भीषण गर्मी में सैलानियों की पसंद बने हिमाचल के पहाड़, ट्रैफिक जाम से हुई राजधानी परेशान, पुलिस ने तैयार किया ये स्पेशल प्लान

Last Updated : Jun 14, 2024, 2:42 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.