उत्तरकाशी जिला अस्पताल में 2 महीने से खराब पड़ी ओटी टेबल, ऑपरेशन के लिए भटक रहे मरीज

author img

By ETV Bharat Uttarakhand Team

Published : Jan 21, 2024, 2:00 PM IST

Updated : Jan 21, 2024, 2:42 PM IST

Uttarkashi District Hospital

OT Table Not Work in Uttarkashi District Hospital उत्तरकाशी जिला अस्पताल में ऑपरेशन टेबल खराब पड़े हुए हैं. जिसके चलते ऑपरेशन नहीं हो पा रहे हैं. लिहाजा, ऑपरेशन के लिए मरीजों को दूसरे अस्पतालों की ओर रुख करना पड़ रहा है. इसके अलावा ऑटोक्लेव मशीनें भी खराब है.

उत्तरकाशी: जिला अस्पताल में ओटी टेबल यानी ऑपरेशन टेबल में खराबी के चलते ऑपरेशन नहीं हो पा रहे हैं. ऐसे में छोटे-बड़े ऑपरेशन के लिए अस्पताल आने वाले मरीजों को रेफर करना पड़ रहा है. मामले में अस्पताल प्रशासन का कहना है कि ओटी टेबल में आई खराबी को ठीक कराने का प्रयास किया जा रहा है. जल्द ही ओटी टेबल को सुधार लिया जाएगा. फिलहाल, एक टेबल को मैनुअली संचालित किया जा रहा है.

उत्तरकाशी के सबसे बड़े जिला अस्पताल में दो ओटी टेबल हैं. इनमें से एक ओटी टेबल ऑर्थो और दूसरी जनरल सर्जरी वार्ड में है. दो महीने पहले जनरल सर्जरी वार्ड के ओटी टेबल में कुछ खराबी आई थी. तब किसी तरह ऑर्थो वार्ड के टेबल से काम चलाया जा रहा था, लेकिन ऑर्थो वार्ड की ओटी टेबल में भी खराबी आने के चलते ऑपरेशन नहीं हो पा रहे हैं.

Uttarkashi District Hospital
खराब पड़ी ओटी टेबल

उत्तरकाशी जिला अस्पताल के सीनियर सर्जन डॉ. केपी सिंह ने बताया कि जनरल सर्जरी वार्ड में दो महीने से ओटी टेबल खराब पड़ी है. ऐसे में मांग कर किसी तरह काम चलाया जा रहा था, लेकिन अब दूसरी टेबल में भी खराबी आने से ऑपरेशन नहीं हो पा रहे हैं. टेबल की बैटरी आदि उपकरण में खराबी आई है.

जिस पर इंजीनियर ने आकर चेक कर कुछ उपकरण डाले, लेकिन बावजूद इसके यह खराब ही है. जिसके चलते वो ऑपरेशन के केस नहीं ले पा रहे हैं. उन्होंने बताया कि ओटी टेबल में खराबी को लेकर अस्पताल के प्रशासन को लिखित रूप से अवगत कराया गया है.
ये भी पढ़ें: बेहाल बड़कोट सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, विशेषज्ञ डॉक्टरों और स्टाफ की कमी से ICU बना शोपीस

कैसे होंगे इमरजेंसी केस में सर्जरी? उत्तरकाशी जिला अस्पताल में ओटी टेबल खराब होने से इमरजेंसी के दौरान ऑपरेशन कैसे होंगे? यह बड़ा सवाल बना हुआ है. वैकल्पिक टेबल रखने के सवाल पर प्रभारी सीएमएस डॉ. तरूण बुकेश्वर का कहना है कि अस्पताल के ओटी में जगह न होने से दूसरा टेबल नहीं रखा जा सकता है.

ऑटोक्लेव मशीनें भी खराब: जिला अस्पताल में ओटी टेबल ही नहीं ऑटोक्लेव मशीनें भी खराब हैं. ऑटोक्लेव मशीन ऑपरेशन में इस्तेमाल होने वाले उपकरणों के स्टरलाइजेशन में काम आती हैंस, लेकिन इन मशीनों के कुछ न कुछ उपकरण खराब होने से भी दिक्कत बनी हुई है. जनरल सर्जरी वार्ड में 5 से 6 ऑटोक्लेव मशीनें हैं, लेकिन ज्यादातर मशीनें खराब हैं.

क्या होता है ओटी टेबल? ओटी टेबल ऑपरेशन थियेटर में इस्तेमाल होने वाले महत्वपूर्ण उपकरणों में से एक है. ओटी टेबल का इस्तेमाल सामान्य सर्जरी, ऑर्थोपेडिक सर्जरी और न्यूरोलॉजिकल सर्जरी समेत अन्य सर्जिकल प्रक्रियाओं की एक विस्तृत श्रृंखला में किया जाता है. जो सर्जिकल प्रक्रियाओं के लिए एक स्थिर और सुरक्षित मंच प्रदान करते हैं.

ऑर्थो वार्ड की ओटी टेबल के कुछ पार्ट्स नहीं मिल पा रहे हैं. दो दिन पहले ही इंजीनियर उसे देखकर गया है. जिसके सोमवार तक सही होने की उम्मीद है. जनरल सर्जरी वार्ड की खराब ओटी टेबल को भी सही कराने का प्रयास किया जा रहा है. पहले हम अपने स्तर पर मशीनों को सही करा लेते थे, लेकिन अब सरकार का अनुबंध एक कंपनी से है. जो शिकायत पर मशीनों को सही करती है. टेबल में खराबी के संबंध में स्वास्थ्य महानिदेशक को भी अवगत कराया गया है. -डॉ. तरूण बुकेश्वर, प्रभारी सीएमएस,उत्तरकाशी

Last Updated :Jan 21, 2024, 2:42 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.