दिल्ली में आम लोगों को गाड़ी के लिए नहीं मिलेगा 0001 नंबर, अधिकारियों के लिए रिजर्व

author img

By ETV Bharat Delhi Desk

Published : Feb 7, 2024, 5:41 PM IST

अब 0001 वाहन नंबर अधिकारियों के लिए रिज़र्व

0001 number reserved for officers: 0001 वाहन नंबर सबसे ज्यादा लोकप्रिय नंबर में से एक है, लेकिन अब इस नंबर को अधिकारियों के लिए आरक्षित कर दिया गया है. पिछले साल इस नंबर का बेस प्राइज 5 लाख रुपए था, जो ई-ऑक्शन के बाद 15 लाख में बिका था.

अब 0001 वाहन नंबर अधिकारियों के लिए रिज़र्व

नई दिल्ली: पिछले कई महीने से वाहन के लिए 0001 नंबर नहीं आया है. अब इस नंबर को अधिकारियों के लिए आरक्षित कर दिया गया है. बीते साल यह नंबर 15 लाख रुपए में बिका था. 0001 का बेस प्राइज 5 लाख रुपए था. इस नंबर के लिए एक से अधिक लोगों के आवेदन करने पर ई-ऑक्शन होता था. ज्यादा पैसे देने वाले को 0001 नंबर मिलता था. बीते वर्ष मई के बाद से यह नंबर नहीं आया है.

साल भर में करीब 24 बार यह नंबर ऑक्शन के लिए आता था. इससे ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट को 1.20 करोड़ रुपये से अधिक की सालाना आया होती थी. अब यह आय नहीं हो पाएगी. इस साल 0007 और 0009 नंबर की डिमांड ज्यादा है. इसका बेस प्राइस 3 लाख रुपए है, लेकिन बीती 26 जनवरी को 0009 नंबर 10 लाख 80 हजार रुपये में बिका था.

लोग अक्सर वाहन पर वीआईपी या फैंसी नंबर लेकर काफी क्रेजी होते हैं. इन नंबरों के लिए लोग लाखों रुपए भी देते हैं. दिल्ली में सबसे महंगा नंबर 0001 है, लेकिन पिछले छह माह से यह नंबर लोगों को नहीं मिल रहा है.

'यह नंबर अब अधिकारियों के लिए रिजर्व कर दिया गया है. ऐसे में लोग इस नंबर के लिए आवेदन नहीं कर पा रहे हैं.' -शहजाद आलम, स्पेशल कमिश्नर, ट्रांसपोर्ट विभाग

0007 व 0009 की डिमांड ज्यादाः दिल्ली ट्रांसपोर्ट इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कारपोरेशन (डीटीआईडीसी) के अधिकारियों के मुताबिक, 0009 की डिमांड सबसे ज्यादा है. बीते 26 जनवरी को 0009 नंबर 10 लाख 80 हजार रुपये में बिका था. 0002 से 0009 तक चार पहिया वाहन के लिए इसका बेस प्राइज 3 लाख और बाइक के लिए 3 हजार रुपए है. लोग वीआईपी नंबर के लिए www.pariwahan.gov.in पर जाकर बुकिंग कर सकते हैं. इसके लिए एक हजार रुपये फीस लगती है. जो रिफंडेबल नहीं होती है. इसके बाद निर्धारित बेस प्राइज देना होता है. यदि एक नंबर के लिए एक से अधिक लोग आवेदन करते हैं तो ई-आक्शन में सबसे ज्यादा पैसे देने वाले को नंबर मिलता है

अब 0001 वाहन नंबर अधिकारियों के लिए रिज़र्व
अब 0001 वाहन नंबर अधिकारियों के लिए रिज़र्व

1.50 लाख में हैं चार पहिया वाहन के ये नंबरः चार पहिया वाहन के लिए इन नंबरों का बेस प्राइज 1.50 लाख रुपये है. इसमें 0100, 0111, 0200, 0222, 0300, 0400, 0444, 0500, 0555, 0600, 0666, 0700, 0777, 0800, 0888, 0900, 0999, 2000, 2222, 3000, 0333, 4000, 4444, 5000, 5555, 6000, 6666, 7000, 8000, 8888, 9000, 0101, 0108, 1008 और 1313 नंबर हैं.

ये भी पढ़ें : दिल्ली डिवीजन में काम के चलते रेलवे ट्रैफिक रहेगा ब्लॉक, सफर से पहले देखें रद्द व देरी से चलने वाली ट्रेनों की सूची

15 हजार रुपये में हैं दो पहिया वाहन के ये नंबरः दो पहिया वाहन के लिए इन नंबरों का बेस प्राइज 15 हजार रुपये हैं. 0100, 0111, 0200, 0222, 0300, 0400, 0444, 0500, 0555, 0600, 0666, 0700, 0777, 0800, 0888, 0900, 0999, 2000, 2222, 3000, 0333, 4000, 4444, 5000, 5555, 6000, 6666, 7000, 8000, 8888, 9000, 0101, 0108, 1008 और 1313 नंबर हैं. यदि कोई एक नंबर पर एक से अधिक लोगों के आवेदन आने पर ई- आक्सन होता है. यदि कोई अपने किसी पुराने वाहन का नंबर या निर्धारित लिस्ट के अतिरक्त कोई मनचाहा नंबर लेना चाहता है तो उसके लिए 25 हजार रुपये का शुल्क लगता है.

ये भी पढ़ें : देशभर में वर्षों से चल रहा ऑन डिमांड वाहन चोरी का गोरखधंधा, अब तक असल गुनहगारों तक नहीं पहुंची पुलिस

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.