बलौदाबाजार में 15 हजार किसान नहीं बेच पाए हैं धान, किसानों ने प्रशासन से की ये मांग

author img

By ETV Bharat Chhattisgarh Desk

Published : Jan 27, 2024, 5:15 PM IST

Balodabazar farmers demand

Balodabazar farmers demand: बलौदाबाजार में 15 हजार किसान धान नहीं बेच पाए हैं. यही कारण है कि किसान प्रशासन से धान खरीदी का समय बढ़ाने की मांग कर रहे हैं.

बलौदाबाजार में 15 हजार किसान नहीं बेच पाए हैं धान

बलौदा बाजार: छत्तीसगढ़ में धान खरीदी का अंतिम दिन 31 जनवरी बुधवार को है. बलौदाबाजार में पिछले तीन-चार दिनों तक हुई बारिश और खराब मौसम के कारण इस सप्ताह खरीदी पूरी तरह प्रभावित रही. तीन-चार दिनों तक तो खरीदी ही बंद रही. इस कारण धान खरीदी के लिए 6 लाख क्विंटल धान खरीदी करना बाकी है.

बारिश के कारण कुछ दिन प्रभावित रही धान खरीदी: बताया जा रहा है कि बलौदाबाजार के 15 हजार किसान अपना धान खरीदी केंद्र में बारिश के कारण नहीं ले जा पाए थे. इस कारण परेशानी और भी बढ़ गई है. अब महज तीन दिन बचे हैं. किसानों के साथ ही प्रशासन के सामने भी बड़ी चुनौती है. छत्तीसगढ़ सरकार के मुताबिक अब तक 129 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी हो चुकी है. इसके साथ ही किसानों के खाते में 27 हजार करोड़ रुपये से अधिक अमाउंट ट्रांसफर किया जा चुका है.

धान खरीदी का समय कम बचा है. टोकन भी नहीं कटा है. बारिश के कारण धान नहीं बेच पाए. हम सरकार से मांग करते हैं कि धान खरीदी के समय को बढ़ाए.- किसान

तय लक्ष्य से अधिक हुई धान की खरीदी: इस बार सरकार द्वारा तय लक्ष्य से अधिक धान खरीदी हो चुकी है. इस बार खरीदी 102 प्रतिशत हो गई है, जबकि पिछली बार कुल खरीदी 98 प्रतिशत थी. बलौदा बाजार में करीब 170 के आस-पास खरीदी केंद्र हैं, जिसमें से बहुत से खरीदी केंद्रों में खरीदी पूरी हो चुकी है. जबकि 15 हजार किसान अभी भी धान बेचने के लिए बचे हुए हैं. इनको तीन दिनों में खरीदी पूरा करना है. ऐसे में हर दिन दो लाख क्विंटल धान खरीदी होगी तभी सभी किसानों का धान बिक पाएगा.

31 जनवरी तक धान खरीदी किया जाना है. इस बार तय लक्ष्य से अधिक धान खरीदी हुई है. बारिश के कारण थोड़ी बहुत खरीदी कम हुई है.जो भी काम बचा है 31 से पहले धान उठाव सहित अन्य काम पूरा कर लिया जाएगा. -विमल दुबे, खाद्य अधिकारी

बता दें कि धान खरीदी को लेकर केवल 3 दिन बचा है लेकिन अभी भी जिले 15 हजार से ज्यादा किसान धान नहीं बेच पाए हैं. ऐसे में चिंतित किसान धान खरीदी की डेट आगे बढ़ाने की मांग कर रहें है. वहीं, प्रशासन के सामने भी बड़ी चुनौती है कि इन तीन दिनों में 15 हजार से अधिक किसानों का धान कैसे खरीद सकते है?

ओडिशा का धान छत्तीसगढ़ में खपाने की फिराक में थे बिचौलिए, 63 लाख का अवैध धान जब्त
"छत्तीसगढ़ में धान खरीदी के कारण बैंक में बहुत सारा कैश इसलिए बनाई लूट की प्लानिंग "
सक्ती में ऑपरेटर की एक गलती से किसान परेशान, धान नहीं बिकने से कलेक्टर से मांगी मदद
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.