इंटरनेशनल कबड्डी प्लेयर्स ने की कैंसर मरीजों से मुलाकात, बढ़ाया उनका हौसला

author img

By ETV Bharat Delhi Desk

Published : Feb 6, 2024, 7:08 PM IST

Updated : Feb 6, 2024, 9:54 PM IST

Etv Bharat

Kabaddi players met cancer patients: इंटरनेशनल कबड्डी प्लेयर्स ने मंगलवार को कैंसर मरीजों से मुलाकात कर उनका हौसला बढ़ाया.

इंटरनेशनल कबड्डी प्लेयर्स ने की कैंसर मरीजों से मुलाकात

नई दिल्ली: कबड्डी के मैदान में विपक्षी टीम को अपनी चतुराई और चपलता से पटखनी देने वाले कई इंटरनेशनल प्लेयर्स मंगलवार को द्वारका पहुंचे. उन्होंने यहां एक हॉस्पिटल में कैंसर का इलाज करवा रहे मरीजों से मुलाकात की. कीमोथेरेपी वार्ड में जाकर उनका हालचाल पूछा, उनकी हौसला अफजाई की और उन्हें प्लांट देकर जल्द स्वस्थ होने की शुभकामनाएं भी दीं. दिल्ली दबंग कबड्डी टीम से जुड़े ये प्लेयर्स अलग अलग जगहों से आए थे. इनमें फेलिक्स ली और युवराज इंग्लैंड से, बालासाहेब जाधव पुणे से, आकाश प्रशर और हिम्मत हरियाणा के रहने वाले हैं.

राजधानी दिल्ली में चल रहे विश्व कैंसर दिवस को लेकर दिल्ली दबंग कबड्डी क्लब के खिलाड़ियों ने कैंसर की रोकथाम के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए डॉक्टरों से भी मिलकर अपना सहयोग दिया. कबड्डी खिलाड़ियों और ऑन्कोलॉजी टीम के बीच एक पैनल चर्चा भी हुई, जिसमें कैंसर के निदान और उसके इलाज के साथ साथ स्वस्थ जीवन शैली के महत्व के बारे में भी चर्चा की गई.

ये भी पढ़ें: कैंसर से लड़ने के लिए इंडियन कैंसर सोसाइटी की खास पहल, ‘राइज अगेंस्ट कैंसर मोबाइल एप्लीकेशन लॉन्च

इस कार्यक्रम में द्वारका सबसिटी के अलग अलग RWA( रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन ) के 150 से अधिक मेंबर्स, स्कूली बच्चों और कैंसर सर्वाइवर्स ने भी हिस्सा लिया. पैनल डिस्कशन के बाद कबड्डी खिलाड़ियों ने सकारात्मक माहौल बनाने और कैंसर के खिलाफ लड़ाई में रोगियों का मनोबल बढ़ाने के लिए कीमोथेरेपी वार्ड का दौरा किया. इसके बाद अस्पताल के कर्मचारियों के बीच एक रस्साकशी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें कबड्डी खिलाड़ियों बालासाहेब जाधव, आकाश प्रशर, हिम्मत अंतिल और फेलिक्स ली ने अलग-अलग टीमों का नेतृत्व किया.

इस अवसर पर हॉस्पिटल के डायरेक्टर विजी वर्गीस ने कहा, “फरवरी एक विशेष महीना है क्योंकि इस महीने लोग कैंसर रोगियों का सहयोग करने और इसके बारे में जागरूकता और जानकारी बढ़ाए जाने की जरूरत पर बल देने के लिए एक साथ आते हैं. हमारा उद्देश्य केवल मरीज़ों का इलाज करना नहीं, बल्कि उन्हें आशा, मनोबल और यह विश्वास दिलाना है कि हम मिलकर कैंसर पर विजय पा सकते हैं.

इस तरह के कार्यक्रमों द्वारा स्वास्थ्य, कल्याण और सामुदायिक मेलजोल की संस्कृति विकसित होती है. जिससे कैंसर-पीड़ित लोगों के जीवन में परिवर्तन लाया जा सके. आधुनिक इलाज, विस्तृत देखभाल और मजबूत सहयोग के साथ कैंसर के खिलाफ लड़ाई में समर्थ बनाकर मुश्किल समय में हम उन्हें आशा प्रदान करना और अच्छे दिनों की ओर ले जाना चाहते हैं.

कैंसर की जागरूकता पर बल देते हुए एचओडी, कंसल्टैंट ओन्को साइंस, डॉ. दुर्गतोष पांडे ने कहा, “कैंसर एक गंभीर बीमारी है, जिसके प्रभावी इलाज के लिए बहु-विषयक दृष्टिकोण की आवश्यकता होती है. इलाज के बेहतर परिणामों और सफलता में इसके समय पर निदान की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण है. इसलिए अगर कैंसर को हराना है तो नियमित तौर से स्वास्थ्य जाँच, एक स्वस्थ जीवन शैली और समय पर इलाज शुरू किए जाने को नज़रंदाज़ नहीं किया जा सकता है. साथ ही मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान देना भी जरूरी है. इसलिए कैंसर रोगियों और उनके परिवारों को भावनात्मक सहयोग भी दिया जाना चाहिए.”

यह कार्यक्रम शक्ति और मनोबल का एक मजबूत प्रतीक था. इसमें लोगों को एक साथ आने और स्वस्थ एवं फिट जीवन शैली के साथ कैंसर के बारे में जागरूकता बढ़ाने का एक अनूठा अवसर भी मिला.

ये भी पढ़ें: स्तन कैंसर की पहचान अब AI से होगी आसान, IIT दिल्ली के साथ मिलकर AIIMS तैयार कर रहा उपकरण


Last Updated :Feb 6, 2024, 9:54 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.