ETV Bharat / state

सराहनीय : पूर्व छात्र डॉ. राजीव गौतम ने कानपुर आईआईटी को दान में दिए ढाई लाख अमेरिकी डॉलर

author img

By ETV Bharat Uttar Pradesh Team

Published : Mar 1, 2024, 7:31 AM IST

कानपुर आईआईटी के पूर्व छात्र डॉ. राजीव गौतम ने आईआईटी को दान दिए ढाई लाख अमेरिकी डॉलर दान दिए हैं. इस धनराशि से तीन एंडोवेड कार्यक्रम आयोजित होंगे. कुछ दिनों पहले 1974 बैच के पूर्व छात्रों ने 10.11 करोड़ रुपये की धनराशि दान दी थी. IIT Kanpur News

Etv Bharat
Etv Bharat

कानपुर : आईआईटी कानपुर के पूर्व छात्र डॉ. राजीव गौतम ने आईआईटी कानपुर के केमिकल इंजीनियरिंग विभाग में एंडोवेड कार्यक्रम के लिए 2 लाख 50 हजार अमेरिकी डॉलर का दान दिया है. भारतीय मुद्रा के मुताबिक यह राशि लगभग दो करोड़ सात लाख रुपये होगी. आईआईटी कानपुर के मौजूदा प्रोफेसरों ने डॉ. राजीव गौतम के इस कदम की सराहना की है.

निदेशक का दावा है कि जल्द से जल्द ही एंडोवेड कार्यक्रम का आयोजन आईआईटी कानपुर में कराया जाएगा. साथ ही केमिकल इंजीनियरिंग विभाग के भीतर नवाचार, उत्कृष्टता और शैक्षणिक विकास को बढ़ावा देने के उद्देश्य से तीन एंडोवेड कार्यक्रम स्थापित होंगे. इस बाबत डॉ. राजीव गौतम पूर्व छात्र आईआईटी कानपुर और आईआईटीके फाउंडेशन के बीच एक त्रिपक्षीय समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर भी किए गए.

आईआईटी के प्रशासनिक अफसरों ने बताया कि जो तीन एंडोवेड कार्यक्रम होंगे, उनमें ओम प्रकाश गौतम एंडोवेड फैकल्टी चेयर, राजीव और जॉयस गौतम फैकल्टी फैलोशिप और राजीव और जॉयस गौतम ट्रैवल ग्रांट शामिल हैं. अभी कुछ दिनों पहले ही आईआईटी में 1974 बैच के छात्रों ने दान में 10.11 करोड़ रुपये की राशि दी थी.

उभरते शोधकर्ताओं को सशक्त बनाएंगे एंडोवेड कार्यक्रम : डॉ. राजीव गौतम द्वारा दान में दी गई राशि को लेकर आईआईटी कानपुर के निदेशक प्रो. एस. गणेश ने कहा कि हम अपने अल्मा मेटर को उदार समर्थन के लिए डॉ. राजीव गौतम के आभारी हैं.

एंडोवेड फैकल्टी चेयर, यंग फैकल्टी फेलोशिप और ट्रैवल ग्रांट का योगदान संस्था को अधिक मजबूत अनुसंधान प्रयासों को सुविधाजनक बनाने, युवा फैकल्टी की प्रतिभा को पहचानने और छात्रों को वैश्विक प्रदर्शन के अवसर प्रदान करके फैकल्टी और छात्र प्रयासों को समृद्ध करेगी. मुझे यकीन है कि ये कार्यक्रम उभरते शोधकर्ताओं को सशक्त बनाकर केमिकल इंजीनियरिंग विभाग में शैक्षणिक और अनुसंधान गतिविधियों को और मजबूत करेंगे.



केमिकल इंजीनियरिंग विभाग ने मुझे मेरी पेशेवर यात्रा और सफलता के लिए संसाधन दिए : पूर्व छात्र डॉ. राजीव गौतम ने एंडोवेड कार्यक्रमों के महत्व को लेकर कहा कि अनुसंधान और शैक्षणिक उत्कृष्टता को बढ़ावा देने के लिए अपने अल्मा मेटर को हर संभव तरीके से योगदान देने में सक्षम होना मेरे लिए बहुत गर्व की बात है. केमिकल इंजीनियरिंग विभाग ने मुझे मेरी पेशेवर यात्रा और सफलता के लिए एक मजबूत तकनीकी नींव स्थापित करने के लिए संसाधन प्रदान किए. मुझे उम्मीद है कि ये एंडोवेड कार्यक्रम केमिकल इंजीनियरिंग के क्षेत्र में बदलाव लाने वालों की अगली पीढ़ी को सशक्त बनाएंगे.






यह भी पढ़ें : टेली मेडिसिन को बढ़ावा देने व AI की मदद से उपकरण तैयार करने की कवायद, IIT का स्वास्थ्य विभाग संग करार
यह भी पढ़ें : 1974 बैच के छात्रों ने कानपुर IIT के विकास लिए दिए 10.11 करोड़ रुपये

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.