दुर्ग से रवाना होगी पहली आस्था स्पेशल ट्रेन, 1344 भक्त करेंगे अयोध्या में रामलला के दर्शन

author img

By ETV Bharat Chhattisgarh Team

Published : Jan 30, 2024, 7:16 PM IST

Updated : Jan 30, 2024, 7:31 PM IST

Aastha Special Train

Aastha Special Train दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे से अयोध्या धाम जाने वाली पहली आस्था स्पेशल ट्रेन कैंसिल हो गई है. ये ट्रेन गोंदिया महाराष्ट्र से 31 जनवरी को अयोध्या धाम उत्तर प्रदेश जाने वाली थी. ये ट्रेन अब 4 फरवरी को गोंदिया के बजाय छत्तीसगढ़ के दुर्ग जंक्शन से अयोध्या के लिए रवाना होगी.

बिलासपुर : छत्तीसगढ़ सरकार ने अयोध्या के रामलला दर्शन के लिए स्पेशल ट्रेनें चलाने की घोषणा की थी.जिसके बाद पहली ट्रेन 31 जनवरी को गोंदिया से रवाना होने वाली थी.लेकिन कुछ तकनीकी कारणों से 31 जनवरी की पहली ट्रेन कैंसिल हो गई है.अब आस्था स्पेशल की पहली ट्रेन दुर्ग से रवाना होगी.यात्रा की तारीख में भी बदलाव किया गया है. ये ट्रेन 31 जनवरी के बजाय 4 फरवरी को रवाना होगी.

कितने यात्री जाएंगे अयोध्या ? : पहली ट्रेन में 1344 यात्री बतौर दर्शनार्थी यात्रा करेंगे, जिसकी बुकिंग भी फुल हो गई है. रेलवे की ओर से इसके लिए पूरा इंतजाम कर लिया गया है. दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के चीफ पब्लिक रिलेशन आफिसर ने जानकारी देते हुए कहा कि रेलवे बोर्ड ने ट्रेनों में यात्रियों के लिए व्यवस्था पूरी कर ली है.

कहां-कहां से रवाना होगी ट्रेन ?: एसईसीआर से 5 आस्था स्पेशल ट्रेनों का शेड्यूल तैयार किया गया है. पहली ट्रेन दुर्ग से 4 फरवरी को, दूसरी ट्रेन भी दुर्ग से ही 7 फरवरी को, तीसरी ट्रेन 14 फरवरी को रायपुर से और चौथी ट्रेन 18 फरवरी को बिलासपुर से और पांचवी ट्रेन 21 फरवरी को अनुपपुर से अयोध्या धाम के लिए रवाना होगी. इसमें दर्शनार्थियों के जाने आने के साथ खाने पीने की पूरी व्यवस्था होगी. 20 स्लीपर कोच के साथ आस्था स्पेशल ट्रेन का परिचालन होगा.बीजेपी और हिंदू संगठन इन ट्रेनों का परिचालन करा रहे हैं, जिसमें विधानसभा वार दर्शनार्थियों को अयोध्या धाम दर्शन करने के लिए ले जाया जा रहा है.

ट्रेन में कौन कर रहा है व्यवस्था ?: भगवान श्री राम के दर्शन के लिए बीजेपी सहित कई हिंदू संगठन अयोध्या धाम ले जाने व्यवस्था कर रही है. इस व्यवस्था के तहत पहली ट्रेन गोंदिया से जाने वाली थी. जो कैंसिल हो गई, अब इसका परिचालन 4 फरवरी को किया जा रहा है.रामलला दर्शन के लिए बीजेपी ने इस ट्रेन की व्यवस्था की है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम भक्तों के दर्शन के लिए अपने मंत्री सांसद और भाजपा के पदाधिकारियों से अपील कि वे पहले जनता को मंदिर दर्शन करवाएं. इसके बाद वे दर्शन के लिए जाएं. ताकि भक्तों को किसी भी वीआईपी की वजह से मंदिर दर्शन में व्यवधान न हो.

बेमेतरा के शराबी सरकार पर मेहरबान, राजस्व के लिए खूब छलका रहे जाम
कुसमुंडा को नहीं मिल रही है ट्रैफिक जाम से राहत, सरकार बदलने के बाद भी हालत जस की तस
बैकुंठपुर में सड़क चौड़ीकरण का काम रुका, चंद दुकानदारों की वजह से हर दिन लगता है जाम
Last Updated :Jan 30, 2024, 7:31 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.