गंगोत्री धाम में डाक कांवड़ियों का लगा मेला, महाशिवरात्रि में जलाभिषेक के लिए ले जा रहे गंगा जल

author img

By ETV Bharat Uttarakhand Team

Published : Feb 24, 2024, 7:43 PM IST

Updated : Feb 24, 2024, 9:26 PM IST

Etv Bharat

Dak Kanwariya reached Gangotri Dham गंगोत्री धाम में इन दिनों डाक कांवड़ियों का मेला लगा हुआ है. दरअसल महाशिवरात्रि में जलाभिषेक के लिए गंगा जल भरने के लिए विभिन्न प्रदेशों से डाक कांवड़िया गंगोत्री धाम पहुंच रहे हैं. वहीं जो कांवड़िया गंगोत्री धाम नहीं पहुंच पा रहे हैं, वह धराली से जल भरकर मुखबा में मां गंगा के शीतकालीन प्रवास के दर्शन करके अपने गंतव्य की ओर रवाना हो रहे हैं.

गंगोत्री धाम में डाक कांवड़ियों का लगा मेला

उत्तरकाशी: बर्फबारी के बीच शिव भक्त गंगोत्री धाम से गंगा जल भरने के लिए डाक कांवड़ लेकर पहुंच रहे हैं. महाशिवरात्रि में जलाभिषेक के लिए देश के विभिन्न प्रदेशों से कांवड़िया गंगोत्री से जल भरकर अपने गंतव्य के लिए रवाना हो रहे हैं. आलम ये है कि प्रतिदिन 20 से 25 कांवड़िया गंगाजल भरने के लिए धाम पहुंच रहे हैं. बता दें कि महाशिवरात्रि फाल्गुन माह की कृष्ण पक्ष चतुर्थदशी (आठ मार्च) को मनाई जाएगी.

गंगोत्री धाम पहुंच रहे कई राज्यों के कावंड़िया : गंगोत्री धाम के तीर्थ पुरोहित संतोष सेमवाल का कहना है कि हर दिन मध्यप्रदेश, हरियाणा, दिल्ली और उत्तर प्रदेश से डाक कावंड़िया गंगोत्री धाम पहुंच रहे हैं. यहां पर विशेष पूजा-अर्चना के बाद कांवड़िया जल भरकर अपने गंतव्य की ओर रवाना हो रहे हैं. उन्होंने कहा कि महाशिवरात्रि पर कांवड़िया अपने शिवालयों में गंगोत्री के गंगा जल से जलाभिषेक करेंगे.

बर्फबारी से तापमान माइनस जीरो डिग्री दर्ज: क्षेत्र में पिछले तीन चार दिनों से हो रही बर्फबारी से तापमान माइनस जीरो डिग्री दर्ज किया गया है, लेकिन कुदरत भी डाक कांवड़ियों की शिवभक्ति में बाधा नहीं बन रही है. वहीं जो कांवड़िया गंगोत्री धाम नहीं पहुंच पा रहे हैं, वह धराली से जल भरकर मुखबा में मां गंगा के शीतकालीन प्रवास के दर्शन करके अपने गंतव्य की ओर रवाना हो रहे हैं.

गंगोत्री और धराली पहुंच रहे डाक कांवड़िया : हर्षिल थानाध्यक्ष उमेश नेगी का कहना है कि कांवड़ियों की गिनती अधिकारिक तौर पर नहीं हो रही है, लेकिन पिछले चार दिनों से डाक कांवड़िया गंगोत्री और धराली पहुंच रहे हैं. उन्होंने कहा कि गंगोत्री धाम में प्रतिदिन 20 से 25 कांवड़िया पहुंच रहे हैं.

ये भी पढ़ें-

Last Updated :Feb 24, 2024, 9:26 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.