आचार्य प्रमोद कृष्णम ने राहुल और प्रियंका गांधी को अपने बयानों से धोया, कहा राम और राष्ट्र पर समझौता नहीं

author img

By ETV Bharat Chhattisgarh Desk

Published : Feb 11, 2024, 7:31 PM IST

Pramod Krishnam targets Rahul Gandhi

कांग्रेस से निकाले जाने के बाद आचार्य प्रमोद कृष्णम ने राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को अपने बयानों से जमकर धोया. आचार्य ने कहा कि अपमान और जहर का घूंट पीकर सचिन पायलट राहुल के साथ न्याय यात्रा कर रहे हैं.

रायपुर/दिल्ली: कांग्रेस पार्टी से निकाले जाने के बाद आचार्य प्रमोद कृष्णम कांग्रेस पर पूरी तरह से खफा हैं. आचार्य ने राहुल गांधी को कोसते हुए कहा कि आखिर क्या वजह है कि राहुल की इनती बड़ी न्याय यात्रा में प्रियंका गांधी शामिल नहीं हो रही हैं. सचिन पायलट राहुल गांधी की यात्रा में जरूर साथ हैं लेकिन वो जहर और अपमान का घूंट पीकर यात्रा में शामिल हैं. आचार्य ने कहा कि राम और राष्ट्र के नाम पर मैं कोई समझौता नहीं करुंगा.

राम और राष्ट्र पर कोई समझौता नहीं हो सकता. मैं चाहता हूं कि मुझे 6 साल के बजाय 14 साल के लिए निष्कासित किया जाए क्योंकि भगवान राम भी 14 साल के लिए वनवास गए थे. कल रात कई मीडिया आउटलेट्स के माध्यम से मुझे पता चला कि कांग्रेस पार्टी ने एक पत्र जारी किया है. अपनी तरफ से केसी वेणुगोपाल ने पत्र में कहा है कि मुझे पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण निष्कासित किया गया है. सबसे पहले मैं कांग्रेस नेतृत्व को मुझे पार्टी से मुक्त करने के लिए धन्यवाद देता हूं. इसके साथ ही मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि कौन सी गतिविधियां थीं जिसके चलते मुझे निकाला गया - आचार्य प्रमोद कृष्णम, पूर्व कांग्रेस नेता

कांग्रेस पर लगातार हमलावर थे प्रमोद कृष्णम: आचार्य प्रमोद कृष्णम बीते कई महीनों से कांग्रेस पर हमलावर थे. कई डिबेट और सार्वजनिक तौर पर कांग्रेस पर वार करने से नहीं चूक रहे थे. राहुल गांधी को लेकर तो वो कई बार तल्ख रुख भी अख्तियार करते नजर आए थे. कभी टीम प्रियंका का हिस्सा रहे आचार्य ने कांग्रेस ने निकाले जाने के बाद पूरी कांग्रेस टीम को ही अपने निशाने पर ले लिया.

क्या मैं धारा 370 को हटाने का विरोध भी शामिल था. जब डीएमके नेताओं ने सनातन धर्म की तुलना डेंगू और मलेरिया से की तो कांग्रेस को उनका समर्थन नहीं करना चाहिए था. मैं एक बात स्पष्ट करना चाहता हूं कि राम और राष्ट्र पर कोई समझौता नहीं किया जाना चाहिए. आज मैं आजाद हो गया. पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी से जो वादा किया था कि वह मरते दम तक कांग्रेस पार्टी नहीं छोड़ूंगा, मुझे उन्होने खुद ही निकाल दिया तो अब मैं आजाद हो गया हूं . मुझे बहुत अपमान सहना पड़ा, फिर भी मैंने पार्टी नहीं छोड़ी. मैंने राजीव गांधी से जो वादा किया था, वह बीच में आ जाता था इसलिए मैंने पार्टी नहीं छोड़ी. मैंने यह भी सोचा कि जो व्यक्ति अपने दादा-दादी, गुलाम आजाद से लेकर कमल नाथ, भूपेन्द्र सिंह हुडडा से लेकर दिग्विजय सिंह और आनंद शर्मा तक के साथ खड़े रहे लोगों का सम्मान करना नहीं जानता. ये वो लोग हैं जो इंदिरा गांधी, राजीव गांधी और सोनिया गांधी के साथ थे. ये वो लोग थे जिन्होंने राहुल गांधी का हाथ पकड़कर उन्हें चलना सिखाया - आचार्य प्रमोद कृष्णम, पूर्व कांग्रेस नेता

खड़गे को बताया रबर स्टांप अध्यक्ष: कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे पर निशाना साधते हुए आचार्य ने कहा कि वो सिर्फ रबर स्टांप हैं. राहुल गांधी और पूरी कांग्रेस को ये बताना चाहिए कि आखिरी क्यों प्रियंका गांधी को न्याय यात्रा से दूर रखा गया है. आचार्य ने कहा कि मुझे गर्व है कि मैं पीएम मोदी को कल्किधाम के कार्यक्रम में बुला रहा हूं. पीएम ने कार्यक्रम में आने की हामी भरकर मुझे आनंदित कर दिया है. बीजेपी में जाने के सवाल पर आचार्य ने कहा कि कब कहां जाउंगा ये मेरे भगवान तय करेंगे मुझे उनपर पूरा भरोसा है.

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.