ETV Bharat / bharat

मंगलसूत्र से लेकर मेनिफेस्टो तक, चुनावी पारा हुआ हाई! PM मोदी के बयान पर 'घमासान' - Lok Sabha Election 2024

author img

By ETV Bharat Hindi Team

Published : Apr 24, 2024, 4:10 PM IST

Updated : Apr 24, 2024, 4:39 PM IST

Opposition leaders target BJP: 26 अप्रैल को होने वाले लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए प्रचार अभियान चरम पर है. ऐसे में I.N.D.I.A गठबंधन के विपक्षी नेताओं ने इस दौरान कई मसलों पर भारतीय जनता पार्टी को अपने निशाने पर लिया. इस दौरान कई नेताओं ने पीएम मोदी के बयान पर उन्हें घेरने की कोशिश भी की.
Etv Bharat
Etv Bharat

हैदराबाद: दूसरे चरण के लिए चुनाव प्रचार का आज आखिरी दिन है. इस दौरान I.N.D.I.A गठबंधन के विपक्षी नेताओं ने प्रधानमंत्री की 'मंगलसूत्र' पर की गई टिप्पणी का जवाब दिया.दूसरी तरफ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने पीएम को सीधे तौर पर चुनौती दे दी है. उन्होंने पीएम मोदी से कहा कि वे एक पैराग्राफ ऐसा दिखा दें जिसे पढ़कर उनपर किसी विशेष वर्ग के तुष्टिकरण का आरोप लगाया है. आज चुनाव प्रचार के आखिरी दिन कांग्रेस ने भाजपा के सूरत सांसद के निर्विरोध जीतने पर भी निशाना साधा. बता दें कि, पीएम मोदी समेत बीजेपी के तमाम बड़े नेता इस वक्त कांग्रेस के घोषणा पत्र पर निशाना साधते दिख रहे हैं.

11
पी चिदंबरम (फोटो)

पी चिदंबरम का पीएम मोदी पर तंज
राजस्थान में एक रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हालिया टिप्पणी कि कांग्रेस के घोषणापत्र में लोगों की संपत्ति को मुसलमानों के बीच वितरित करने की बात कही गई है. इसको लेकर राजनीतिक बयानबाजी तेज हो गई है. चिदंबरम ने कहा कि उनकी पार्टी मानती है कि देश में सामाजिक और आर्थिक असमानताएं मौजूद हैं. 'हम मानते हैं कि इस देश में सामाजिक विभाजन, सामाजिक असमानता और आर्थिक असमानता है. सबसे अधिक प्रभावित लोग एससी, एसटी और गरीब हैं, चाहे वे किसी भी धर्म के हों... अगर समाज के हर वर्ग के लिए न्याय लाना तुष्टीकरण माना जाता है. चिदंबरम ने कहा कि कांग्रेस का घोषणापत्र पूरे देश में, यहां तक ​कि तमिलनाडु के सुदूर गांवों में भी चर्चा का विषय बन गया है. उन्होंने बीजेपी के घोषणा पत्र पर तंज कसते हुए कहा कि, भाजपा के मेनिफेस्टो दो घंटे में ही गायब हो गया. कोई भी इसके बारे में चर्चा तक नहीं कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि भाजपा के मेनिफेस्टो में कुछ भी नहीं है. मोदी की गारंटी किसी राजनीतिक दल का घोषणा पत्र नहीं हो सकती है. इसी वजह से पीएम मोदी कांग्रेस के घोषणा पत्र से ईर्ष्या करते हैं. चिदंबरम ने आगे पीएम मोदी से कांग्रेस का घोषणा पत्र पढ़ने की सलाह दी है.

1
सैम पित्रोदा (फोटो)

क्या बोले सैम पित्रोदा
दूसरी तरफ, इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के अध्यक्ष सैम पित्रोदा ने भी पीएम मोदी द्वारा लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के घोषणापत्र को "तत्कालीन 'मुस्लिम लीग' का चुनावी दस्तावेज" बताए जाने पर निराशा व्यक्त की. उन्होंने कहा उन्हें पीएम पर शर्म आती है. उन्होंने पीएम मोदी को पैथोलॉजिक्ल झूठा करार दिया. उन्होंने कहा कि बीजेपी की टीम कांग्रेस के घोषणा पत्र के बारे में झूठ बोल रही है. हाल ही में 'जिनके पास अधिक बच्चे हैं' वाली टिप्पणी के लिए प्रधानमंत्री की आलोचना करते हुए पित्रोदा ने कहा कि पहले चरण के मतदान के बाद भाजपा के मन में डर बैठ गया है और इसने उन्हें ऐसी टिप्पणियां करने के लिए प्रेरित किया है. पित्रोदा ने सवाल किया, 'आप हमारी महिलाओं का अपमान कैसे कर सकते हैं...मुसलमानों के वास्तव में अधिक बच्चे नहीं हैं. वह (पीएम मोदी) जो चाहें कह सकते हैं, उनकी नैतिक जिम्मेदारी भी है. वह कानून से ऊपर नहीं हैं.

बता दें कि बीजेपी नेता और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार कांग्रेस के घोषणापत्र पर निशाना साध रहे हैं. वहीं एक रैली में पीएम मोदी नें कांग्रेस पर आरोप लगाया था कि ये लोग आम जन की संपत्ति ज्यादा बच्चों वालों में बांट देंगे. इस बात के बाद से मामले ने ऐसा तूल पकड़ा लिया है कि हर चुनावी रैली में इसी पर बयानबाजी चल रही है.

1
शशि थरूर (फोटो)

'बीजेपी हार रही है, कीचड़ तो उछालेंगे'...शशि थरूर बोले
वहीं, कांग्रेस नेता शशि थरूर ने बुधवार को कहा कि उनकी पार्टी के घोषणापत्र में धन पुनर्वितरण का कोई जिक्र नहीं है. यह भारतीय जनता पार्टी द्वारा लोगों का ध्यान भटकाने का एक हताश प्रयास मात्र है. क्योंकि वे लोकसभा में अपनी हार के बारे में जान चुके हैं. शशि थरूर ने आगे कहा कि, कांग्रेस का घोषणा पत्र में कही भी धन के पुनर्वितरण का जिक्र नहीं है. इसमें कहीं भी किसा का सोना लेने और महिलाओं के मंगलसूत्र छीनने की बात नहीं कही गई है. ये सब बेतुके हमले बीजेपी की तरफ से की जा रही है. थरूर ने कहा कि बीजेपी हताश है कि वे चुनाव हार रहे हैं, इसलिए वे जितना संभव हो उतना कीचड़ उछालेंगे. इससे पहले पीएम मोदी पिछले हफ्ते आरोप लगाया था कि कांग्रेस लोगों का सोना और संपत्ति छीनना चाहती है... वे सोना और संपत्ति छीनकर अधिक बच्चे रखने वालों के बीच बांट देंगे.

112
प्रियंका गांधी (फोटो)

'मेरी मां ने देश के लिए अपना मंगलसूत्र बलिदान किया', प्रियंका बोलीं
26 अप्रैल को होने वाले लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए प्रचार अभियान चरम पर है. ऐसे में पक्ष और विपक्ष के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है. वहीं कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि अगर उनकी पार्टी केंद्र में सत्ता में आती है तो जाति सर्वेक्षण कराने के लिए प्रतिबद्ध है और कर्नाटक में कडुगोल्ला समुदाय को अनुसूचित जनजाति (एसटी) में शामिल किया जाएगा. पीएम मोदी के 'मंगलसूत्र' वाले बयान पर पलटवार करते हुए प्रियंका ने कहा कि, पीएम मोदी महिलाओं के संघर्ष को नहीं समझते हैं. उन्होंने कहा कि, देश के लिए उनकी मां सोनिया गांधी के मंगलसूत्र की बली दी गई थी. उन्होंने बेंगलुरु में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि, पीएम मोदी पर तंज कसते हुए आगे कहा कि, 'बीजेपी कहती है कि कांग्रेस पार्टी आपका मंगलसूत्र, आपका सोना लूटना चाहती है. देश को आजाद हुए 70 साल हो गए. कांग्रेस लगभग 55 वर्षों से सत्ता में थी. क्या किसी ने किसी का सोना, मंगलसूत्र छीनने की कोशिश की. युद्ध के समय, इंदिरा गांधी ने अपना सोना देश के लिए बलिदान कर दिया. उन्होंने बीजेपी पर तंज कसते हुए कहा कि, बीजेपी ने पिछले दो दिनों से चर्चा कर रही है कि, कांग्रेस पार्टी लोगों का मंगलसूत्र, सोना लूटना चाहती है?

11
मल्लिकार्जुन खड़गे (फोटो)

क्या बोले खड़गे
वहीं, वायनाड में एक सार्वजनिक रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि, राहुल गांधी का नेतृत्व सिर्फ वायनाड तक ही सीमित नहीं है, बल्कि पूरे देश में है. आज हम अपने देश के इतिहास में एक महत्वपूर्ण मोड़ पर खड़े हैं जहां हमारे देश की आत्मा पर हमला हो रहा है. कांग्रेस पार्टी के खाते फ्रीज कर दिए गए हैं जबकि भाजपा ने अवैध चुनावी बांड के माध्यम से अवैध रूप से 13,000 करोड़ रुपये का चंदा एकत्र किया है...'

1
अखिलेश यादव (फोटो)

अखिलेश का बीजेपी पर तंज
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'मंगलसूत्र' वाले बयान पर निशाना साधते हुए समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि पहले चरण के चुनाव के बाद जो रुझान आ रहे हैं, उससे पता चलता है कि बीजेपी की हार होगी...यह हार की प्रवृत्ति है. चुनाव का पहला चरण समाप्त हो चुका है और अब रुझान आने शुरू हो गए है. उन्होंने मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि, इस तरह की भाषा का इस्तेमाल करना देश के लोकतंत्र को कमजोर करता है.

1
मायावती (फोटो

क्या बोलीं मायावती?
दूसरी ओर, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती ने लोगों से भाजपा या कांग्रेस के नेतृत्व वाले 'इंडिया' गठबंधन (INDIA Alliance) को वोट नहीं देने को कहा है. उन्होंने मेरठ में एक सार्वजनिक कार्यक्रम में कहा कि, 'पिछली सरकारों की तरह बीजेपी की मौजूदा सरकार में भी गरीबी, बेरोजगारी और महंगाई बढ़ रही है. भ्रष्टाचार भी खत्म नहीं हुआ है. हमारी सीमाएं पूरी तरह सुरक्षित नहीं हैं. यह बहुत चिंता का विषय है. लोकसभा चुनाव में हम सुनिश्चित करें कि कांग्रेस, भाजपा और उनकी सहयोगी पार्टियां केंद्र में सत्ता में न आएं...'

बता दें कि, 18वीं लोकसभा के 543 सदस्यों को चुनने के लिए देश में 19 अप्रैल से 1 जून तक सात चरणों में लोकसभा चुनाव हो रहे हैं. जहां पहले चरण का चुनाव संपन्न हो चुका है, वहीं दूसरे चरण का मतदान शुक्रवार को होगा.

ये भी पढ़ें: क्या है विरासत कर जिस पर मचा सियासी तूफान, जानें

Last Updated :Apr 24, 2024, 4:39 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.