अंबिकापुर छात्रा सुसाइड केस में महिला टीचर अरेस्ट, स्कूल प्रबंधन और प्रिंसिपल को नोटिस जारी

author img

By ETV Bharat Chhattisgarh Desk

Published : Feb 7, 2024, 1:52 PM IST

Updated : Feb 7, 2024, 7:01 PM IST

Ambikapur student dies

student dies by suicide अंबिकापुर की एक छात्रा ने खुदकुशी कर ली है. छात्रा ने टीचर पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है. जिसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए स्कूल की शिक्षिका को गिरफ्तार कर लिया है. इस केस में कलेक्टर ने स्कूल प्रबंधन और प्रिंसिपल को नोटिस जारी किया है.

अंबिकापुर में छात्रा ने की खुदकुशी

सरगुजा: अंबिकापुर में एक निजी स्कूल में पढ़ने वाली छात्रा ने खुदकुशी कर ली. छात्रा की उम्र 12 साल है और वो कक्षा 6वीं में पढ़ती है. छात्रा ने एक सुसाइड नोट भी लिखा है. जिसमें उसने स्कूल के टीचर पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है. इस केस में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए स्कूल की शिक्षिका को गिरफ्तार कर लिया है.

टीचर पर प्रताड़ित करने का आरोप: मंगलवार को बच्ची ने खुदकुशी की घटना को अंजाम दिया. खुदकुशी से पहले छात्रा ने सुसाइड नोट भी लिखा. सुसाइड नोट में लिखा है कि "टीचर प्रताड़ित करती है. मरकर इससे बदला लूंगी."

''मेरी बच्ची ने सुसाइड नोट में लिखा है कि टीचर ने आईडी कार्ड छीना. उसने स्नैचिंग वर्ड यूज किया है. टीचर सजा देती थी. उसने यह भी लिखा है कि अब एक ही रास्ता बचा है मरने का. उसके बाद मैं रिवेंज लूंगी. सुसाइट नोट में यह भी लिखा है कि टीचर बहुत बुरी और डेंजरस है. बिटिया ने मुझे वीडियो कॉल किया था लेकिन उसने इस बात का जिक्र नहीं किया था. उसने ये भी लिखा है कि मेरे दोस्तों को सजा न दें.'' -मृत छात्रा के पिता

12 साल की बच्ची के इस आत्मघाती कदम के बाद स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के परिजनों ने मोर्चा खोल दिया है. इस घटना के बाद भाजपा युवा मोर्चा ने स्कूल के सामने उग्र प्रदर्शन किया है. बताया जा रहा है कि टीचर की प्रताड़ना की शिकायत छात्रा ने स्कूल के ग्रुप में भी लिखी थी लेकिन मामले को किसी ने गंभीर नहीं लिया. जिसका खामियाजा बच्ची और उसके परिजनों को भुगतना पड़ा. पुलिस मामले में आगे कार्रवाई कर रही है.

टीचर के खिलाफ सबूत पाए जाने पर कार्रवाई: इस पूरे मामले में टीचर के खिलाफ सबूत पाए जाने पर सरगुजा पुलिस ने कार्रवाई की है. महिला टीचर सिस्टर मर्सी को गिरफ्तार किया गया. उसके बाद उन्हें कोर्ट में पेश किया. अदालत ने शिक्षिका को न्यायिक रिमांड पर भेज दिया है.

कलेक्टर ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ जारी किया नोटिस: इस पूरे मामले में कलेक्टर ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ नोटिस जारी किया है. प्रिंसिपल को कारण बताओ नोटिस भी इश्यू किया गया है. इस नोटिस में संस्था के अनापत्ति प्रमाणपत्र को रद्द करने की बात भी कही गई है. कलेक्टर ने तीन दिनों के भीतर इस नोटिस का जवाब स्कूल प्रबंधन और प्राचार्य से मांगा है. अगर जवाब संतोषजनक नहीं मिलता है तो स्कूल प्रबंधन के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

छत्तीसगढ़ में खुदकुशी के आंकड़े: बता दें कि छत्तीसगढ़ विधानसभा सत्र साल 2022 में पेश किए गए आंकड़ों के अनुसार प्रदेश में हर रोज 20 लोग खुदकुशी कर रहे हैं यानी महीने में 600 और साल में 7200 लोग खुदकुशी कर अपनी जिंदगी खत्म कर रहे हैं. खुदकुशी करने वालों में पहले युवाओं की संख्या ज्यादा थी लेकिन हाल ही में कई ऐसे मामले सामने आए है जिसमें नाबालिग ने खुदकुशी की है.

सरगुजा में शराब ने ली 2 जान, दुधमुंहे बच्चे की हत्या करने वाली मां ने भी की खुदकुशी, तालाब में मिली लाश
NIT स्टूडेंट की शरीर में विस्फोटक बांधकर खुदकुशी की कोशिश, युवाओं के सुसाइड अटेम्प्ट पर जानिए क्या कहते हैं मनोचिकित्सक
Last Updated :Feb 7, 2024, 7:01 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.