जेईई में कम नंबर आने पर कोटा से लापता हुआ यूपी निवासी कोचिंग छात्र हिमाचल से रेस्क्यू

author img

By ETV Bharat Rajasthan Team

Published : Feb 24, 2024, 4:25 PM IST

Updated : Feb 24, 2024, 10:53 PM IST

Coaching Student missing from Kota

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर से इंजीनियरिंग एंट्रेंस की तैयारी करने आया 17 वर्षीय छात्र 13 फरवरी को लापता हो गया था. जिसको हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला से कोटा शहर की जवाहर नगर थाना पुलिस और एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट में दस्तयाब कर लिया है.

कोटा से लापता हुआ यूपी निवासी कोचिंग छात्र हिमाचल से रेस्क्यू.

कोटा. शहर में उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर से इंजीनियरिंग एंट्रेंस की तैयारी करने आया 17 वर्षीय छात्र 13 फरवरी को लापता हो गया था. जिसको हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला से कोटा शहर की जवाहर नगर थाना पुलिस और एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट ने दस्तयाब कर लिया है. पीयूष का 13 फरवरी को जॉइंट एंट्रेंस एग्जाम मेन का रिजल्ट आया था, लेकिन परीक्षा में उसके अच्छे अंक नहीं आए थे. ऐसे में उसके पिता ने जब उससे बात की और उसका रिजल्ट बताया, तब उसके बाद पीयूष अपने हॉस्टल से लापता हो गया था. पुलिस बीते 10 दिनों से उसे तलाश रही थी और उसके पीछे यूपी, उत्तराखंड और हिमाचल सहित कई जगह पर भी गई थी.

कोटा सिटी एसपी डॉ अमृता दुहन का कहना है कि बच्चा तनाव में है और उसे उनकी टीम लेकर कोटा आ रही है. इस बच्चे के उत्तराखंड के हरिद्वार में होने की सूचना मिली थी. इस पर टीम को भेजा गया था. जहां पर फिर सूचना मिली कि वह हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में है. ऐसे में वहां की लोकल पुलिस से संपर्क किया गया. वहां की पुलिस अधीक्षक से खुद मैंने बात की थी. वहीं शुक्रवार शाम को ही धर्मशाला पहुंच गई और बच्चे को अपनी संरक्षण में ले लिया है. जहां से सुरक्षित लाया जा रहा है. प्रथम दृष्टया बच्चा डिप्रेशन में ही लग रहा था. आकर उसे डिटेल में बात की जाएगी.

पढ़ें: कोटा में 9 दिन से लापता कोचिंग छात्र रचित का शव नदी किनारे पेड़ पर मिला

कोटा जंक्शन पर छोड़ गया था दो बैग: मूल रूप से उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर के दुर्गापुरम पन्नीनगर निवासी 17 वर्षीय बालक 13 फरवरी को दोपहर से ही लापता है. वह कोटा जंक्शन पर दोपहर में देखा गया था. जहां पर अपने दो बैगों को छोड़कर प्लेटफार्म से बाहर निकल गया था. उसका मोबाइल भी स्विच ऑफ हो गया था. उसने 13 फरवरी को ही अपनी मां से बात की थी, लेकिन उसके बाद से ही उससे संपर्क नहीं हो पा रहा है. कोटा में जेईई मेन की तैयारी करने के लिए वह 2 साल पहले यहां पर आया था. उस दिन जेईई मेन का रिजल्ट आया था, जिसमें उसके 13 परसेंटाइल ही बने थे.

पढ़ें: कोटा से यूपी का छात्र लापता, JEE मेन के रिजल्ट के बाद से नहीं हो रहा संपर्क, 7 दिन में चौथा मामला

पिता ने कहा था काम आया है तुम्हारा रिजल्ट: उसके पिता महेश कपासिया का कहना है कि वह साल 2022 में पढ़ाई में अच्छा प्रदर्शन कर रहा था और अटेंडेंस भी उसकी कोचिंग में पूरी थी और टेस्ट में उसके अच्छे नंबर आ रहे थे, लेकिन 2023 में उसमें टेस्ट भी कई सारे मिस किए हैं. हालांकि वह हमें पढ़ाई के बारे में सब कुछ अच्छा बताता था. जेईई मेन एग्जाम भी अच्छे अंक आने की बात उसने मुझसे कही थी. जिस दिन वह गायब हुआ, उसका जेईई मेन का रिजल्ट आया था और सुबह हमने उससे फोन कर कहा था कि रिजल्ट तुम्हारा काफी काम आया है.

इधर, पश्चिम बंगाल निवासी छात्रा लापताः पश्चिम बंगाल से कोटा में आकर मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी कर रहे 17 वर्षीय आर्यन मित्र भी 21 फरवरी से गायब है. वे लैंडमार्क इलाके में एक हॉस्टल में रह रहा था, जहां से 21 फरवरी को निकला था और वापस नहीं लौटा. उसकी मोबाइल की अंतिम लोकेशन आगरा में आई थी, इसके बाद वह नहीं मिल रहा है. कुन्हाड़ी थाना अधिकारी अरविंद कुमार का कहना है कि पश्चिम बंगाल से बालक के पिता भी आ गए हैं व उसकी तलाश की जा रही है. इस संबंध में गुमशुदगी दर्ज की गई है.

कोचिंग छात्रा ने की आत्महत्या का प्रयासः वेस्ट बंगाल से कोटा आकर कोचिंग कर रही छात्रा ने आत्महत्या का प्रयास किया है. छात्रा अपनी मां के साथ ही कोटा में रहकर नीट यूजी की तैयारी कर रही है. मां के साथ कहासुनी होने के बाद यह कदम उठाया था. कुन्हाड़ी थाने के एसएचओ अरविंद भारद्वाज का कहना है कि बालिका को अस्पताल में भर्ती नहीं किया गया है.

Last Updated :Feb 24, 2024, 10:53 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.