रायपुर में एक हजार लोगों ने की सनातन धर्म में घर वापसी, विधानसभा चुनाव में धर्मांतरण था बड़ा मुद्दा

author img

By ETV Bharat Chhattisgarh Desk

Published : Jan 27, 2024, 8:19 PM IST

Updated : Jan 27, 2024, 9:50 PM IST

1000 people returned to Sanatan Dharma

Sanatan Dharma सरगुजा संभाग के 251 परिवार के 1000 लोगों ने रायपुर के एक समारोह में वापस सनातन धर्म में घर वापसी की है. ये दावा बीजेपी नेता प्रबल प्रताप सिंह का है. उनकी मौजूदगी में सभी लोगों के पैर धोकर घर वापसी कराई. people returned to Sanatan Dharma

धर्मांतरित लोगों की सनातन धर्म में वापसी !

रायपुर: पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री की रायपुर में 23 जनवरी से लेकर 27 जनवरी तक राम कथा का आयोजन था. राम कथा के समापन के दिन 251 परिवारों के 1000 लोगों ने वापस सनातन धर्म में घर वापसी की. सनातन धर्म में घर वापसी करने वालों में ईसाई और मुस्लिम समुदाय में गए लोग शामिल हैं. बीजेपी नेता प्रबल प्रताप सिंह जूदेव ने सभी के पैर धोकर उनको वापस सनातन धर्म में प्रवेश कराया.

इस मौके पर हवन और पूजन का भी आयोजन किया गया. जिन लोगों ने सनातन धर्म में वापसी कि वो पहले इसी धर्म में जुड़े थे, घर वापसी करने वाले सभी लोग सरगुजां संभाग के रहने वाले हैं. सभी लोगों की सनातन धर्म में वापसी का दावा प्रबल प्रताप सिंह जूदेव कर रहे हैं.

"घर वापसी बहुत बड़ा राष्ट्र निर्माण का काम है. धर्मांतरण बहुत ही गलत तरीके से इनका कराया गया है. झूठ बोलकर हिंदू देवताओं का अपमान कर के यह कराया गया है. घर वापसी से ये सनातनी परंपरा से जुड़ते हैं इससे राष्ट्र मजबूत होता है. ये कार्यक्रम तो हम काफी पहले से करते आ रहे हैं. हमारे पिता जी ने भी घर वापसी का काम कराया है": प्रबल प्रताप सिंह जूदेव, बीजेपी नेता

1000 लोगों ने की घर वापसी: घर वापसी करने वाले लोगों का कहना है कि उनके पूर्वज ईसाई और इस्लाम धर्म को मानते थे. बागेश्वर महाराज की कथा सुनने के बाद उनके मन में आया कि उनको भी अपने सनातन धर्म में वापस लौटना चाहिए. सनातन धर्म में लौटने वाले लोगों का कहना है कि घर वापसी के बाद उनको अच्छा लग रहा है. मूल धर्म में लौटकर उनको काफी खुशी हो रही है. घर वापसी करने में वालों में कई मुस्लिम समुदाय के लोग भी शामिल हैं. सभी का कहना है कि वो अपनी इच्छा से सनातन धर्म में लौट रहे हैं, उनपर किसी भी तरह की जोर जबरदस्ती नहीं है.

"साल 2008 में मेरी शादी हिंदु युवती से हुई थी. मेरे घर वाले मेरे शादी के खिलाफ थे. जिसके बाद मैं अपनी पत्नी के साथ अलग रहता था. पत्नी ने मुझे कभी भी धर्म बदलने को नहीं कहा वह अपने धर्म को मानती थी और मैं अपने धर्म को मानता था. लेकिन आज मैं पूरी तरह से मुस्लिम धर्म को छोड़कर सनातन धर्म अपना रहा हूं.": सनातन धर्म में वापसी करने वाले युवक

"हम किसी धर्म के विरोधी नहीं हैं ना ही हमने किसी को यहां बुलाया है. सभी लोग हनुमान जी के आशीर्वाद से यहां पर आए हैं. मैं धर्मांतरण का पक्षधर नहीं हूं, लेकिन मैं घर वापसी में विश्वास करता हूं." धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री, बागेश्वर धाम सरकार

घर वापसी पर बोले बागेश्वर धाम के महाराज: पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने 1000 लोगों के घर वापसी पर कहा कि जो भी लोग सनातन धर्म में लौटे हैं वो हनुमान जी की मर्जी से आए हैं.पूर्व में भी जब रायपुर में बागेश्वर धाम महाराज की कथा हुई थी तब कई लोगों ने सनातन धर्म का दामन थामा था.

कोरबा के बाद जशपुर में धर्मांतरित लोगों की सनातन धर्म में वापसी, जूदेव ने धर्मांतरण के खिलाफ कांग्रेस पर बोला हमला
कोरबा में 101 परिवारों की हुई सनातन धर्म में वापसी, जूदेव ने पैर धोकर कराया घर वापसी
लालच देकर किया जाता है धर्म परिवर्तन, एमपी और महाराष्ट्र के 152 लोगों की हुई घर वापसी
Last Updated :Jan 27, 2024, 9:50 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.