श्री अखंड परशुराम अखाड़े के कार्यकर्ताओं ने गंगा में किया दीपदान, कार सेवकों की याद में संग्रहालय बनाए जाने की मांग

author img

By ETV Bharat Uttarakhand Desk

Published : Jan 20, 2024, 1:29 PM IST

Updated : Jan 20, 2024, 1:55 PM IST

Etv Bharat

Haridwar Deep Daan अयोध्या के राम मंदिर में रामलला के प्राण प्रतिष्ठा की तैयारियां करीब-करीब पूरी हो चुकी हैं. अयोध्या में बने भव्य राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर लोगों में खासा उत्साह देखने को मिल रहा है.वहीं हरिद्वार में श्री अखंड परशुराम अखाड़े से जुड़े कार्यकर्ताओं ने दीप दान किया. साथ ही लोगों को राम मंदिर में रामलता के प्राण प्रतिष्ठा समारोह को धूमधाम व हर्षोल्लास से मनाने को कहा.

हरिद्वार: अयोध्या में राम मंदिर में रामलता के प्राण प्रतिष्ठा को लेकर देशभर में उत्साह का माहौल है. हरिद्वार में भी श्री अखंड परशुराम अखाड़े के नेतृत्व में गंगा में दीपदान किया गया और मां गंगा से राम मंदिर आंदोलन में प्राण न्योछावर करने वाले कार सेवकों को श्रद्धांजलि दी गई. इसके साथ ही श्री अखंड परशुराम अखाड़े से जुड़े कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार से अयोध्या राम मंदिर आंदोलन में जान गंवाने वाले कार सेवकों की याद में एक संग्रहालय बनाए जाने की मांग की. ताकि वहां जाने वाले श्रद्धालु उनके बलिदान के बारे में जान सकें.

गौरतलब है कि श्री अखंड परशुराम अखाड़े के कार्यकर्ताओं और साधु संतों ने भगवान राम के भजन गाए और फिर जय श्री राम के उद्घोष के साथ मां गंगा में दीपदान किया. इस दौरान अखाड़े के अध्यक्ष पंडित अधीर कौशिक ने कहा कि अयोध्या राम मंदिर आंदोलन के दौरान कार सेवकों के साथ ही साधु संतों ने भी अपने प्राण न्योछावर किए थे और उनके बलिदान का नतीजा है कि आज अयोध्या में राम राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा होने जा रही है. उन्होंने 22 जनवरी के दिन दीपक जलाकर दिवंगत कार सेवकों को श्रद्धांजलि देने की अपील आमजन से की. साथ ही केंद्र सरकार से अयोध्या में एक संग्रहालय बनाने की मांग भी की.
पढ़ें-श्रीराम भक्ति में रंगा मुख्यमंत्री आवास, माननीयों ने किया सुंदरकांड पाठ, लगे जयकारे

इस अवसर पर श्री अखण्ड परशुराम अखाड़े के अध्यक्ष पंड़ित अधीर कौशिक ने कहा कि अनेकों बलिदानों के बाद भव्य, दिव्य राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा अयोध्या में होने जा रही है. उन्होंने कहा कि कार सेवकों के बलिदान भुलाया नहीं जा सकता. देशवासियों को हमेशा उन्हें याद करना चाहिए. उन्होंने कहा कि संत महापुरूषों के तप, बल एवं आशीर्वाद से ही अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ हो पाया है. अयोध्या आंदोलन में प्राण गंवाने वाले बलिदानियों को हमेशा याद रखा जायेगा. उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि अयोध्या में राम मंदिर में रामलता के प्राण प्रतिष्ठा समारोह धूमधाम व हर्षोल्लास के साथ मनाएं. इस दिन प्रत्येक परिवार अपने घरों में दीप जलाकर दीपावली मनाएं. गंगा घाट पर बलिदानियों को श्रद्धासुमन अर्पित करें.

Last Updated :Jan 20, 2024, 1:55 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.