मसूरी में ओला और उबर का विरोध, टैक्सी एसोसिएशन ने दी चेतावनी

author img

By ETV Bharat Uttarakhand Desk

Published : Jan 14, 2024, 6:43 PM IST

Updated : Jan 14, 2024, 6:50 PM IST

Opposed Ola Uber in Mussoorie

Ola And Uber Service in Mussoorie मसूरी में ओला और उबर का विरोध हो रहा है. बताया जा है कि पेट्रोल पंप के पास ओला और उबर के ऑफिस का निर्माण किया जा रहा है. जिसका मसूरी टैक्सी कार ओनर एसोसिएशन विरोध में उतर गया है. अब टैक्सी एसोसिएशन ने परिवहन कमिश्नर से मुलाकात करने की बात कही है.

मसूरी में ओला और उबर का विरोध

मसूरी: पहाड़ों की रानी मसूरी में ओला और उबर का विरोध तेज हो गया है. मसूरी टैक्सी कार ओनर एसोसिएशन का कहना है कि कुछ लोग ओला और उबर का संचालन करने की कोशिश कर रहे हैं. जबकि, इससे पहले तय किया गया था कि मसूरी में इनका संचालन नहीं होगा, लेकिन ओला और उबर संचालित करने के लिए ऑफिस का निर्माण किया जा रहा है. जिसे किसी भी सूरत में होने नहीं किया जाएगा.

मसूरी टैक्सी कार ओनर एसोसिएशन के महासचिव सुंदर सिंह पंवार ने बताया कि मसूरी पेट्रोल पंप के पास पार्किंग पर कुछ लोग ओला और उबर के ऑफिस का निर्माण कर रहे हैं. जिसका वो विरोध कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि इससे पहले तय किया गया था कि मसूरी में ओला उबर का संचालन नहीं किया जाएगा, लेकिन उसके बाद भी कुछ लोग ओला उबर को मसूरी में संचालित करने की कोशिश कर रहे हैं, जिसे बिल्कुल भी नहीं होने दिया जाएगा.

Opposed Ola Uber in Mussoorie
मसूरी में ओला और उबर का विरोध

महासचिव सुंदर सिंह पंवार ने कहा कि आरटीओ की ओर से भी ओला उबर को संचालित किए जाने को लेकर काम किया जा रहा है. जिसका उन्होंने आरटीओ की ओर से बुलाई गई बैठक में विरोध किया था. उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में ओला उबर के संचालन को लेकर पहले से ही विरोध किया जा रहा है. जिसको लेकर एसोसिएशन कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट और पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज से मुलाकात कर अपना विरोध दर्ज करा चुकी है.
ये भी पढ़ेंः मसूरी माल रोड पर वाहनों की नो एंट्री! लोगों की पुलिस से नोकझोंक, गरमाया माहौल, जानिए पूुरा मामला

सुंदर सिंह पंवार ने कहा कि अब जल्द एक प्रतिनिधिमंडल परिवहन कमिश्नर के पास जाएगा और अपना विरोध दर्ज करेगा. उन्होंने कहा कि अगर मसूरी से ओला उबर संचालित होती है तो उसका पुरजोर तरीके से विरोध किया जाएगा. मसूरी टैक्सी कार ओनर्स एसोसिएशन के करीब 850 सदस्य हैं, जो अपने वाहनों की चाबी आरटीओ दफ्तर में जमा कर देंगे. जिसकी पूरी जिम्मेदारी स्थानीय प्रशासन और आरटीओ की होगी.

उन्होंने कहा कि मसूरी में कुछ डग्गामार वाहन भी संचालित हो रहे हैं, जिसका एसोसिएशन विरोध कर रहा है. यूनियन नियोजित तरीके से मसूरी में सभी टैक्सियों का संचालन करता है. ऐसे में कुछ लोग नियमों का उल्लंघन कर टैक्सियों का संचालन कर रहे हैं, जिसका विरोध किया जा रहा है. वहीं, मसूरी टैक्सी कार ओनर एसोसिएशन के विरोध को लेकर मसूरी कोतवाल मनोज असवाल फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे. जहां उन्होंने समझा बुझाकर मामले को शांत किया.

Last Updated :Jan 14, 2024, 6:50 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.