मिर्जापुर के सरकारी स्कूल में अध्यापकों ने की दलित छात्रों की पिटाई, इलाज के लिए मंगवाई भीख

author img

By

Published : Mar 19, 2023, 12:11 PM IST

मिर्जापुर के सरकारी स्कूल में शिक्षकों ने 2 बच्चों काे बुरी तरह पीटा.

मिर्जापुर के एक सरकारी स्कूल में दलित छात्रों की पिटाई कर दी गई. उनका कसूर केवल इतना था कि उनकी स्कूल के कुछ बच्चों से लड़ाई हाे गई थी. अध्यापकों ने उनकाे समझाने के बजाय उनकी पिटाई कर दी.

मिर्जापुर : जिले के कछवां थाना क्षेत्र के धनैता डोमनपुर पूर्व माध्यमिक विद्यालय में छात्रों की आपसी लड़ाई की शिकायत पर शिक्षकों का पारा हाई हाे गया. आरोप है कि शिक्षकों ने दलित छात्रों के लिए जातिसूचक शब्दों का प्रयाेग करते हुए डंडे से उन्हें जमकर पीटा. इससे बच्चों के पीठ और पैर समेत शरीर के अन्य हिस्सों पर निशान पड़ गए. इतने से भी शिक्षकों का मन नहीं भरा. उन्होंने पिटाई के बाद बच्चों से स्कूल में भीख भी मंगवाई. कहा कि इन पैसों से अपना इलाज करवा लेना. परिजनों ने कछवां थाना प्रभारी को ज्ञापन सौंपकर कार्रवाई की मांग की है.

अभिभावकों ने बताया कि सोमीन बाबू टेंगराही देवरी और प्रितमराज मुजेहरा कला गांव के कुछ बच्चे धनैता डोमनपुर पूर्व माध्यमिक विद्यालय में पढ़ते हैं. ये बच्चे छात्र कक्षा 7 और 8 में पढ़ते हैं. हर दिन की तरह 17 मार्च को वे स्कूल गए थे. इस दौरान 2 बच्चों की किसी बात काे लेकर स्कूल के दूसरे बच्चों से लड़ाई हाे गई. इसकी शिकायत स्कूल के शिक्षकों तक पहुंच गई. इसके बाद शिक्षकों ने दलित बच्चों काे समझाने के बजाय उनके कपड़े उतरवा कर कमरे में बंदकर जमकर उनकी पिटाई कर दी.

बच्चे दर्द से कराहते रहे लेकिन शिक्षकों का दिल नहीं पसीजा. पिटाई से बच्चों के शरीर पर कई जगह निशान भी पड़ गए. शिक्षकों ने दोनों बच्चों से स्कूल परिसर में भीख मंगवाई. भीख में छात्रों को पेन, पैसे और बिस्किट दिए गए. बच्चों ने घर पहुंचकर इसकी शिकायत की. इसके बाद 18 मार्च काे परिजन बच्चों काे लेकर कछवां थाने पहुंचे. यहां थाना प्रभारी काे ज्ञापन सौंपा. मुकदमा दर्ज कराने और कार्रवाई करने की मांग की है. क्षेत्राधिकारी शैलेंद्र त्रिपाठी ने बताया कि पूरे मामले की जांच एसडीएम ने खंड शिक्षा अधिकारी को सौंपी है. जांच के बाद जो तथ्य सामने आएंगे उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी.

यह भी पढ़ें : इंटर की छात्रा का कुएं में मिला शव, जांच में जुटी पुलिस

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.