भाजपा के दो सांसद उतरे दंगल में, कोई किसी को नहीं कर पाया चित, बराबरी पर छूटी कुश्ती, देखिए वीडियो

author img

By ETV Bharat Uttar Pradesh Team

Published : Nov 6, 2023, 4:36 PM IST

कुशीनगर में भाजपा के दो सांसद दंगल में उतरे.

कुशीनगर में भाजपा के दो सांसद ताल ठोंककर दंगल (Kushinagar BJP MP Wrestling) में उतर गए. दोनों के कुश्ती के अखाड़े में उतरते ही तालियां बजने लगीं. दोनों सांसद कुछ देर के लिए दांव आजमाते रहे.

कुशीनगर में भाजपा के दो सांसद दंगल में उतरे.

कुशीनगर : खड्डा इलाके के मठिया गांव में कुश्ती दंगल हुआ. कुशीनगर सांसद विजय दुबे के गांव में यह दंगल हुआ. फिल्म अभिनेता व गोरखपुर सांसद रवि किशन शुक्ला और सांसद विजय दुबे भी अखाड़े में उतरे. दोनों कुर्ता-पायजामा पहने एक मिनट तक दांव आजमाते रहे. हालांकि कोई किसी को पटखनी नहीं दे पाया. दोनों के बीच की कुश्ती बराबरी पर छूटी. दोनों सांसदों की कुश्ती ने दंगल में शामिल होने आए पहलवानों में जोश भर दिया.

95 साल से चली आ रही दंगल की परंपरा : मठिया के इस दंगल में 30 जोड़ी पहलवानों ने जोर आजमाइश की. गांव में दशहरा के बाद 95 वर्षों से रामलीला और दंगल का आयोजन होता है. दंगल की शुरुआत भाजपा के क्षेत्रीय अध्यक्ष सहजानंद राय व गोरखपुर सांसद रवि किशन ने कौआसार के पहलवान शिवानंद व बनारस के सदानंद का हाथ मिलवाकर किया. इस मुकाबले में शिवानंद विजयी रहे. दंगल के दौरान गोरखपुर के सांसद व अभिनेता रवि किशन व कुशीनगर के सांसद विजय कुमार दुबे भी अखाड़े में उतरे, दोनों सांसदों की कुश्ती लोगों के आकर्षण का केंद्र बनी रही.

दोनों सांसदों ने दंगल में आजमाए दांव.
दोनों सांसदों ने दंगल में आजमाए दांव.

पूरे प्रदेश से पहुंचे पहलवान : दंगल के दौरान दशहरा के उपलक्ष्य में मेला भी लगा. रावण का पुतला भी जलाया गया. प्रदेश के विभिन्न स्थानों से आए और स्थानीय पहलवानों ने कुश्ती कला का प्रदर्शन करते हुए दांव आजमाए. इसमें गोरखपुर के पहलवान अजयपाल, कौआसार के मोनू, बनारस से आए पहलवान कृष्णा, विकास, शिवानंद आदि पहलवानों ने अपने प्रतिद्वंद्वी को पटखनी देकर बाजी अपने नाम की. बंटी व अखिलेश, चंद्रेश व इंद्रेश्वर, अजय व संदीप, रोहित व नंदू आदि पहलवानों की कुश्ती बराबर रही. दंगल के निर्णायक शोभा यादव व रामप्रीत यादव थे.

गोरखपुर सांसद ने पिछले साल दी थी चुनौती.
गोरखपुर सांसद ने पिछले साल दी थी चुनौती.

एक साल पहले सांसद ने दी थी चुनौती : कुशीनगर सांसद विजय दुबे के गांव में सांसद के पूर्वजों द्वारा 95 साल पहले दंगल की परंपरा शुरू की गई थी. इस दौरान मेला लगता है और रावण का पुतला भी जलाया जाता है. मठिया गांव का यह मेला इलाके में दूर-दूर तक प्रसिद्ध है. आसपास के इलाकों से पहलवान आकर कुश्ती के मैदान में दांव आजमाते हैं. पिछली बार के दंगल में सांसद रवि किशन ने कन्नौज सांसद सुब्रत पाठक और कुशीनगर सांसद विजय दुबे को दंगल में दो-दो हाथ करने के लिए ललकारा था. उस दौरान कोई सामने नहीं आया. एक साल बाद इस चुनौती को सांसद विजय दुबे ने स्वीकार कर लिया. इसके दोनों सांसदों के बीच जोर आजमाइश शुरू हुई. कुशीनगर सांसद ने रक्षात्मक कुश्ती खेली जबकि गोरखपुर सांसद ने आक्रामकता दिखाई. एक मिनट तक दोनों इसी तरह लड़ते दिखे. दोनों एक-दूसरे को चित नहीं कर पाए. विधायक खड्डा और रामकोला ने कुश्ती को बराबरी पर छुड़वाया.

यह भी पढ़ें : छोरी के दांव पर मचता है 'दंगल', पुरुष पहलवानों को अखाड़े में धूल चटा रही 15 साल की अनुष्का

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.