फर्रुखाबाद की बेटियों ने बढ़ाया मान, राष्ट्रीय खेलकूद प्रतियोगिता में जीता कांस्य

author img

By ETV Bharat Uttar Pradesh Desk

Published : Nov 11, 2023, 5:57 PM IST

Etv Bharat

फर्रुखाबाद में दो बेटियों, प्रिया और मुस्कान (Priya and Muskaan) ने माता-पिता के साथ जिले का भी नाम रोशन किया है. केंद्रीय विद्यालय संगठन मुख्यालय की ओर से पुणे में राष्ट्रीय खेलकूद प्रतियोगिता (national sports competition) में दोनों ने रस्सी कूद में कांस्य पदक जीता है.

राष्ट्रीय खेलकूद प्रतियोगिता में कांस्य जीतने वाली बेटियां.

फर्रुखाबाद : केंद्रीय विद्यालय संगठन मुख्यालय की ओर से पुणे में राष्ट्रीय खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन किया था. जिसमें फर्रुखाबाद की दो बेटियों ने रस्सी कूद प्रतियोगिता में कांस्य पदक जीता है. ईटीवी भारत से बातचीत में प्रिया और मुस्कान ने कहा कि वह सभी माता-पिता से कहना चाहेंगी कि बेटियों को सपोर्ट करें, उनको आगे जाने दें. वह बहुत कुछ कर सकती हैं. वह आसमान में उड़ने के लिए बनी हैं. मुस्कान ने राष्ट्रपति और प्रिया ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को प्रेरणा स्रोत बताया.

मुस्कान ने कहा-पढ़ाई के साथ खेल भी जरूरी

फतेहगढ़ मोहल्ले में फूल मंडी निवासी सुशील चंद्र की पुत्री प्रिया और न्यू इंदिरा कॉलोनी भोलेपुर निवासी सुशील कुमार की पुत्री मुस्कान जब घर पहुंची तो यहां परिजन खुशी से फूले नहीं समाए. ईटीवी भारत को मुस्कान ने बताया कि राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू का जीवन उनके लिए प्रेरणा है. बताया कि आईपीएस बनना चाहती हैं. आज भी लड़कियों को बाहर निकलने से मना किया जाता है. स्पोर्ट की तरफ ध्यान न देने के लिए कहा जाता है. पढ़ाई की तरफ ज्यादा ध्यान देने के लिए बोला जाता है पर दोनों को महत्व देना चाहिए. बहुत सारे लोग हैं जो स्पोर्ट में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं.

प्रिया बोलीं-बेटियों को सपोर्ट करें माता-पिता

वहीं प्रिया इंदिरा गांधी प्रेरणा स्रोत मानती हैं. कहा कि मैं भी कुछ ऐसा कर सकूं जिससे देश के साथ माता-पिता का नाम रोशन हो. प्रिया ने बताया कि वर्ल्ड कप में इस बार टीम इंडिया जीत रही है. और आगे भी वर्ल्ड कप इंडिया जीतेगी.स्पोर्ट एक ऐसी लाइफ होती है जो ओवरऑल सबको पसंद आती है. मैं पेरेंट्स से कहना चाहूंगी कि बेटियों को सपोर्ट करें, उनको आगे जाने दें.वह बहुत कुछ कर सकती हैं. वह चारदिवारी के लिए नहीं, आसमान में उड़ने के लिए बनी हैं. परिजन जितेंद्र सिंह गौतम ने बताया कि खेलकूद प्रतियोगिता में बेटियों ने पदक जीता है. इसमें नारी शक्ति में बहुत बड़ा योगदान किया है. यह हम लोगों की गर्व की बात है.

यह भी पढ़ें : गर्भवती महिलाओं ने पकड़ी मायके की राह, लड़कों के रिश्ते आने हुए कम, जानिए क्यों...

यह भी पढ़ें : फर्रुखाबाद का केंद्रीय कारागार बनेगा ओपन जेल, हो रहा विचार, बंदियों को मिलेगी आजादी

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.