कार्यकर्ताओं को संबोधित करने के दौरान भावुक हुए खिलाड़ी लाल बैरवा, मंच पर फूट-फूटकर रोए

author img

By ETV Bharat Rajasthan Desk

Published : Nov 5, 2023, 7:47 PM IST

Rajasthan assembly Election 2023

Rajasthan assembly Election 2023, टिकट कटने के बाद बाड़ी के निजी गार्डन में रविवार को खिलाड़ी लाल बैरवा अपने समर्थकों के साथ बैठक किए. वहीं, कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए बैरवा भावुक हो गए और मंच पर फूट-फूट कर रोने लगे.

मंच पर भावुक हुए खिलाड़ी लाल बैरवा

धौलपुर. बसेड़ी विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेसी विधायक खिलाड़ी लाल बैरवा का टिकट कटने के बाद बाड़ी के निजी गार्डन में रविवार को उन्होंने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. इस दौरान वो भावुक नजर आए और एकाएक मंच पर फूट-फूट कर रोने लगे. वहीं, कार्यकर्ताओं से बैरवा ने कहा कि आप ने पार्टी से भी अधिक प्रेम दिया है. ऐसे में मैं क्षेत्र की जनता को पीठ दिखाकर नहीं जाऊंगा. कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए विधायक ने कहा जितना आप लोगों ने मुझे दिया है, वो पार्टी से भी अधिक है.

भावुक होते हुए उन्होंने कहा कि जीवन में कभी नहीं सोचा था कि ऐसा दिन भी देखने को मिलेगा. उन्होंने कहा कि आप लोगों ने मुझे एमएलए और एमपी बनाया है. उन्होंने कहा कि टिकट कट गया तो भी कोई बात नहीं है, लेकिन विधानसभा क्षेत्र के लोगों की भावना मुझे खींच लाई है. उन्होंने कहा कि मैं विधानसभा क्षेत्र की जनता को पीठ दिखाकर नहीं भाग सकता हूं. मैं हमेशा यहां की जनता के साथ खड़ा रहूंगा.

इसे भी पढ़ें - कल जोधपुर में मल्लिकार्जुन खड़गे की जनसभा, सीएम गहलोत बोले- ईडी के जरिए विपक्षी पार्टियों को डरावा रही भाजपा

कांग्रेस के दोनों ब्लॉक अध्यक्ष बोले, हम बैरवा के साथ खड़े हैं : बसेड़ी और सरमथुरा के दोनों ब्लॉक अध्यक्षों ने कांग्रेस पार्टी से हटकर खिलाड़ी लाल बैरवा के साथ खड़े होने की बात कही. सरमथुरा ब्लॉक अध्यक्ष रामभरोस मीणा और बसेड़ी ब्लॉक अध्यक्ष राम खिलाड़ी शर्मा ने कहा कि पार्टी ने टिकट गलत हाथों में दिया है. उन्होंने कहा कि हम विधायक खिलाड़ी लाल बैरवा के साथ खड़े हैं. अगर हम खिलाड़ी लाल को निर्दलीय चुनाव लड़ते हैं तो हम उनका साथ देंगे.

संजय जाटव को दिया टिकट : कांग्रेस पार्टी ने बसेड़ी विधानसभा क्षेत्र से वर्तमान विधायक और एससी आयोग के अध्यक्ष खिलाड़ी लाल बैरवा का टिकट काटकर 2019 में लोकसभा प्रत्याशी रहे संजय जाटव पर भरोसा जताया है. गौरतलब है कि 2020 में पार्टी में आए सियासी भूचाल के दौरान खिलाड़ी लाल बैरवा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ खड़े रहे थे. तत्कालीन समय पर मानेसर की घटना सुर्खियों में रही थी. सियासी भूचाल शांत होने के बाद खिलाड़ी लाल बैरवा सचिन पायलट गुट में शामिल हो गए थे. बैरवा ने कई बार मुखर होकर सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाने की मुखालफत भी की थी. राजनीतिक जानकारों की मानें तो खिलाड़ी लाल बैरवा का टिकट गुटबाजी की वजह से काटा है.

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.