Gwalior Food Poisoning: देश की प्रतिष्ठित खेल संस्थान LNIPE में फूड पॉइजनिंग से 100 से ज्यादा बच्चे बीमार, एक दर्जन छात्र गंभीर

author img

By ETV Bharat Madhya Pradesh Desk

Published : Oct 4, 2023, 9:18 AM IST

Updated : Oct 4, 2023, 10:35 AM IST

Gwalior Food Poisoning

देश के प्रतिष्ठित खेल संस्थान LNCPE में 100 से ज्यादा बच्चे बीमार फूड पॉइजनिंग का शिकार हो गए. बच्चों ने डिनर में पनीर की सब्जी खाई थी. जिसे खाने के बाद सबकी तबीयत बिगड़ने लगी. सभी बच्चों को इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया है. जहां एक दर्जन से अधिक छात्रों की हालात गंभीर बताई जा रही है.

फूड पॉइजनिंग से 100 से ज्यादा बच्चे बीमार

ग्वालियर। देश के प्रतिष्ठित खेल संस्थान लक्ष्मीबाई नेशनल कॉलेज ऑफ फिजिकल (LNIPE) में फूड पॉइजनिंग से 100 से ज्यादा बच्चे बीमार हो गये हैं. बताया गया है कि रात 11 बजे स्टूडेंट्स को उल्टी और पेट दर्द की शिकायत शुरू हुई, इसके बाद उनकी हालत बिगड़ने लगी. एक के बाद एक स्टूडेंट की तबीयत बिगड़ने से कॉलेज परिसर में हड़कंप मच गया. इसकी सूचना पाकर कॉलेज के वाइस चांसलर और हॉस्टल वार्डन मौके पर पहुंचे और अन्य कर्मचारियों की मदद से बीमार छात्रों को हॉस्पिटल भेजना शुरू किया. देर रात तक लगभग सौ से ज्यादा फूड पॉइजनिंग के शिकार हुए स्टूडेंट अस्पताल में भर्ती कराई जा चुके हैं, इनमें अनेक छात्राएं भी शामिल हैं. वहीं एक दर्जन छात्रों की हालत गंभीर बताई जा रही है.

Gwalior Food Poisoning
लक्ष्मीबाई नेशनल कॉलेज ऑफ फिजिकल संस्थान

मटर पनीर खाकर छात्र बीमार: बताया गया है की मैस में रात डिनर में मटर पनीर की सब्जी बनी थी और ऐसी आशंका व्यक्त की जा रही है कि यहां खराब पनीर खाने के कारण ही स्टूडेंट बीमार हुए हैं. प्रबंधन के अनुसार 100 बच्चों को उपचार के लिए भर्ती किया है. शारीरिक शिक्षा में देश में खास पहचान रखने वाले संस्थान लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षण संस्थान में बच्चों में बेचैनी और उल्टी के लक्षण दिखाई देने लगे थे. संस्थान में बने हेल्थ सेंटर में उनका उपचार कराया, लेकिन हॉस्टल में रहने वाले छात्रों की हालत और बिगड़ गई.

Gwalior Food Poisoning
अस्पताल में बीमार बड़े छात्र

लड़कियां दर्द से कराहती दिखीं: उसके बाद सभी को अस्पताल में भर्ती कराने के सिलसिला शुरू हुआ. रात में नजारा बहुत ही भयावह था. लड़कियां दर्द से कराह रही थीं, तो कुछ रोते हुए अपने परिजनों को याद कर र​हे थे. इस बीच उनके साथियों ने उनका साहस बढ़ाते हुए अस्पताल में दूसरी मंजिल तक स्ट्रेचर से पहुंचाया. जबकि कुछ बच्चे अपने उपचार के लिए लाइन में लगे थे. इसके बाद डॉक्टरों ने बिना रुके उन्हें प्राथमिक उपचार देना शुरू कर दिया.

Also Read:

जिम्मेदारों पर होगी कार्रवाई: हालांकि LNIPE के अधिकारी अभी इस मामले में कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं. उनका कहना है कि ''अभी सारा ध्यान बच्चों के स्वास्थ्य पर केंद्रित है और उनके इलाज का पूरा ध्यान दिया जा रहा है. बच्चों का स्वास्थ्य ठीक होने के बाद इस बात की जांच की जाएगी की फूड पॉइजनिंग आखिर हुई क्यों.'' एलएनआईपीई के रजिस्ट्रार अमित यादव ने बताया है कि ''रात को हालत बिगड़ने पर अस्पताल में 100 बच्चों को भर्ती कराया है, फूड के सैंपल लिए जाएंगे. जिम्मेदारों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी.''

Last Updated :Oct 4, 2023, 10:35 AM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.