पीटीआर में मवेशियों का शिकार करने वाला बाघ है वयस्क, नक्सलियों के इलाके को बनाया अपना ठिकाना

author img

By ETV Bharat Jharkhand Team

Published : Nov 3, 2023, 9:07 PM IST

Tiger hunting cattle in Palamu

पीटीआर में बाघ दिखने के बाद यहां का प्रबंधन काफी खुश है. इस बाघ की उम्र करीब 10 से 12 साल बताई जा रही है और इसने पीटीआर के उत्तरी हिस्से को अपना ठिकाना बनाया है, जो कभी नक्सलियों का इलाका हुआ करता था.

पलामू: पिछले दिनों पलामू टाइगर रिजर्व में जिस बाघ ने मवेशियों का शिकार किया है वह वयस्क है. उनकी उम्र करीब 10 से 12 वर्ष है. नेशनल वाइल्ड लाइफ इंस्टिट्यूट की रिपोर्ट के बाद यह पता चल पाएगा कि बाघ की वास्तविक उम्र क्या है. दरसल पीटीआर के उत्तरी क्षेत्र में कई महीनों के बाघ एक बाघ देखा गया है, बाघ मवेशियों का शिकार कर रहा है. जिस इलाके में बाघ मौजूद है उस इलाके में पीटीआर के अधिकारी कैंप कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें: Tiger seen in PTR: पीटीआर में आया बाघ कहां का? हो रही जांच, इलाके में तीन टीम तैनात

पीटीआर के कर्मी बाघ के पदचिन्ह के आधार पर उसकी निगरानी कर रहे हैं और उसके ट्रेस किया जा रहा है. यह बाघ नर है और वयस्क है. पीटीआर के निदेशक कुमार आशुतोष बताते है कि बाघ को लेकर हाई अलर्ट जारी किया गया है. उन्होंने कहा कि बाघ पुराना है या इलाके में नया दाखिल हुआ है, यह वाइल्ड लाइफ इंस्टिट्यूट के रिपोर्ट के आधार पर ही पता चल पाएगा. फिलहाल उसके बाल समेत कई सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं. बाघ ने अभी तक कई मवेशियों का शिकार किया है.

नक्सलियों के इलाके को बाघ ने बनाया अपना ठिकाना: बाघ ने पलामू टाइगर रिजर्व के उत्तरी हिस्से को अपना ठिकाना बनाया है. यह इलाका कई दशकों तक नक्सलियों के कब्जे में था. नक्सलियों के कमजोर होने के बाद पहली बार इलाके में बाघ देखे जा रहे हैं. यह इलाका झारखंड के पलामू टाइगर रिजर्व और एमपी के बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व का हिस्सा है.

पीटीआर करीब 1129 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है. इससे पहले मार्च अप्रैल के महीने में पीटीआर में बाघ देखा गया था, उसके छह महीने बाद बाघ देखा गया है. पीटीआर प्रबंधन बाघों की संख्या बढ़ाने को लेकर लगातार कदम उठा रहा है.

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.