भारतीय मूल के मीडिया दिग्गज डॉ. समीर शाह बीबीसी के नए अध्यक्ष पद के पसंदीदा उम्मीदवार बने

author img

By PTI

Published : Dec 7, 2023, 12:05 PM IST

Etv Bharat

जानकारी के मुताबिक औपचारिक रूप से शाह की नियुक्ति से पहले 'हाउस ऑफ कॉमन' मीडिया कचलर, 'मीडिया और स्पोर्ट्स सिलेक्ट कमेटी' के 'क्रॉस-पार्टी' (सर्वदलीय संसदीय समूह, जो आधिकारिक रूप से संसद का हिस्सा नहीं है) के सांसद उनसे बातचीत करेंगे और आवश्यक सवाल पूछेंगे.

लंदन : टीवी प्रोडक्शन और पत्रकारिता में 40 वर्षों से अधिक का अनुभव रखने वाले, भारतीय मूल के मीडिया दिग्गज डॉ. समीर शाह ब्रिटिश ब्रॉडकास्ट कॉरपोरेशन (बीबीसी) के नए अध्यक्ष पद के लिए ब्रिटेन सरकार के सबसे पसंदीदा उम्मीदवार हैं. 71 वर्षीय शाह रिचर्ड शार्प की जगह लेंगे. पूर्व प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के साथ बातचीत लीक होने और मामले में जांच बैठाये जाने के बाद रिचर्ड को इस्तीफा देना पड़ा था.

ब्रिटेन की संस्कृति मंत्री लूसी फ्रेजर ने नियुक्ति प्रक्रिया के तहत चयन की पुष्टि करते हुए बुधवार को कहा कि टीवी प्रोडक्शन और पत्रकारिता में 40 साल से अधिक का अनुभव रखने वाले डॉ. शाह बीबीसी अध्यक्ष के पद के लिए पर्याप्त योग्यता रखते हैं.

उन्होंने कहा कि तेजी से बदलते मीडिया परिदृश्य में बीबीसी को सफल बनाने के लिए उनकी (शाह) महत्वाकांक्षा बिल्कुल स्पष्ट है. इसमें कोई संदेह नहीं है कि वह बीबीसी को भविष्य की चुनौतियों से उबारने में अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान देंगे. शाह ने कहा कि इसमें कोई दो राय नहीं कि बीबीसी वैश्विक संस्कृति में हमारे सबसे अहम योगदानों में से एक है.

उन्होंने कहा कि मैं अगर अपने कौशल, अनुभव और सार्वजनिक सेवा प्रसारण की समझ के दम पर इस संगठन को आने वाली विविध चुनौतियों के लिए तैयार कर पाया तो यह मेरे लिए सम्मान की बात होगी. औरंगाबाद में जन्मे शाह 1960 में इंग्लैंड आए और इससे पहले बीबीसी में सामयिकी और राजनीतिक कार्यक्रमों के प्रमुख के रूप में काम किया. बीबीसी के एक प्रवक्ता ने कहा कि हम इस घोषणा का स्वागत करते हैं कि समीर शाह को बीबीसी अध्यक्ष की भूमिका निभाने के लिए सरकार के पसंदीदा उम्मीदवार के रूप में चुना गया है. औपचारिक प्रक्रिया पूरी होने के बाद बोर्ड में उनके शामिल होने की उम्मीद है.

शाह के चयन को बड़े बदलाव के तौर पर देखा जा रहा है, क्योंकि अब बीबीसी में शीर्ष पर एक पत्रकार होगा. बीबीसी स्वतंत्र संस्था है, लेकिन इसके अध्यक्ष की नियुक्ति सरकार की ओर से की जाती है. उनकी नियुक्ति ऐसे समय में महत्वपूर्ण मानी जा रही है जब बीबीसी आर्थिक संकट से गुजर रहा है. बीबीसी का लक्ष्य बढ़ती महंगाई और टीवी लाइसेंस की लागत पर दो साल की रोक के बीच, 50.0 करोड पाउंड की बचत करना है. शाह को लाइसेंस शुल्क को लेकर सरकार के साथ बातचीत करने का भी काम सौंपा जाएगा.

पढ़ें : Success Story of Riya Philip: नक्सलगढ़ की बेटी ने लंदन में हासिल की नौकरी, सपना पूरा करने ड्राइवर पिता ने घर रख दिया गिरवी
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.