चंडीगढ़ में पेट्रोल-डीजल के लिए तरस रहे लोग,पंपों के बाहर लाइनें, तय की गई फ्यूल भरवाने की सीमा

author img

By ETV Bharat Haryana Desk

Published : Jan 2, 2024, 7:26 PM IST

Updated : Jan 2, 2024, 9:58 PM IST

Truck Drivers Protest Update Chandigarh New Hit and Run Protest Petrol Pump Running Dry

Truck Drivers Protest Update : चंडीगढ़ में ट्रांसपोर्टरों की हड़ताल का खासा असर देखने को मिल रहा है. लोग फ्यूल डलवाने के लिए पेट्रोल पंपों के बाहर लाइनों में खड़े नज़र आ रहे हैं. वहीं कई जगहों पर पेट्रोल पंप पूरी तरह से सूख चुके हैं और उन्हें बंद करना पड़ा है. इस बीच पेट्रोल-डीजल की कमी को देखते हुए चंडीगढ़ प्रशासन ने गाड़ी में पेट्रोल-डीजल भरवाने की सीमा तय कर दी है.

चंडीगढ़ में पेट्रोल-डीजल के लिए तरस रहे लोग,पंपों के बाहर लाइनें, तय की गई फ्यूल भरवाने की सीमा

चंडीगढ़ : ट्रांसपोर्टरों की हड़ताल का चंडीगढ़ में ख़ासा असर देखने को मिल रहा है. चंडीगढ़ के कई इलाकों में पेट्रोल-डीजल के पंप बंद देखने को मिल रहे हैं. कई जगहों पर तेल न होने के चलते पंप के बाहर बकायदा बंद होने के पोस्टर तक लगा दिए गए हैं. वहीं फ्यूल की कमी को देखते हुए फ्यूल डलवाने की सीमा भी फिक्स कर दी गई है. वहीं नई दिल्ली में केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने कहा कि अखिल भारतीय परिवहन कांग्रेस के प्रतिनिधियों से चर्चा की गई है और सरकार ये बताना चाहती है कि नए कानून और प्रावधान अभी लागू नहीं हुए हैं.

पेट्रोल पंप बंद : पेट्रोल पंप के मालिकों ने ईटीवी भारत को बताया कि हड़ताल के चलते पेट्रोल पंप पर तेल बिल्कुल भी नहीं है और सप्लाई ठप पड़ी है. हालात ये हैं कि ऐसे में उन्हें पेट्रोल पंप बंद करना पड़ रहा है. चंडीगढ़ के सेक्टर 4 में भी पेट्रोल पंप पर भी फ्यूल खत्म हो चुका है. वहीं सेक्टर 43 में मौजूद पेट्रोल पंप में अभी भी कुछ तेल बचा है जिसके चलते लोग डीजल और पेट्रोल अपने वाहनों में फुल करवा रहे हैं.

पंचकूला, मोहाली जा रहे लोग : नए हिट एंड रन कानून के विरोध में हड़ताल के बाद ही लोगों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. सुबह से ही चंडीगढ़ में सभी पेट्रोल पंप्स के बाहर लाइन देखने को मिली. पेट्रोल पंप पर मौजूद कर्मचारियों ने बताया कि तेल जब तक है तब तक वे सप्लाई कर रहे हैं. आगे क्या होगा, नहीं जानते. एक आंकड़े के मुताबिक चंडीगढ़ के करीब 80 प्रतिशत पेट्रोल पंप ड्राई हो चुके हैं. वहीं इसका असर पंचकूला-मोहाली के पेट्रोल पंपों पर देखने को मिल रहा है जहां हजारों की तादाद में लोग पंचकूला और मोहाली के पेट्रोल पंप पर गाड़ियों में तेल डलवाने के लिए पहुंच रहे हैं. शहर के सभी मेन रोड्स और बाकी सड़कों को छोड़कर सबसे ज्यादा ट्रैफिक जाम पेट्रोल पंपों के आसपास की सड़कों पर ही देखने को मिल रहा है जहां गाड़ियों की लगभग एक-एक किलोमीटर लंबी लाइन लगी हुई है.

फ्यूल के लिए लंबी लाइनें : पंचकूला और मोहाली के पेट्रोल पंपों पर जिस तरह से लोगों की भीड़ उमड़ रही है, उसे देखते हुए पेट्रोल पंप के कर्मचारियों का कहना है कि उनका स्टॉक भी कभी भी खत्म हो सकता है. वहीं पेट्रोल भरवाने के लिए लोगों को करीब एक से दो घंटे का इंतजार करना पड़ रहा है.पेट्रोल पंप पहुंचने वाले लोगों में हड़ताल के लंबा चलने का डर है जिसके चलते वे अपनी गाड़ी के पेट्रोल और डीजल टैंक को फुल करवा रहे हैं. पेट्रोल पंपों पर भारी भीड़ होने के चलते लोगों में टकराव की स्थिति भी देखी जा रही है.

फ्यूल डलवाने की सीमा तय : वहीं ट्रक चालकों की हड़ताल के चलते पेट्रोल-डीजल की सप्लाई पर असर को देखते हुए चंडीगढ़ प्रशासन ने एक बड़ा फैसला लिया है. अब दो पहिया वाहन में 2 लीटर और चार पहिया वाहन में सिर्फ 5 लीटर पेट्रोल ही डलवाया जा सकेगा. चंडीगढ़ प्रशासन ने पेट्रोल पंप मालिकों को नए नियम फॉलो करने के लिए कहा है. साथ ही लोगों से अपील भी की गई है कि वे इसमें प्रशासन को सहयोग करें.साफ है कि ट्रक ड्राइवरों की हड़ताल से हालात चिंताजनक बन गए हैं और आम आदमी को परेशानियां झेलनी पड़ रही है. अगर जल्द ही समाधान नहीं निकाला गया तो हालात और भी ज्यादा बिगड़ सकते हैं.

नया हिट एंड रन कानून लागू नहीं : वहीं इस बीच नई दिल्ली में केंद्रीय गृह सचिव की अध्यक्षता में AIMTC के साथ बैठक हुई जिसके बाद सरकार की ओर से कहा गया है कि कानून लागू करने से पहले बात होगी. अखिल भारतीय परिवहन कांग्रेस की बैठक पर केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने कहा कि अखिल भारतीय परिवहन कांग्रेस के प्रतिनिधियों से चर्चा की गई है और सरकार ये बताना चाहती है कि नए कानून और प्रावधान अभी लागू नहीं हुए हैं. साथ ही ये भी कहना चाहते हैं कि भारतीय न्याय संहिता की धारा 106(2) लागू करने से पहले अखिल भारतीय परिवहन कांग्रेस से विचार विमर्श करने के बाद ही फाइनल फैसला लिया जाएगा.

  • #WATCH दिल्ली: अखिल भारतीय परिवहन कांग्रेस की बैठक पर केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने कहा, "हमने आज अखिल भारतीय परिवहन कांग्रेस के प्रतिनिधियों से चर्चा की। सरकार ये बताना चाहती है कि नए कानून एवं प्रावधान अभी लागू नहीं हुए हैं, हम ये भी कहना चाहते हैं कि भारतीय न्याय संहिता की… pic.twitter.com/AOZ4VkyRwy

    — ANI_HindiNews (@AHindinews) January 2, 2024 " class="align-text-top noRightClick twitterSection" data=" ">

ये भी पढ़ें : ट्रकों की हड़ताल जारी रही तो आम लोगों के बजट पर पड़ेगा असर

Last Updated :Jan 2, 2024, 9:58 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.