मुलायम सिंह यादव चाहते थे 'इंडिया' का नाम 'भारत' हो, 2004 में विधानसभा में पास कराया था प्रस्ताव

author img

By ETV Bharat Hindi Team

Published : Sep 6, 2023, 7:50 PM IST

Etv Bharat

जी-20 से पहले इंडिया नाम बदलने को लेकर घमासान जारी है. वहीं करीब 20 साल पहले समाजवादी पार्टी के संस्थापक पूर्व मुख्यमंत्री स्व. मुलायम सिंह यादव ने देश का नाम बदले जाने को लेकर उत्तर प्रदेश विधानसभा में 3 अगस्त 2004 को एक प्रस्ताव पास कराया था. समाजवादी पार्टी ने साल 2004 में हुए चुनाव के दौरान अपने चुनावी घोषणा पत्र में भी इसका जिक्र किया था.

देखें पूरी खबर

लखनऊ : पूरे देश में 'इंडिया' का नाम 'भारत' किए जाने की बहस छिड़ी हुई है. जी-20 के आयोजन में शामिल होने वाले अतिथियों को भेजे गए आमंत्रण पत्र में इंडिया की जगह भारत लिखे जाने को लेकर 'इंडिया' गठबंधन से जुड़े राजनीतिक दलों ने विरोध करना शुरू कर दिया है. समाजवादी पार्टी ने भी 'इंडिया' गठबंधन से घबराकर भारतीय जनता पार्टी पर इस तरह की राजनीति करने का आरोप लगाया है.

सपा प्रवक्ता ने दी जानकारी
सपा प्रवक्ता ने दी जानकारी


इसी बीच समाजवादी पार्टी के संस्थापक पूर्व मुख्यमंत्री स्व. मुलायम सिंह यादव द्वारा उत्तर प्रदेश विधानसभा में साल 2004 में इंडिया की जगह भारत नाम किए जाने के पारित प्रस्ताव की चर्चा तेज हो गई है. इसके साथ ही मुलायम सिंह यादव ने 2004 के लोकसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी के घोषणा पत्र में भी इंडिया का नाम भारत किए जाने का बड़ा वादा भी किया था. पिछले दो दिनों से इंडिया का नाम भारत किये जाने की चर्चा जोर-जोर से देश भर में हो रही है. 'इंडिया' गठबंधन से जुड़े राजनीतिक दलों की तरफ से इस पर भारतीय जनता पार्टी पर नाम बदलने की राजनीति करने के भी आरोप लगाए जा रहे हैं. इस बीच 'इंडिया' गठबंधन में शामिल समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव द्वारा इंडिया की जगह भारत नाम करने की बड़ी पहल साल 2004 में शुरू की गई थी. 2004 में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे मुलायम सिंह यादव ने उत्तर प्रदेश विधानसभा में 3 अगस्त 2004 को एक प्रस्ताव पास कराया था, जिसमें उन्होंने विधानसभा सदन में कहा था कि 'मैं कहना चाहता हूं कि जहां लिखा है संविधान में 'इंडिया इज भारत' वहां 'भारत इज इंडिया' लिख दिया जाना चाहिए. मैं संसदीय कार्य मंत्री से कहूंगा कि वह प्रस्ताव यहां ले आएं. विधानसभा में इसे पास कराकर और उसको संसद में भी भेजा जाए. मैं इसका प्रस्ताव करता हूं.'

प्रस्ताव
प्रस्ताव

उन्होंने आगे अपने संबोधन में कहा था कि 'हम प्रस्ताव करते हैं कि यह संशोधन कर दिया जाए. संविधान में जहां पर लिखा है 'इंडिया इज भारत' वहां पर 'भारत इज इंडिया' लिख दिया जाए.' मुलायम सिंह यादव के इस प्रस्ताव को विधानसभा सदन ने 3 अगस्त 2004 को पास कर दिया था. इस दौरान भाजपा के नेता हुकुम सिंह ने सदन में इसका विरोध किया था और सदन से वॉक आउट कर गए थे. इसके बाद मुलायम सिंह यादव ने कहा कि 'वह इस प्रस्ताव को केंद्र सरकार में संविधान संशोधन के लिए भेजेंगे.' इसके साथ ही समाजवादी पार्टी के उस समय के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने 2004 के लोकसभा चुनाव के दौरान भी समाजवादी पार्टी के घोषणा पत्र में इंडिया की जगह देश का नाम भारत रखे जाने का बड़ा वादा किया था. उस समय भारतीय जनता पार्टी ने इसका जमकर विरोध किया था और सदन की कार्यवाही के दौरान वॉकआउट भी किया था. समाजवादी पार्टी ने अपने घोषणा पत्र में कहा था कि इंडिया को भारत बनना चाहिए. हमारे देश को हमेशा भारत के नाम से जाना जाता था, हालांकि ब्रिटिश शासन के 200 वर्षों के दौरान इसका नाम इंडिया रखा गया था, जिसे बदलकर भारत किए जाने की आवश्यकता है और समाजवादी पार्टी अगर सत्ता में आती है तो इसका नाम इंडिया की जगह भारत करने का काम करेगी.


इस मामले पर समाजवादी पार्टी ने अब कहा है कि 'भाजपा उस समय विरोध कर रही थी आज 'इंडिया' गठबंधन से डरकर इस प्रकार की राजनीति कर रही है. समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता फखरुल हसन चांद कहते हैं कि राष्ट्र, सेना और भाषा के लिए जितना काम समाजवादी पार्टी ने किया और मुलायम सिंह यादव ने किया, किसी भी अन्य राजनीतिक दल ने उतना काम नहीं किया. 3 अगस्त 2004 को उत्तर प्रदेश की विधानसभा में तत्कालीन मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने इस प्रस्ताव को पास करने का काम किया था कि इंडिया का नाम भारत होना चाहिए. तब भारतीय जनता पार्टी ने सदन में इस प्रस्ताव का विरोध किया था. उस समय मुलायम सिंह यादव अटल बिहारी बाजपेई से भी मिले थे, जिन्होंने 'इंडिया शाइनिंग' का नारा भी दिया था, लेकिन उन्होंने भी इस प्रस्ताव को मानने से इनकार कर दिया था और आज जब देश भर के विपक्षी दलों ने अपने गठबंधन का नाम 'इंडिया' रखा है तो भारतीय जनता पार्टी को दिक्कत हो रही है. संस्कृति और राष्ट्र की दुहाई देने भारतीय जनता पार्टी का असली चेहरा देश की जनता देख रही है.'

यह भी पढ़ें : देश के नाम के साथ छेड़छाड़ करने का मौका NDA को इंडिया गठबंधन ने ही दिया : मायावती

यह भी पढ़ें : Cost Of Name Change : 'इंडिया' से 'भारत' नाम बदलने पर देश को चुकानी पड़ेगी बड़ी कीमत, यहां जानें पूरा गणित

यह भी पढ़ें : PM Modi Advice To Ministers : पीएम मोदी की मंत्रियों को सलाह, भारत बनाम इंडिया पर बोलने से बचें और सनातन धर्म पर सख्ती से जवाब दें

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.