शिवराज ने पूछा 'बताएं वल्लभ भवन में कौन दलाली खाता था', कमलनाथ बोले 'दलाली-वलाली आप मुझसे बेहतर समझते हो'

author img

By

Published : Oct 3, 2021, 7:49 PM IST

शिवराज

मध्य प्रदेश में इन दिनों रेस लगानी की राजनीति चल रही है. पूर्व सीएम कमलनाथ के विवाद पर अब शिवराज सिंह चौहान ने पलटवार किया है. शिवराज सिंह ने कहा कि 'मैं रेस लगाने का पाप नहीं करुंगा, मैं दुश्मन नहीं हूं.'

भोपाल : पूर्व सीएम कमलनाथ के रेस लगाने वाले बयान पर अब सीएम शिवराज सिंह चौहान ने पलटवार किया है. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि 'मैंने कभी कमलनाथ को बीमार नहीं कहा. वो बोल रहे हैं कि शिवराज मेरे साथ रेस कर लो. मैं रेस करने का पाप कभी नहीं करुंगा. मैं दुश्मन नहीं हूं.'

शिवराज का कमलनाथ पर पलटवार.

'कमलनाथ बताएं की वल्लभ भवन में कौन दलाली खाता था'

सीएम शिवराज ने कहा कि 'कमलनाथ अपना घर देखते नहीं हैं. आप बिकाऊ की बात करते हो, वल्लभ भवन में कौन-कौन दलाली खाता था यह तो बता दो पहले. शर्म नहीं आती है यह कहते हुए. लोगों का सम्मान करना जानते नहीं है. दिल्ली से लेकर भोपाल तक यही हाल है कांग्रेस का. राहुल बाबा उजाड़ने में लगे हुए हैं. अच्छी खासी चलती पंजाब सरकार का कबाड़ा कर दिया. और हमें दोष दे रहे हो. छत्तीसगढ़ वाले दिल्ली में जाकर गदर मचा रहे हैं.'

  • शिवराज जी , ये दलाली- वलाली के बारे में तो आप मुझसे बेहतर समझते हो।

    यह मेरे जैसे बेदाग़ राजनीतिक व्यक्ति का विषय नही है।

    पूरा देश गवाह है कि मेरा इतने वर्षों का राजनैतिक जीवन पूर्ण बेदाग़ रहा है।

    — Kamal Nath (@OfficeOfKNath) October 3, 2021 " class="align-text-top noRightClick twitterSection" data=" ">

'दलाली-वलाली आप मुझसे बेहतर समझते हो'

इधर सीएम शिवराज के बयान पर कमलनाथ ने ट्वीट कर अपना जवाब दिया है. कमलनाथ ने अपने ट्वीट में लिखा कि 'शिवराज जी , ये दलाली-वलाली के बारे में तो आप मुझसे बेहतर समझते हो. यह मेरे जैसे बेदाग राजनीतिक व्यक्ति का विषय नहीं है. पूरा देश गवाह है कि मेरा इतने वर्षों का राजनैतिक जीवन पूर्ण बेदाग रहा है. मेरे साथ कभी भी ना डंपर, ना व्यापमं, ना सिंहस्थ, ना फर्जी पौधारोपण, ना नर्मदा सेवा यात्रा के फर्जीवाड़े, ना ई टेंडर घोटाले जैसे दाग कभी भी जुड़े है. वल्लभ भवन की स्थिति तो आपने खुद ही अभी कुछ दिन पूर्व बयां की थी कि आपको वहां बैठाकर कितना आनंद दिखाया जाता है.'

  • उसे दलाली का अड्डा किसने बनाया , यह तो आपकी मात्र 18 माह की सरकार के रिकोर्ड तबादला उद्योग से ही सभी को दिखाई दे रहा है , यह तबादला उद्योग तो कोरोना काल में भी बदस्तूर जारी रहा और आज तक जारी है।

    — Kamal Nath (@OfficeOfKNath) October 3, 2021 " class="align-text-top noRightClick twitterSection" data=" ">

'मेरा इतने वर्षों का राजनैतिक जीवन पूर्ण बेदाग रहा है'

कमलनाथ ने अपने अगले ट्वीट में लिखा है कि "उसे दलाली का अड्डा किसने बनाया, यह तो आपकी मात्र 18 माह की सरकार के रिकार्ड तबादला उद्योग से ही सभी को दिखाई दे रहा है, यह तबादला उद्योग तो कोरोना काल में भी बदस्तूर जारी रहा और आज तक जारी है."

कमलनाथ ने कही थी रेस लगाने की बात.

कमलनाथ ने कही थी रेस लगाने की बात

बता दें कि भोपाल में गांधी जयंती के मौके पर कमलनाथ ने बीजेपी और शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधा था. कमलनाथ ने कहा था कि 'बीजेपी बार-बार कहती है कि वह बूढ़े हो गए हैं और बीमार हैं. लेकिन मैं बीमार नहीं, शिवराज चाहे तुम मुझसे रेस कर सकते हो. मुझे निमोनिया हुआ था, कोविड था, ऐसे में इलाज चल रहा था, अब मैं ठीक हूं. शिवराज चाहे तो रेस लगा लें.'

कांग्रेस ने किया आदिवासियों का अपमान

कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आने वाली जोबट की नेता सुलोचना रावत को बिकाऊ कहने के कांग्रेस के बयान पर बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने भी निशाना साधा. वीडी शर्मा ने कहा कि 'दिनभर अपने क्षेत्र में रहकर लोगों के लिए काम करने वाले सुलोचना रावत जैसी नेता के बीजेपी में आने पर कांग्रेस उन्हें बिकाऊ कह रही है, यह सभी आदिवासियों का अपमान है.'

ये भी पढ़ें - बीजेपी ने कमलनाथ को बताया था बूढ़ा, कमलनाथ बोले 'शिवराज से लगवा लो रेस, पता चल जाएगा'

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.