भीषण ठंड की वजह से अस्पतालों में बढ़ी मरीजों की संख्या, बुजुर्गों को हार्ट अटैक से बचने की हिदायत

author img

By ETV Bharat Bihar Team

Published : Jan 4, 2024, 7:00 AM IST

Updated : Jan 4, 2024, 7:18 AM IST

भीषण ठंड

Cold In Bagaha : दिसंबर के आखिरी हफ्ते से शुरु हुई ठंड अब जनवरी में अपने शबाब पर है. सर्दी के कारण लोगों का जनजीवन अस्त व्यस्त है, साथ ही लोग बीमार भी पड़ने लगे हैं. ऐसे में बिहार के बगहा में अस्पतालों में मरीजों की संख्या में दोगुनी हो गई है.

भीषण ठंड की वजह से अस्पतालों में बढ़ी मरीजों की संख्या

बगहाः बिहार के बगहा में कुहासे और पछुआ हवा के कारण ठंड बढ़ गई है. यहां न्यूनतम तापमान तेजी से कम हुआ है. लिहाजा अस्पतालों में मरीजों की संख्या में दोगुनी हो गई है. सर्दी, बुखार और दस्त से पीड़ित मरीज ज्यादा आ रहे हैं. लिहाजा डॉक्टरों ने ठंड से बचने की सलाह दी है.


अस्पतालों में बढ़ी मरीजों की संख्याः भीषण ठंड के कारण बगहा के अनुमंडल अस्पताल में मरीजों की संख्या काफी बढ़ गई है. अन्य अस्पतालों में भी मरीजों की लंबी लाइन लग रही है. डॉक्टर विजय कुमार ने बताया की ठंड बढ़ने के साथ हीं मरीजों की संख्या भी बढ़ी है. इलाज के लिए पहुंच रहे मरीजों के लिए अस्पताल में कंबल की समुचित व्यवस्था है. लोगों को हिदायत दी जा रही है की इस भीषण ठंड में सावधानी बरतें.

अस्पतालों में मरीज
अस्पतालों में मरीज

"अधेड़ उम्र के लोगों को कार्डिएक अटैक यानी हार्ट अटैक की संभावना ज्यादा रहती है, सुबह थोड़ी देर से उठें खुद को ठंड से बचाने के लिए प्रयासरत रहें. ठंड के अलावा कोरोना के भी मामले बढ़ रहे हैं. इसलीए घर से बाहर निकलते समय गर्म व ऊनी कपड़ों के साथ मास्क का भी उपयोग करें"- डॉक्टर विजय कुमार, सर्जन

बच्चों को ठंड से बचाने की सलाहः बता दें कि भीषण शीतलहर के बावजूद नन्हे मुन्ने बच्चों को स्कूल जाना पड़ रहा है. ऐसे में चाइल्ड स्पेशलिस्ट चिकित्सक डॉक्टर एस के अग्रवाल ने सलाह देते हुए कहा है कि बच्चों में सर्दी, बुखार और दस्त की समस्या बढ़ी है. लिहाजा उन्हें गर्म कपड़ों में रखें और ठंडी से बचाने की कारगर व्यवस्था रखें. साथ ही जब धूप हो तो बच्चों को धूप में बैठाएं.

सर्दी के कारण जनजीवन अस्त व्यस्त
सर्दी के कारण जनजीवन अस्त व्यस्त

तापमान में होगी और ज्यादा गिरावटः इधर मौसम विभाग ने उत्तर बिहार के कई इलाकों में अगले 24 घंटे में कोल्ड डे का पूर्वानुमान व्यक्त किया है. ऐसे में न्यूनतम तापमान में और ज्यादा गिरावट हो सकती है. फिलहाल तीन दिनों से सुबह और शाम के वक्त न्यूनतम तापमान 8 से 9 डिग्री सेल्सियस रह रहा है. ऐसे में सुरक्षा ही ठंड से बचाव का एकमात्र उपाय है.

ये भी पढ़ेंः बिहार में शीतलहर का प्रकोप, सरकारी स्कूल में कब से होगी ठंड की छुट्टी? डीएम ने किया खुलासा

Last Updated :Jan 4, 2024, 7:18 AM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.