Mukesh Sahani: 'हमारी प्राथमिकता लोकसभा सीट नहीं, निषाद आरक्षण है.. हरि सहनी को अपना संकल्प याद रखना चाहिए'

author img

By ETV Bharat Bihar Desk

Published : Aug 24, 2023, 8:02 PM IST

वीआईपी चीफ मुकेश सहनी

विकासशील इंसान पार्टी की 'निषाद आरक्षण संकल्प यात्रा' के पहले चरण का समस्तीपुर में समापन हो गया है. दूसरे चरण की शुरुआत शुक्रवार को मधुबनी से होगी. इस बारे में जानकारी देते हुए मुकेश सहनी ने कहा कि पहले चरण में 10 लाख लोगों ने हाथ में गंगाजल लेकर आने वाली पीढ़ी के सुखद भविष्य और आरक्षण के लिए संघर्ष करने का संकल्प लिया है.

वीआईपी चीफ मुकेश सहनी

पटना: 'निषाद आरक्षण संकल्प यात्रा' के पहले चरण की सफलता से उत्साहित वीआईपी चीफ मुकेश सहनी ने कहा कि जिस तरह से लोगों का समर्थन मिल रहा है, उससे लगता है कि आने वाले समय में हमलोग अपने लक्ष्य में कामयाब जरूर होंगे. उन्होंने कहा कि निषाद आरक्षण संकल्प यात्रा में 1.50 करोड़ लोगों को संकल्पित करने का लक्ष्य रखा गया है. 28 अगस्त से पार्टी के कार्यकर्ता पटना से निकल कर गांव-गांव जाएंगे, जहां लोगों को आरक्षण के लिए संकल्प दिलाने का काम करेंगे. उसके लिए तैयारी की जा रही है.

ये भी पढ़ें: Mukesh Sahani : 'हमें अभी पीएम नरेंद्र मोदी पर भरोसा, अगर विश्वास टूटेगा तो विरोध करेंगे..'

"बीजेपी ने मात्र एक निषाद को सम्मान दिया है. अभी भी बिहार, यूपी और झारखंड के निषाद आरक्षण का इंतजार कर रहे हैं. जहां तक लोकसभा चुनाव की बात है तो मेरी प्राथमिकता लोकसभा सीट नहीं, निषाद आरक्षण है. अगर प्रधानमंत्री निषाद को आरक्षण की घोषणा करते हैं और एक सीट भी नहीं देते हैं तो कोई परवाह नहीं. हम प्रधानमंत्री का स्वागत करेंगे"- मुकेश सहनी, अध्यक्ष, विकासशील इंसान पार्टी

'आरक्षण नहीं तो वोट नहीं': वीआईपी चीफ ने साफ लहजे में कहा कि यूपी, बिहार और झारखंड में 60 सीटों पर निषाद हार-जीत तय करते हैं. उन्होंने कहा कि जो हमारी बात सुनेंगे, उसकी बात हम भी सुनेंगे. बिहार-झारखंड और उत्तरप्रदेश की 60 लोकसभा सीटों पर जीत-हार तय निषाद करेंगे. इसलिए जिसको निषाद आरक्षण देना सही लगता है, आरक्षण दे और निषाद का वोट ले. 'आरक्षण नहीं तो वोट नहीं' इसी स्लोगन के साथ हम दूसरे चरण की शुरुआत कल से करने जा रहे हैं.

'बिहार में मुकेश सहनी बड़ा फैक्टर': मुकेश सहनी ने एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि आज बिहार में नीतीश कुमार फैक्टर नहीं रह गए हैं, बल्कि बिहार में मुकेश सहनी फैक्टर बन गया है. नीतीश कुमार फैक्टर को काटने के लिए सम्राट चौधरी को विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष और अध्यक्ष बनाया गया लेकिन अब बीजेपी ने आनन-फानन में चौधरी को नेता प्रतिपक्ष से हटाकर हरि सहनी को नेता प्रतिपक्ष बनाया गया है. हरि सहनी को बड़ा भाई बताते हुए उन्होंने कहा कि उन्होंने हाथ में गंगाजल लेकर संकल्प लिया था कि निषाद आरक्षण के लिए संघर्ष करेंगे, अब इस संकल्प को उन्हे याद रखना चाहिए.

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.