पटना में कार्यपालक पदाधिकारी से मारपीट मामले में एक गिरफ्तार, दो अन्य की तलाश जारी

author img

By ETV Bharat Bihar Desk

Published : Jan 18, 2024, 4:32 PM IST

पटना में कार्यपालक अभियंता से मारपीट

Fighting In Patna: पटना में कार्यपालक पदाधिकारी से मारपीट की गई. गंभीर अवस्था में उनका इलाज दिल्ली एम्स में चल रहा है. वहीं इस मामले में पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है, जबकि अन्य की तलाश की जा रही है.

देखें वीडियो

पटना: राजधानी पटना में कार्यपालक पदाधिकारी के साथ बेरहमी से मारपीट की गई. घटना जिले के रूपसपुर थाना क्षेत्र स्थित गोला रोड के पास की है. मारपीट मामले में पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, जबकि दो अन्य लोग फरार बताए जा रहे हैं. वहीं घायल को इलाज के लिए दिल्ली एम्स रेफर किया गया है.

क्या है पूरा मामला?: बताते चलें कि 16 जनवरी की देर रात गोला रोड के 56 भोग के पास दो गुटों के बीच जमकर मारपीट हुई. जिसमें गया के डोभी के कार्यपालक पदाधिकारी अरविंद कुमार सिंह की बुरी तरह से पिटाई की गई. घायल को पटना के पारस हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जिसके बाद उनकी स्थिति को देखते हुए उसने दिल्ली एम्स रेफर किया गया है.

लालू यादव के रिश्तेदार हैं आरोपी: पीड़ित की तरफ से तनुज यादव, नयन यादव के साथ अन्य पर मारपीट का आरोप लगाया गया है. मिली जानकारी के अनुसार तनुज यादव और नयन यादव नागेंद्र यादव के बेटे हैं. और नागेंद्र यादव लालू यादव के भतीजे हैं. पुलिस ने सभी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी रंजन यादव को गिरफ्तार भी किया है. वहीं फरार अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस उनके घर के साथ-साथ अन्य जगहों पर छापामारी कर रही है.

सिटी एसपी का बयान: इस मामले को लेकर सिटी एसपी वेस्ट राजेश कुमार ने बताया कि मारपीट की सूचना मिलने के बाद मौके पर पुलिस पहुंचकर उन्हें अस्पताल ले गई. जिसके बाद रूपसपुर थाने में कार्यपालक पदाधिकारी के भाई के द्वारा मामला दर्ज कराया गया. जिसमें तीन लोगों को नामजद बनाया गया है, वहीं 20 अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है.

"एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है. वहीं अन्य लोगों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है. इस मामले में जल्द से जल्द खुलासा कर लिया जाएगा और स्पीडी ट्रायल चला कर इस मामले पर कार्रवाई की जाएगी."- राजेश कुमार, वेस्ट एसपी, पटना

तेजस्वी यादव ने दिए कार्रवाई के निर्देश: बता दें कि इस मामले को लेकर तेजस्वी यादव ने कहा कि 'कार्यपालक पदाधिकारी को जिसने मारा, वह लालू परिवार का सदस्य था, जब हमको इस बात की जानकारी हुई तो हमने खुद फोन करके इस मामले की जांच करने को कहा और सख्त कार्रवाई करने को कहा.' सूबे के डिप्टी सीएम ने मीडिया से कहा कि अभी आप लोग तेजस्वी यादव को जानते नहीं, हम खुद फोन किए हैं और सख्त से सख्त कार्रवाई करने की बात कह दी है.

पढ़ें: Watch Video: बक्सर में पार्क में दो गुटों में हिंसक झड़प, अंधाधुंध फायरिंग से सहमे लोग

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.