ETV Bharat / technology

लंबी-लंबी कहानी पढ़ने से मिलेगा छुटकारा, गूगल लाया धमाकेदार फीचर, अपनी भाषा में टेक्स्ट सुन सकेंगे यूजर्स - Google Chrome

author img

By ETV Bharat Hindi Team

Published : Jun 18, 2024, 1:08 PM IST

Listen To This Page: गूगल क्रोम एंड्रॉयड यूजर्स के लिए 'लिसेन टू दिस पेज' फीचर लेकर आया है. इस फीचर का इस्तेमाल एंड्रॉयड डिवाइस पर किसी भी वेबसाइट का टेक्स्ट सुनने के लिए किया जा सकता है.

Google Chrome
गूगल क्रोम (Google Play)

नई दिल्ली: एंड्रॉयड (Android ) यूजर्स के लिए गूगल क्रोम 'लिसेन टू दिस पेज' (Listen To This Page) नामक का नया फीचर लेकर आ रहा है. इस फीचर के जरिए ब्राउजर किसी भी टेक्स्ट-हैवी वेबपेज को जोर से पढ़ेगा. यानी यूजर्स वेब पेज के टेक्स्ट को न सिर्फ पढ़ सकेंगे, बल्कि उसे सुन भी सकेंगे.

फिलहाल टेक्स्ट-टू-स्पीच (TTS) फीचर को एंड्रॉयड ऐप में इंटिग्रेट किया जा रहा है, और यूजर्स इसे तीन-डॉटेड मेनू आइकन से एक्सेस कर पाएंगे. यह फीचर एक मिनीप्लेयर के साथ खोलता है. यह प्ले/पॉज, एक प्रोग्रेस बार और प्लेबैक स्पीड विकल्प जैसे फीचर्स के साथ आता है. यूजर्स वेबपेज को कई आवाजों और अलग-अलग भाषाओं में सुन सकते हैं.

रोल आउट हो रहा नया फीचर
फीचर के लिए बनाए गए डेडिकेटिड सपोर्ट पेज के अनुसार इसका इस्तेमाल एंड्रॉयड डिवाइस पर किसी वेबसाइट पर टेक्स्ट सुनने के लिए किया जा सकता है. फीचर यूजर के किसी दूसरे टैब पर स्विच करने पर भी ऑडियो चला सकता है. इतना ही नहीं स्क्रीन लॉक होने पर भी ऑडियो चल सकता है. यह फीचर यूजर्स के लिए रोल आउट होना शुरू हो गया है, लेकिन इसे व्यापक रूप से रिलीज होने में कुछ हफ्ते का वक्त लग सकता है. यह फीचर गूगल क्रोम वर्जन 125 के साथ रोल आउट किया जा रहा है.

किन भाषाओं में उपलब्ध है फीचर
गूगल क्रोम का नया फीचर यूजर्स अरबी, बंगाली, चीनी, अंग्रेजी, फ्रेंच, जर्मन, हिंदी, इंडोनेशियाई, जापानी, पुर्तगाली, रूसी और स्पेनिश सहित कई भाषाओं को सपोर्ट करता है. इसके अलावा यूजर्स सुनने के लिए चुनने के लिए कई प्रकार की आवाजें भी सेलेक्ट कर सकते हैं. एक बार जब यह फीचर चालू हो जाता है, तो यूजर्स को स्क्रीन के नीचे एक मिनीप्लेयर मिलेगा जो प्ले/पॉज़, एक प्रोग्रेस बार, 10-सेकंड फ़ास्ट फ़ॉरवर्ड/रिवाइंड और प्लेबैक स्पीड विकल्पों के साथ आता है.

इसका ओवरफ़्लो मेनू भी ऑटो-स्क्रॉल करता है, क्योंकि आवाज टेक्स्ट पढ़ती है. एक बार जब ऐप बंद हो जाता है, तो आवाज रुक जाती है. गूगल क्रोम याद रखता है कि उसे कहां रोका गया था और ऐप को दोबारा खोलने पर वह वहीं से चलना शुरू कर सकता है जहां से उसे छोड़ा गया था.

कैसे करें लिसेन टू दिस पेज का इस्तेमाल

  • अपने एंड्रॉयड डिवाइस पर गूगल क्रोम ऐप ओपन करें.
  • टेक्स्ट वाला वेबपेज खोलें. पेज पर टेक्स्ट ज़्यादा होना चाहिए.
  • पेज पूरी तरह लोड होने के बाद, ऊपर दाईं ओर तीन वर्टिकल डॉट्स वाले आइकन पर टैप करें.
  • लुक फॉर लिसेन टू दिस पेज पर टैप करें.
  • प्लेबैक स्पीड बदलने के लिए मिनीप्लेयर पर टैप करें.
  • प्लेयर विंडो में नीचे दाईं ओर तीन हॉरिजॉन्टल डॉट्स पर टैब करें.
  • प्लेबैक स्पीड पर जाएं.
  • वॉइस बदलने के लिए, वॉयस पर टैप करें.
  • फीचर को एनेबल करने के लिए टेक्स्ट हाइलाइट करें और ऑटो-स्क्रॉल पर टैप करें.

यह भी पढ़ें- इंटरनेट सर्च करने के तरीके को लेकर गूगल ने की भविष्यवाणी

नई दिल्ली: एंड्रॉयड (Android ) यूजर्स के लिए गूगल क्रोम 'लिसेन टू दिस पेज' (Listen To This Page) नामक का नया फीचर लेकर आ रहा है. इस फीचर के जरिए ब्राउजर किसी भी टेक्स्ट-हैवी वेबपेज को जोर से पढ़ेगा. यानी यूजर्स वेब पेज के टेक्स्ट को न सिर्फ पढ़ सकेंगे, बल्कि उसे सुन भी सकेंगे.

फिलहाल टेक्स्ट-टू-स्पीच (TTS) फीचर को एंड्रॉयड ऐप में इंटिग्रेट किया जा रहा है, और यूजर्स इसे तीन-डॉटेड मेनू आइकन से एक्सेस कर पाएंगे. यह फीचर एक मिनीप्लेयर के साथ खोलता है. यह प्ले/पॉज, एक प्रोग्रेस बार और प्लेबैक स्पीड विकल्प जैसे फीचर्स के साथ आता है. यूजर्स वेबपेज को कई आवाजों और अलग-अलग भाषाओं में सुन सकते हैं.

रोल आउट हो रहा नया फीचर
फीचर के लिए बनाए गए डेडिकेटिड सपोर्ट पेज के अनुसार इसका इस्तेमाल एंड्रॉयड डिवाइस पर किसी वेबसाइट पर टेक्स्ट सुनने के लिए किया जा सकता है. फीचर यूजर के किसी दूसरे टैब पर स्विच करने पर भी ऑडियो चला सकता है. इतना ही नहीं स्क्रीन लॉक होने पर भी ऑडियो चल सकता है. यह फीचर यूजर्स के लिए रोल आउट होना शुरू हो गया है, लेकिन इसे व्यापक रूप से रिलीज होने में कुछ हफ्ते का वक्त लग सकता है. यह फीचर गूगल क्रोम वर्जन 125 के साथ रोल आउट किया जा रहा है.

किन भाषाओं में उपलब्ध है फीचर
गूगल क्रोम का नया फीचर यूजर्स अरबी, बंगाली, चीनी, अंग्रेजी, फ्रेंच, जर्मन, हिंदी, इंडोनेशियाई, जापानी, पुर्तगाली, रूसी और स्पेनिश सहित कई भाषाओं को सपोर्ट करता है. इसके अलावा यूजर्स सुनने के लिए चुनने के लिए कई प्रकार की आवाजें भी सेलेक्ट कर सकते हैं. एक बार जब यह फीचर चालू हो जाता है, तो यूजर्स को स्क्रीन के नीचे एक मिनीप्लेयर मिलेगा जो प्ले/पॉज़, एक प्रोग्रेस बार, 10-सेकंड फ़ास्ट फ़ॉरवर्ड/रिवाइंड और प्लेबैक स्पीड विकल्पों के साथ आता है.

इसका ओवरफ़्लो मेनू भी ऑटो-स्क्रॉल करता है, क्योंकि आवाज टेक्स्ट पढ़ती है. एक बार जब ऐप बंद हो जाता है, तो आवाज रुक जाती है. गूगल क्रोम याद रखता है कि उसे कहां रोका गया था और ऐप को दोबारा खोलने पर वह वहीं से चलना शुरू कर सकता है जहां से उसे छोड़ा गया था.

कैसे करें लिसेन टू दिस पेज का इस्तेमाल

  • अपने एंड्रॉयड डिवाइस पर गूगल क्रोम ऐप ओपन करें.
  • टेक्स्ट वाला वेबपेज खोलें. पेज पर टेक्स्ट ज़्यादा होना चाहिए.
  • पेज पूरी तरह लोड होने के बाद, ऊपर दाईं ओर तीन वर्टिकल डॉट्स वाले आइकन पर टैप करें.
  • लुक फॉर लिसेन टू दिस पेज पर टैप करें.
  • प्लेबैक स्पीड बदलने के लिए मिनीप्लेयर पर टैप करें.
  • प्लेयर विंडो में नीचे दाईं ओर तीन हॉरिजॉन्टल डॉट्स पर टैब करें.
  • प्लेबैक स्पीड पर जाएं.
  • वॉइस बदलने के लिए, वॉयस पर टैप करें.
  • फीचर को एनेबल करने के लिए टेक्स्ट हाइलाइट करें और ऑटो-स्क्रॉल पर टैप करें.

यह भी पढ़ें- इंटरनेट सर्च करने के तरीके को लेकर गूगल ने की भविष्यवाणी

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.