ETV Bharat / state

दुर्ग में नहीं थम रहा ऑनलाइन सट्टा का खेल, छह सटोरिए गिरफ्तार - Online betting

author img

By ETV Bharat Chhattisgarh Team

Published : Apr 15, 2024, 5:36 PM IST

दुर्ग पुलिस ने रविवार को जिले में चल रहे ऑनलाइन सट्टा करोबार के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है. पुलिस ने अलग अलग क्षेत्र में कार्रवाई कर 6 सटोरियों को गिरफ्तार किया है. इसके साथ ही नेवई थाना क्षेत्र से गिरफ्तार दो सटोरियों की निशानदेही पर रीवा में छापेमारी कराई, जहां रीवा पुलिस ने 4सटोरियों समेत 8 लोगों ओको गिरफ्तार किया है.

ONLINE BETTING
ऑनलाइन सट्टा

दुर्ग भिलाई: जिले के सुपेला, नेवई और पद्मनाभपुर थाना क्षेत्र में पुलिस ने ऑनलाइन सट्टा के खिलाफ बड़े स्तर पर कार्रवाई की है. सुपेला पुलिस ने रविवार को हुक्का बार की आड़ में महादेव एप का पैनल चलाने वाले दो आरोपियों को पकड़ा है. नेवई पुलिस ने कार में घूम-घूम कर ऑनलाइन सट्टा चलाने वाले दो सटोरियों को दबोचा है. पद्मनाभपुर चौकी पुलिस ने भी नए बैटिंग एप लाइव क्रिकेट से सट्टा चलाने वाले दो आरोपियों को पकड़ा. जिसके बाद गिरफ्तार आरोपियों की निशानदेही पर रायपुर स्थित फार्म हाउस से मुख्य सरगना को गिरफ्तार किया है.

क्रिकेट लाइव गुरु ऐप से चल रहा सट्टा: एएसपी भिलाई सुखनंदन राठौर बताया, "ऑनलाईन सट्टा और आईपीएल क्रिकेट सट्टा के कारोबारियों पर पुलिस नजर बनाकर रखी हुई थी. इसी दौरान सूत्रों से पता चला कि चिरंजीवी भाठी नाम का व्यक्ति पद्मनाभपुर क्षेत्र में कुछ लोगों को आईपीएल क्रिकेट स‌ट्टा पर दांव लगवा रहा है. जिसके लिए क्रिकेट लाइव गुरु ऐप नाम का एप लिंक के माध्यम से आरोपी इंस्टाल करा रहा. उसी एप के जरिए वह ऑनलाइन क्रिकेट स‌ट्टा संचालित कर रहा है.

पद्मनामपुर क्षेत्र से एक आरोपी धराया: सूचना मिलते ही पुलिस की टीम ने घेराबंदी कर चिंरजीवी भाठी को पकड़ लिया. उसके मोबाइल से ऑनलाईन सट्टा कारोबार से संबंधित लेने-देन का हिसाब किताब, राजस्थान रायल्स और किंग्स 11 पंजाब के मैच का भाव और क्रिकेट लाईव गुरू एप एक्टिव मिला. पूछताछ में उसने मृत्युंजय चन्द्राकर से क्रिकेट लाइव गुरु ऐप नाम के एप का लिंक मिलना बताया. उसकी निशानदेही पर मृत्युजंय चन्द्राकर को पद्मनामपुर क्षेत्र से पकड़ा गया.

रायपुर से मुख्य आरोपी गिरफ्तार: पुलिस को मृत्युजंय चन्द्राकर के मोबाइल फोन में ऑनलाईन क्रिकेट सट्टा का हिसाब किताब मिला. पूछताछ में मृत्युंजय चन्द्राकर ने इंस्टाग्राम के जरिए रायपुर निवासी मनीष लेगवानी से क्रिकेट लाइव गुरु ऐप का लिंक खरीदने की जानकारी दी. जिसके बाद मुख्य आरोपी का लोकेशन सर्च करने पर रायपुर के फॉर्म हाउस का पता मिला. जिसके बाद क्राइम ब्रांच की टीम रायपुर के फुंडहर स्थित आदित्य फार्म हाउस पहुंची, जहां पार्टी चल रही थी. टीम ने पार्टी में रेड मारी और भागने का प्रयास कर रहे मुख्य आरोपी मनीष लेगवानी को गिरफ्तार किया.

आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई जारी: पकड़े गए तीनों आरोपियों के कब्जे से 3 मोबाईल और 20 हजार रूपए जब्त किया गया है. आरोपी मनीष लेगवानी को क्राइम टीम दुर्ग लेकर आई, जिसके बाद उससे आगे की कार्रवाई के लिए पदमनाभपुर थाना पुलिस को सौंपा गया. सभी आरोपियों के खिलाफ पुलिस संबंधित धाराओं के तहत आगे की कार्रवाई कर रही है.

कैफे में चल रहा था ऑनलाइन सट्टा कारोबार: सुपेला थाना पुलिस को सुपेला के वीआईपी कैफे में हुक्का बार संचालित होने की सूचना मिली. रात करीब 9.45 बजे टीम ने जीई रोड सुपेला स्थित वीआईपी कैफे में रेड मारी. मौके पर पुलिस को दो संदेही प्रांशु गुप्ता और रिषभ गुप्ता मिले. दोनों के कब्जे से पुलिस को 4 हुक्का पाट, 16 तम्बाखु युक्त विभिन्न कंपनियों के फ्लेवर, 50 मोबाइल सिम, 15 ईडीएफसी बैंक के चेकबुक, एक लेपटाप और 3 मोबाइल मिले. आरोपियों से पूछताछ करने पर ऑनलाइन सट्टा महादेव एप का पैनल चलाने का खुलासा हुआ. आरोपी रिषभ गुप्ता के खिलाफ साल 2023 में भी सोनीपत (हरियाणा) में धोखाधड़ी का मामला दर्ज हुआ था. दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर जेल भेजा गया है.

रेड्डी अन्ना का पैनल चला रहे आरोपी गिरफ्तार: कार में बैठकर डैम किनारे रेड्डी अन्ना का पैनल चला रहे आरोपियों को नेवई थाना पुलिस ने थर दबोचा है. रविवार को मुखबिरों से सूचना मिली कि नेवई डैम के पास सुनसान जगह पर कार में बैठकर कुछ लोग ऑनलाईन सट्टा खिला रहे हैं. सूचना मिलते ही पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची. मौके पर दो युवक लैपटाप और मोबाइल के जरिए ऑनलाईन सटटा खिलाते मिले. दोनों आरोपी का नाम लक्ष्यदीप डहरिया (23 साल) और शिवम सिंह तोमर (26 साल) है. दोनों ने पूछताछ में बताया कि ऑनलाइन सट्‌टा रेड्‌डी अन्ना एप का इस्तेमाल करते हुए रीवा में बैठे चार अन्य साथियों के साथ ऑनलाईन सट्टा खिलाते हैं.

आरोपियों की निशानदेही पर रीवा में छापेमारी: आरोपियों ने बताया कि रीवा में राहुल ताम्रकार, रितिक ताम्रकार, निरज साहू और पूर्णानंद गौर के साथ मिलकर सट्टा के पैसे का उन खातों में ट्रांजेक्शन करा रहे हैं. इस पर तत्काल सीएसपी भिलाई नगर ने रीवा पुलिस से संपर्क कर चारों आरोपियों के ठिकानों पर छापेमारी कराई. जहां उन चारों सटोरियों के अलावा 4 अन्य युवक मिले. मरोदा डेम से पकड़े गए आरोपियों से 4 लेपटॉप, 4 मोबाइल, 14 बैंक पासबुक व एटीएम समेत 10 हजार रुपए की नकदी मिली.

महादेव सट्टा एप और कोल लेवी स्कैम केस में सुनवाई, सौम्या चौरसिया की जमानत याचिका पर फैसला सुरक्षित - Mahadev Satta App
महादेव सट्टा केस में पुलिस को मिली सफलता, युवक को बंधक बनाकर मारपीट करने वाला आरोपी गिरफ्तार - Mahadev Satta case
भिलाई में कांग्रेस की महिला नेता से लाखों की ठगी, 56 लाख का दिया झांसा, दूसरे मामले में महादेव सट्टा एप से जुड़ा शख्स अरेस्ट - Fraud Case In Bhilai
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.