ETV Bharat / state

आज शाम थम जाएगा पांचवें चरण का प्रचार, 144 प्रत्याशी घर-घर जाकर बजा सकेंगे घंटी - Lok Sabha Election 2024

author img

By ETV Bharat Uttar Pradesh Team

Published : May 18, 2024, 11:32 AM IST

पांचवें चरण के चुनाव में 144 उम्मीदवार मैदान में हैं, जिनमें कई बड़े दिग्गजों की किस्मत का फैसला भी जनता करने वाली है. केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, साध्वी निरंजन ज्योति सहित तमाम बड़े चेहरों की किस्मत का फैसला पांचवें चरण के मतदान में होगा.

Etv Bharat
आज शाम थम जाएगा पांचवें चरण का प्रचार. (फोटो क्रेडिट; Etv Bharat)

लखनऊ: लोकसभा चुनाव 2024 के पांचवें चरण का प्रचार आज शाम को 5:00 बजे पूरी तरह से थम जाएगा. पांचवें चरण में यूपी की 14 लोकसभा सीटों पर 20 मई को मतदान होगा. इसके साथ ही लखनऊ पूर्व विधानसभा सीट पर उपचुनाव का भी मतदान 20 मई को कराया जाएगा.

पांचवें चरण के चुनाव में 144 उम्मीदवार मैदान में हैं, जिनमें कई बड़े दिग्गजों की किस्मत का फैसला भी जनता करने वाली है. केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, साध्वी निरंजन ज्योति सहित तमाम बड़े चेहरों की किस्मत का फैसला पांचवें चरण के मतदान में होगा.

आज शाम 5:00 बजे से प्रदेश की 14 लोकसभा सीटों पर चुनाव प्रचार पूरी तरह से प्रतिबंधित हो जाएगा और सभी राजनीतिक दलों के कार्यकर्ता पदाधिकारी चुनाव प्रचार नहीं कर पाएंगे. सिर्फ प्रत्याशी ही साधारण जनसंपर्क करते हुए वोट मांग सकेंगे.

14 निर्वाचन क्षेत्र के लिए 20 मई को होने वाले मतदान के लिए कल 19 मई को सभी जिला मुख्यालयों से पोलिंग स्टेशनों के लिए पोलिंग पार्टियां रवाना की जाएंगी. भीषण गर्मी को देखते हुए निर्वाचन आयोग ने मतदान केंद्रों में पानी आदि के भी प्रबंध किए जाने के निर्देश जिला निर्वाचन अधिकारियों को दिए हैं.

लोकसभा चुनाव 2024 में पांचवें चरण की जिन प्रमुख सीटों पर कांटे की टक्कर है, उनमें मोहनलालगंज, अमेठी, बांदा, कैसरगंज, कौशांबी, फैजाबाद शामिल हैं. अब इन सीटों को एक बार फिर जीतने के लिए भाजपा कड़ी मेहनत करने में जुटी हुई है.

कैसरगंज लोकसभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी ने इस बार पिछले सात बार से लगातार सांसद रहे बृजभूषण शरण सिंह को टिकट नहीं दिया. इस सीट पर भाजपा ने उनके बेटे करण भूषण को उम्मीदवार बनाया है. जबकि सपा ने यहां से भगत राम मिश्र को चुनाव में उतारा है.

इससे चुनावी लड़ाई दिलचस्प हो सकती है. फैजाबाद लोकसभा सीट सामान्य सीट होने के बावजूद समाजवादी पार्टी ने इस बार दलित कार्ड खेलते हुए वरिष्ठ समाजवादी नेता व नौ बार के विधायक अवधेश प्रसाद को चुनाव लड़ाया है.

अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनने के बाद भाजपा इस सीट को जीत कर पूरे देश में बड़ा संदेश देना चाहती है. यहां से भाजपा के लल्लू सिंह लगातार तीसरी बार चुनाव जीतकर हैट्रिक लगाने की कोशिश में हैं, जिन्हें अवधेश प्रसाद कड़ी टक्कर दे रहे हैं.

ये भी पढ़ेंः चांदी के भाव 7वें आसमान पर: 93000 तक पहुंचे रेट, चार महीने में 17 हजार बढ़ी; वजह- सट्टेबाजी या चीन की अंधाधुंध खरीदारी?

लखनऊ: लोकसभा चुनाव 2024 के पांचवें चरण का प्रचार आज शाम को 5:00 बजे पूरी तरह से थम जाएगा. पांचवें चरण में यूपी की 14 लोकसभा सीटों पर 20 मई को मतदान होगा. इसके साथ ही लखनऊ पूर्व विधानसभा सीट पर उपचुनाव का भी मतदान 20 मई को कराया जाएगा.

पांचवें चरण के चुनाव में 144 उम्मीदवार मैदान में हैं, जिनमें कई बड़े दिग्गजों की किस्मत का फैसला भी जनता करने वाली है. केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, साध्वी निरंजन ज्योति सहित तमाम बड़े चेहरों की किस्मत का फैसला पांचवें चरण के मतदान में होगा.

आज शाम 5:00 बजे से प्रदेश की 14 लोकसभा सीटों पर चुनाव प्रचार पूरी तरह से प्रतिबंधित हो जाएगा और सभी राजनीतिक दलों के कार्यकर्ता पदाधिकारी चुनाव प्रचार नहीं कर पाएंगे. सिर्फ प्रत्याशी ही साधारण जनसंपर्क करते हुए वोट मांग सकेंगे.

14 निर्वाचन क्षेत्र के लिए 20 मई को होने वाले मतदान के लिए कल 19 मई को सभी जिला मुख्यालयों से पोलिंग स्टेशनों के लिए पोलिंग पार्टियां रवाना की जाएंगी. भीषण गर्मी को देखते हुए निर्वाचन आयोग ने मतदान केंद्रों में पानी आदि के भी प्रबंध किए जाने के निर्देश जिला निर्वाचन अधिकारियों को दिए हैं.

लोकसभा चुनाव 2024 में पांचवें चरण की जिन प्रमुख सीटों पर कांटे की टक्कर है, उनमें मोहनलालगंज, अमेठी, बांदा, कैसरगंज, कौशांबी, फैजाबाद शामिल हैं. अब इन सीटों को एक बार फिर जीतने के लिए भाजपा कड़ी मेहनत करने में जुटी हुई है.

कैसरगंज लोकसभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी ने इस बार पिछले सात बार से लगातार सांसद रहे बृजभूषण शरण सिंह को टिकट नहीं दिया. इस सीट पर भाजपा ने उनके बेटे करण भूषण को उम्मीदवार बनाया है. जबकि सपा ने यहां से भगत राम मिश्र को चुनाव में उतारा है.

इससे चुनावी लड़ाई दिलचस्प हो सकती है. फैजाबाद लोकसभा सीट सामान्य सीट होने के बावजूद समाजवादी पार्टी ने इस बार दलित कार्ड खेलते हुए वरिष्ठ समाजवादी नेता व नौ बार के विधायक अवधेश प्रसाद को चुनाव लड़ाया है.

अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनने के बाद भाजपा इस सीट को जीत कर पूरे देश में बड़ा संदेश देना चाहती है. यहां से भाजपा के लल्लू सिंह लगातार तीसरी बार चुनाव जीतकर हैट्रिक लगाने की कोशिश में हैं, जिन्हें अवधेश प्रसाद कड़ी टक्कर दे रहे हैं.

ये भी पढ़ेंः चांदी के भाव 7वें आसमान पर: 93000 तक पहुंचे रेट, चार महीने में 17 हजार बढ़ी; वजह- सट्टेबाजी या चीन की अंधाधुंध खरीदारी?

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.