ETV Bharat / state

शक, साजिश और हत्या की वारदात का खुलासा, हत्या में शामिल चार अपराधी गिरफ्तार

author img

By ETV Bharat Jharkhand Team

Published : Feb 10, 2024, 6:54 PM IST

Lohardaga Police revealed murder case. लोहरदगा पुलिस ने चर्चित पूर्व पंचायत समिति सदस्य संतोष हत्याकांड का उद्भेदन कर लिया है. मामले में पुलिस ने हत्या में शामिल चार अपराधियों को धर दबोचा है.

http://10.10.50.75//jharkhand/10-February-2024/jh-loh-01-hatyakhulasa-pkg-jh10011_10022024160030_1002f_1707561030_387.jpg
Lohardaga Police Revealed Murder Case

पूर्व पंचायत समिति सदस्य संतोष हत्याकांड का खुलासा करती लोहरदगा पुलिस.

लोहरदगा: शक, साजिश और हत्या की यह कहानी लोहरदगा जिले के कुडू थाना क्षेत्र की है. लोहरदगा जिले के कुडू थाना क्षेत्र के कुडू बाजार टांड़ में विगत चार फरवरी 2024 को कुडू पंचायत के पूर्व पंचायत समिति सदस्य संतोष मांझी की हत्या कर दी गई थी. इस हत्याकांड का लोहरदगा पुलिस ने खुलासा कर दिया है. एसआईटी ने मामले में चार अपराधियों को गिरफ्तार किया है. हालांकि वारदात में शामिल दो अपराधी अभी भी फरार हैं. जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीम छापेमारी कर रही है.

एक संदेह ने साजिश को दिया जन्म

एक संदेह ने साजिश की इस वारदात को जन्म दिया. ताबड़तोड़ चार गोलियां चला कर पूर्व पंचायत समिति सदस्य की हत्या कर दी गई थी. हत्या के मास्टरमाइंड को संदेह था कि उसकी पत्नी और संतोष मांझी के बीच संबंध है. इसके बाद उसने उसकी हत्या करवा दी. हत्याकांड के बाद एसपी हारिस बिन जमां ने फौरन एसआईटी का गठन किया था. एसआईटी ने मामले में छानबीन की और आरोपियों को धर दबोचा.

अलग-अलग स्थानों से हुई आरोपियों की गिरफ्तारी

हत्या की इस घटना में लोहरदगा जिले के कुडू थाना क्षेत्र के कुडू निवासी युवराज प्रसाद के पुत्र सत्यजीत कुंदन, लातेहार जिला के चंदवा थाना क्षेत्र के बरवाटोली निवासी दिवंगत नागेंद्र भारती का पुत्र रितेश कुमार भारती, रांची जिला के सुखदेवनगर थाना क्षेत्र के हरमू रोड बाल्मिकी नगर निवासी दिवंगत मनोहर राम पवार का पुत्र विजय राम पवार, रांची जिला के जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र के पुंदाग निवासी अमन सिंह को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने अपराधियों के पास से चार मोबाइल, एक मोटरसाइकिल, एक कार, पांच हजार रुपए कैश बरामद किया है.

सत्यजीत कुंदन ने रची थी हत्याकांड की साजिश

एसपी ने बताया कि हत्याकांड का मास्टरमाइंड सत्यजीत कुंदन था. उसने आपसी विवाद में हत्या की साजिश रची थी. उसे संदेह था कि उसकी पत्नी और मृतक संतोष मांझी के बीच संबंध है. इसे लेकर उसने हत्या की साजिश रची थी. वहीं रितेश ने संतोष की रेकी की थी, जबकि विजय राम और अमन सिंह ने गोली मारी थी. इस घटना में दो और अपराधी शामिल थे. उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है.

एसआईटी में ये पुलिस पदाधिकारी थे शामिल

एसआईटी में सहायक पुलिस अधीक्षक वेदांत शंकर, एसडीपीओ श्रद्धा केरकेट्टा, पुलिस अवर निरीक्षक सह लोहरदगा थाना प्रभारी अनिल उरांव, कुडू थाना प्रभारी विश्वजीत कुमार सिंह, पुलिस अवर निरीक्षक धनंजय पासवान, महिला पुलिस अवर निरीक्षक तकनीकी शाखा होलिका तिग्गा, पुलिस अवर निरीक्षक दिनेश प्रसाद, सहायक अवर निरीक्षक संजय कुमार, संजय कुमार सिंह, आरक्षी आशुतोष कुमार सिंह, प्रशांत गौरव, राजेश उरांव, राजेश उरांव, चालक आरक्षी विनोद कुमार सिंह, जावेद अख्तर, गृहरक्षक नीरज कुमार मिश्रा, चालक आरक्षी निर्मल मार्शल मिंज, आरक्षी राजू महतो, विपिन हजाम, तकनीकी शाखा के ललित उरांव, कौशल यादव शामिल थे.

हत्याकांड के बाद लोहरदगा में जमकर हुआ था बवाल

गौरतलब हो कि कुडू पंचायत के पूर्व पंचायत समिति सदस्य संतोष मांझी की हत्या के बाद लोहरदगा के साथ पूरे झारखंड की राजनीति गरमा गई थी. आक्रोशित लोगों ने साढ़े छह घंटे तक लोहरदगा में सड़क जाम कर दिया था. मामले में झारखंड विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष अमर बाउरी ने हत्यारों की गिरफ्तारी नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी थी.

ये भी पढ़ें-

लोहरदगा में एनएच जामः चार घंटे से दो राष्ट्रीय उच्च पथ पर आवागमन बाधित, हत्या के विरोध में ग्रामीणों ने थाना को घेरा

लोहरदगा में फायरिंगः गोली मारकर पूर्व पंचायत समिति सदस्य की हत्या, लोगों ने किया रोड जाम

अपराधियों ने की घर में घुसकर युवक की हत्या, चाकू से किए ताबड़तोड़ कई वार

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.