ETV Bharat / state

आदिवासी युवक की हत्या का मामला, थाने में हंगामा कर रहे मृतक के परिजनों को पुलिस ने पीटा - Gwalior tribal youth murder case

author img

By ETV Bharat Madhya Pradesh Team

Published : Apr 28, 2024, 9:10 PM IST

बेटे के कत्ल के मामले में पुलिस द्वारा की जा रही कार्रवाई से असंतुष्ट परिवार वालों ने ग्वालियर के विश्वविद्यालय थाना परिसर में प्रदर्शन किया. इस दौरान उन्होंने पुलिस पर उचित कार्रवाई न करने का आरोप लगाया. साथ ही महिलाओं ने पुलिस द्वारा लाठियों से उनकी पिटाई करने की बात कही है.

GWALIOR TRIBAL YOUTH MURDER CASE
आदिवासी युवक की हत्या का मामला थाने में हंगामा कर रहे मृतक के परिजनों को पुलिस ने पीटा
आदिवासी युवक की हत्या का मामला थाने में हंगामा कर रहे मृतक के परिजनों को पुलिस ने पीटा

ग्वालियर। शहर के विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र के सिंधिया नगर में 25 -26 अप्रैल की दरमियानी रात हुए एक आदिवासी युवक के कत्ल के मामले में परिवार के लोगों ने रविवार को थाने पर प्रदर्शन किया. उनकी मांग है कि इस मामले में पुलिस ने सिर्फ तीन लोगों को आरोपी बनाया है. जबकि आरोपियों की संख्या कहीं ज्यादा है. हालांकि पुलिस ने दो आरोपी सुनील एवं अनिल को गिरफ्तार कर लिया है. लेकिन असल मास्टरमाइंड वीरू अभी तक फरार है.

पुलिस ने की पिटाई

प्रदर्शन कर रहे लोगों का कहना है कि पुलिस ने उनके ऊपर लाठियां भांजी है. पुलिस पीड़ित परिवार की सुनने के बजाय आरोपियों का साथ दे रही है. मृतक सोनू आदिवासी के परिवार की महिलाओं का कहना है कि आरोपियों ने पुलिस में लाखों रुपए भर दिए हैं. इस कारण पुलिस आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं कर रही है. जबकि आरोपी उन्हें धमकाते घूम रहे हैं. महिलाओं ने अपनी चोट दिखाते हुए कहा कि पुलिस ने उनकी फरियाद सुनने के बजाय उन पर ही लाठियां भांज दी.

यहां पढ़ें...

शादी में डीजे पर डांस को लेकर विवाद, दुल्हन के फुफेरे भाई ने दूल्हे के दोस्तों को मारा चाकू, एक की मौत

महज 100 रुपये की उधारी नहीं चुकाने पर युवक के पेट में चाकू घोंपा, हालत गंभीर

चाकू घोपकर की हत्या

मामला बिगड़ता देख पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह भी वहां पहुंचे और उन्होंने किसी तरह मामले को समझा बुझाकर शांत कराया. विश्वविद्यालय थाने के सब इंस्पेक्टर विनोद कुमार का कहना है कि ''शादी समारोह में आदिवासी युवक की कुछ लोगों ने हत्या कर दी थी. मामले में 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, तीसरे की तलाश की जा रही है.'' उन्होंने कहा कि थाने में हंगामा कर रहे मृतक के परिजनों को पुलिस द्वारा पीटने की बात गलत है.'' उल्लेखनीय है कि अपनी ममेरी बहन की शादी में सोनू आदिवासी गया था. उसका पूर्व में वीरू आदिवासी और उसके बेटे अनिल एवं सुनील से विवाद हो गया था. जब आरोपियों को सोनू शादी में दिख गया तो उन्होंने उसे किसी बहाने से टेंट के पीछे बुलाया और चाकू मारकर उसकी हत्या कर दी थी.

आदिवासी युवक की हत्या का मामला थाने में हंगामा कर रहे मृतक के परिजनों को पुलिस ने पीटा

ग्वालियर। शहर के विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र के सिंधिया नगर में 25 -26 अप्रैल की दरमियानी रात हुए एक आदिवासी युवक के कत्ल के मामले में परिवार के लोगों ने रविवार को थाने पर प्रदर्शन किया. उनकी मांग है कि इस मामले में पुलिस ने सिर्फ तीन लोगों को आरोपी बनाया है. जबकि आरोपियों की संख्या कहीं ज्यादा है. हालांकि पुलिस ने दो आरोपी सुनील एवं अनिल को गिरफ्तार कर लिया है. लेकिन असल मास्टरमाइंड वीरू अभी तक फरार है.

पुलिस ने की पिटाई

प्रदर्शन कर रहे लोगों का कहना है कि पुलिस ने उनके ऊपर लाठियां भांजी है. पुलिस पीड़ित परिवार की सुनने के बजाय आरोपियों का साथ दे रही है. मृतक सोनू आदिवासी के परिवार की महिलाओं का कहना है कि आरोपियों ने पुलिस में लाखों रुपए भर दिए हैं. इस कारण पुलिस आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं कर रही है. जबकि आरोपी उन्हें धमकाते घूम रहे हैं. महिलाओं ने अपनी चोट दिखाते हुए कहा कि पुलिस ने उनकी फरियाद सुनने के बजाय उन पर ही लाठियां भांज दी.

यहां पढ़ें...

शादी में डीजे पर डांस को लेकर विवाद, दुल्हन के फुफेरे भाई ने दूल्हे के दोस्तों को मारा चाकू, एक की मौत

महज 100 रुपये की उधारी नहीं चुकाने पर युवक के पेट में चाकू घोंपा, हालत गंभीर

चाकू घोपकर की हत्या

मामला बिगड़ता देख पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह भी वहां पहुंचे और उन्होंने किसी तरह मामले को समझा बुझाकर शांत कराया. विश्वविद्यालय थाने के सब इंस्पेक्टर विनोद कुमार का कहना है कि ''शादी समारोह में आदिवासी युवक की कुछ लोगों ने हत्या कर दी थी. मामले में 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, तीसरे की तलाश की जा रही है.'' उन्होंने कहा कि थाने में हंगामा कर रहे मृतक के परिजनों को पुलिस द्वारा पीटने की बात गलत है.'' उल्लेखनीय है कि अपनी ममेरी बहन की शादी में सोनू आदिवासी गया था. उसका पूर्व में वीरू आदिवासी और उसके बेटे अनिल एवं सुनील से विवाद हो गया था. जब आरोपियों को सोनू शादी में दिख गया तो उन्होंने उसे किसी बहाने से टेंट के पीछे बुलाया और चाकू मारकर उसकी हत्या कर दी थी.

ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.