ETV Bharat / state

अगर आप भी हैं बेरोजगार तो फिर ऐसे ठगों से रहिए सावधान - Fraud in name of job in Bhilai

author img

By ETV Bharat Chhattisgarh Team

Published : Jun 16, 2024, 1:37 PM IST

बढ़ती बेरोजगारी युवाओं के लिए आज एक बड़ी समस्या बनते जा रही है. बेरोजगारी के इस दौर में अवसर तलाशने वाले ठग भी एक्टिव हैं. भिलाई में एक ऐसा ही मामला सामने आया है. यहां ठग ने खाद्य विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर 20 लाख की ठगी हुई है. पीड़ित ने इस बात की शिकायत थाने में की. पुलिस ने जांच के बाद ठगी के मास्टरमाइंड को गिरफ्तार कर लिया है.

Fraud in name of job in Bhilai
रिसाली सेक्टर से पकड़ा गया मास्टरमाइंड (ETV Bharat)

भिलाई: बेरोजगार युवक को नौकरी दिलाने के नाम पर शख्स ने 20 लाख का चूना लगा दिया. पीड़ित के मुताबिक आरोपी शख्स ने पहले तो उसे अपने झांसे में लिया फिर उससे 20 लाख रुपए की बड़ी रकम ऐंठ ली. पीड़ित ने बताया कि उसे आरोपी ने बताया कि उसकी पहचान बड़े बड़े प्रशासनिक अफसरों के साथ है. बड़े अधिकारियों से जान पहचान होने के चलते वो उसकी नौकरी खाद्य विभाग में अच्छे पोस्ट पर लगवा देगा. पीड़ित के मुताबिक वो युवक के बहकावे में आ गया. उसने अलग अलग किश्तों में 20 लाख की रकम आरोपी के खाते में ट्रांसफर कर दी.

नौकरी दिलाने के नाम पर 20 लाख की ठगी का आरोप: पीड़ित सुयश पटेल के मुताबिक आरोपी ने उसे फर्जी ट्रेनिंग लेटर और फर्जी ज्वाइनिंग लेटर भेजा. लेटर मिलने के बाद पीड़ित ने जब लेटर की तस्दीक की तो पता चला कि लेटर फर्जी है. खुद के ठगे जाने का जैसे ही युवक का अहसाल हुआ वो तुरंत नेवई थाने पहुंचा और अपने साथ हुई ठगी की शिकायत थाने में दर्ज कराई.

26 साल के सुयश पटेल कोरोना के वक्त से ही बेरोजगार है. सुयश के पिता बीएसपी से रिटायर कर्चमारी हैं. नौकरी की तलाश में भटक रहे सुयश को पड़ोस में रहने वाले पवन कुमार ढिंढे ने अपने भरोसे में लिया. आरोपी ने बताया कि वो पुलिस विभाग में है. उसकी कई अफसरों से बढ़िया जान पहचान है. अपनी पहचान की बदौलत वो उसकी नौकरी खाद्य विभाग में लगवा देगा. नौकरी के बदले उसे 20 लाख रुपए देने होंगे. शिकायत के बाद पुलिस ने रिसाली सेक्टर से आरोपी को पकड़ लिया है. ठगी में उसका साथ देने वाले सुनील पटेल के साथ उसने ठगी की बात भी कबूल कर ली है. - आनंद शुक्ला, टीआई, नेवई थाना

ठगी करने वाले गैंग से रहें सावधान: भिलाई में हुई ठगी की ये घटना कोई पहली घटना नहीं है. नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाला पूरा गैंग एक्टिव है. जरूरत इस बात की है कि हम सतर्क रहें. बिना मेहनत और परीक्षा पास किए किसी भी विभाग में कोई भी आदमी आपको नौकरी नहीं दिला सकता है. नौकरी के चक्कर में आप अपनी गाढ़ी कमाई भी गंवा बैठते हैं.

बालोद में नौकरी के नाम पर धोखाधड़ी, रेलवे में टीसी बनाने के एवज में ठगे 24 लाख, नागपुर से मास्टरमाइंड गिरफ्तार - Fraud In Name Of TC Job In Railways
बिलासपुर में बर्खास्त कॉन्सटेबल ने पुलिस में नौकरी दिलाने करोड़ों की ठगी की, अब हुआ ये हाल
एसईसीएल में नौकरी के लिए शॉर्टकट पड़ा भारी, ठगों के झांसे में आकर जांजगीर के युवक ने गंवाए 20 लाख रुपये

भिलाई: बेरोजगार युवक को नौकरी दिलाने के नाम पर शख्स ने 20 लाख का चूना लगा दिया. पीड़ित के मुताबिक आरोपी शख्स ने पहले तो उसे अपने झांसे में लिया फिर उससे 20 लाख रुपए की बड़ी रकम ऐंठ ली. पीड़ित ने बताया कि उसे आरोपी ने बताया कि उसकी पहचान बड़े बड़े प्रशासनिक अफसरों के साथ है. बड़े अधिकारियों से जान पहचान होने के चलते वो उसकी नौकरी खाद्य विभाग में अच्छे पोस्ट पर लगवा देगा. पीड़ित के मुताबिक वो युवक के बहकावे में आ गया. उसने अलग अलग किश्तों में 20 लाख की रकम आरोपी के खाते में ट्रांसफर कर दी.

नौकरी दिलाने के नाम पर 20 लाख की ठगी का आरोप: पीड़ित सुयश पटेल के मुताबिक आरोपी ने उसे फर्जी ट्रेनिंग लेटर और फर्जी ज्वाइनिंग लेटर भेजा. लेटर मिलने के बाद पीड़ित ने जब लेटर की तस्दीक की तो पता चला कि लेटर फर्जी है. खुद के ठगे जाने का जैसे ही युवक का अहसाल हुआ वो तुरंत नेवई थाने पहुंचा और अपने साथ हुई ठगी की शिकायत थाने में दर्ज कराई.

26 साल के सुयश पटेल कोरोना के वक्त से ही बेरोजगार है. सुयश के पिता बीएसपी से रिटायर कर्चमारी हैं. नौकरी की तलाश में भटक रहे सुयश को पड़ोस में रहने वाले पवन कुमार ढिंढे ने अपने भरोसे में लिया. आरोपी ने बताया कि वो पुलिस विभाग में है. उसकी कई अफसरों से बढ़िया जान पहचान है. अपनी पहचान की बदौलत वो उसकी नौकरी खाद्य विभाग में लगवा देगा. नौकरी के बदले उसे 20 लाख रुपए देने होंगे. शिकायत के बाद पुलिस ने रिसाली सेक्टर से आरोपी को पकड़ लिया है. ठगी में उसका साथ देने वाले सुनील पटेल के साथ उसने ठगी की बात भी कबूल कर ली है. - आनंद शुक्ला, टीआई, नेवई थाना

ठगी करने वाले गैंग से रहें सावधान: भिलाई में हुई ठगी की ये घटना कोई पहली घटना नहीं है. नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाला पूरा गैंग एक्टिव है. जरूरत इस बात की है कि हम सतर्क रहें. बिना मेहनत और परीक्षा पास किए किसी भी विभाग में कोई भी आदमी आपको नौकरी नहीं दिला सकता है. नौकरी के चक्कर में आप अपनी गाढ़ी कमाई भी गंवा बैठते हैं.

बालोद में नौकरी के नाम पर धोखाधड़ी, रेलवे में टीसी बनाने के एवज में ठगे 24 लाख, नागपुर से मास्टरमाइंड गिरफ्तार - Fraud In Name Of TC Job In Railways
बिलासपुर में बर्खास्त कॉन्सटेबल ने पुलिस में नौकरी दिलाने करोड़ों की ठगी की, अब हुआ ये हाल
एसईसीएल में नौकरी के लिए शॉर्टकट पड़ा भारी, ठगों के झांसे में आकर जांजगीर के युवक ने गंवाए 20 लाख रुपये
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.