पौड़ी में सगे भाइयों ने नाबालिग से किया रेप, लेबर पेन के बाद पता चली सच्चाई, आरोपी गिरफ्तार

author img

By ETV Bharat Uttarakhand Team

Published : Feb 24, 2024, 5:28 PM IST

Updated : Feb 24, 2024, 10:29 PM IST

Etv Bharat

Two brothers arrested in rape case in Srinagar श्रीनगर में नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म करने वाले दो आरोपियों को श्रीनगर पुलिस ने गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है. बताया जा रहा है कि दोनों आरोपी सगे भाई हैं. बहरहाल दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश कर जेल भेजने की कार्रवाई की जा रही है.

श्रीनगर: पौड़ी जिल के श्रीनगर में 17 साल की नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म करने के आरोप में श्रीनगर पुलिस ने दो सगे भाइयों को गिरफ्तार किया है. दोनों युवकों के संबंध में नाबालिग ने कोर्ट के सामने अपने बयान दिए थे. जिसके आधार पर पुलिस ने दोनों भाइयों की गिरफ्तारी की है. दोनों आरोपी भाइयों में एक भाई ने पूर्व में दो शादियां की हैं. बहरहाल पुलिस अब दोनों आरोपियों को न्यायालय में पेश कर जेल भेजने की तैयारी कर रही है. दोनों के खिलाफ पॉक्सो एक्ट में मुकदमा पंजीकृत किया गया है.

नाबालिग ने नवजात को दिया था जन्म: घटनाक्रम के अनुसार, 20 फरवरी को एक व्यक्ति ने महिला थाना श्रीनगर में शिकायत दर्ज कराई थी. जिसमें बताया गया था कि उसकी नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म किया गया है. मामले की गंभीरता को देखते हुए नाबालिग के बयान के आधार पर सतीश लाल उम्र 26 निवासी ग्राम भेलगढ़ और वासुदेव कुमार उम्र 28 वर्ष को गिरफ्तार किया गया है.

दोनों आरोपी सगे भाई: पुलिस की दी गई शिकायत में बताया गया कि लड़की के पेट में दर्द होने के बाद उसे परिजन सरकारी अस्पताल लेकर गए तो जांच में पता चला कि पीड़िता को दर्द लेबर पेन के कारण था. डॉक्टरों ने लड़की की डिलीवरी कराई. पीड़िता ने श्रीनगर के संयुक्त अस्पताल में बच्चे को जन्म दिया था. दोनों आरोपी भाइयों में सतीश लाल ट्रक ड्राइवर है, जबकि वासुदेव पारंपरिक बाध्य यंत्र वादक है.

मामले में दो लोगों की गिरफ्तारी की गई है. दोनों को कोर्ट में पेश कर जेल भेजने की तैयारी की जा रही है. दोनों ही आरोपी सगे भाई हैं.- सतवीर सिंह बिष्ट, श्रीनगर कोतवाल

पौड़ी में दिव्यांग किशोरी से हुआ था रेप: इससे पहले पौड़ी जिले के थाना क्षेत्र पैठाणी के एक गांव में दिव्यांग किशोरी से दुष्कर्म करने का मामला सामने आया था. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार अदालत में पेश किया था, जहां से उसे जेल भेजने की कार्रवाई की गई है.

ये भी पढ़ें-

Last Updated :Feb 24, 2024, 10:29 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.