ETV Bharat / state

मनेन्द्रगढ़ चिरमिरी भरतपुर में भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा पेपर ब्लॉक का काम - Corruption in paper block work

author img

By ETV Bharat Chhattisgarh Team

Published : Jun 23, 2024, 6:20 PM IST

दस लाख की लागत से खड़गवां में बने पेपर ब्लॉक का काम भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया है. आरोप है कि तीन महीने पहले ही इसका निर्माण हुआ था. निर्माण कार्य में गुणवत्ता से समझौता किया गया जिसके चलते इसकी हालत खराब हो गई है. गांव वालों का आरोप है कि लगाए गए ब्लॉक लगातार अपनी जगह से उखड़ रहे हैं.

Corruption in paper block
भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा पेपर ब्लॉक का काम (ETV Bharat)

मनेन्द्रगढ़ चिरमिरी भरतपुर: राज्य सरकार की कोशिश है कि गांव कस्बों को शहरों से जोड़ा जाए. गांव के भीतर बनने वालों सड़कों को और बेहतर बनाया जाए. पर सरकार की योजनाओं को पलीता लगाने से ग्राम पंचायतों में लोग बाज नहीं आ रहे हैं. ताजा मामला जनपद पंचायत खड़गवां के पंचायत सैंदा का है. दस लाख की लागत से यहां पर पेपर ब्लॉक का काम किया गया था. तीन महीने बाद ही जमीन से पेपल ब्लॉक अब उखड़ने और फटने लगे हैं. गांव वालों की शिकायत है कि घटिया निर्माण सामग्री का इस्तेमाल किए जाने से ये हालात बने हैं.

भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा पेपर ब्लॉक का काम (ETV Bharat)

भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा पेपर ब्लॉक का काम: करीब तीन महीने पहले ही सैंदा पंचायत में लोगों की सुविधा के लिए पेपर ब्लॉक का काम कराया गया था. पंचायत का मकसद था कि पेपर ब्लॉक का काम होने से बारिश में सड़क बेहतर हो जाएगी और मॉनसून में होने वाला कीचड़ भी खत्म हो जाएगा. लोगों को भी आने जाने में सहूलियत मिलेगी. पर निर्माण कार्य में भ्रष्टाचार किए जाने के चलते यहां हुआ निर्माण कार्य अब तेजी से खराब होता जा रहा है.

जवाबदारी लेने से बच रहे जिम्मेदार: निर्माण कार्य में हुए भ्रष्टाचार को लेकर जब ईटीवी भारत की टीम ने ग्राम पंचायत सैंदा के सरपंच से बात करने की कोशिश की तो उनका फोन बंद मिला. उनका पक्ष लेने की के लिए लगातार फोन लगाया गया लेकिन उनका फोन बंद मिला. ईटीवी भारत की टीम से स्पष्ट करती है कि जब उनका पक्ष सामने आएगा तो हम उसे भी प्राथमिकता के साथ सामने रखेंगे.

कोरिया में भ्रष्टाचार की सीसी सड़क, कलेक्टर ने दिया कार्रवाई का भरोसा - Korea News
भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा करोड़ों रुपए का स्विमिंग पूल, अधिकारी और जनप्रतिनिधि ने साधी चुप्पी, जांच की मांग तेज - Manendragarh Chirmiri Bharatpur
10 लाख की सड़क 10 माह में जर्जर, पेंड्रा के वनांचल इलाकों में चरम पर भ्रष्टाचार

मनेन्द्रगढ़ चिरमिरी भरतपुर: राज्य सरकार की कोशिश है कि गांव कस्बों को शहरों से जोड़ा जाए. गांव के भीतर बनने वालों सड़कों को और बेहतर बनाया जाए. पर सरकार की योजनाओं को पलीता लगाने से ग्राम पंचायतों में लोग बाज नहीं आ रहे हैं. ताजा मामला जनपद पंचायत खड़गवां के पंचायत सैंदा का है. दस लाख की लागत से यहां पर पेपर ब्लॉक का काम किया गया था. तीन महीने बाद ही जमीन से पेपल ब्लॉक अब उखड़ने और फटने लगे हैं. गांव वालों की शिकायत है कि घटिया निर्माण सामग्री का इस्तेमाल किए जाने से ये हालात बने हैं.

भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा पेपर ब्लॉक का काम (ETV Bharat)

भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा पेपर ब्लॉक का काम: करीब तीन महीने पहले ही सैंदा पंचायत में लोगों की सुविधा के लिए पेपर ब्लॉक का काम कराया गया था. पंचायत का मकसद था कि पेपर ब्लॉक का काम होने से बारिश में सड़क बेहतर हो जाएगी और मॉनसून में होने वाला कीचड़ भी खत्म हो जाएगा. लोगों को भी आने जाने में सहूलियत मिलेगी. पर निर्माण कार्य में भ्रष्टाचार किए जाने के चलते यहां हुआ निर्माण कार्य अब तेजी से खराब होता जा रहा है.

जवाबदारी लेने से बच रहे जिम्मेदार: निर्माण कार्य में हुए भ्रष्टाचार को लेकर जब ईटीवी भारत की टीम ने ग्राम पंचायत सैंदा के सरपंच से बात करने की कोशिश की तो उनका फोन बंद मिला. उनका पक्ष लेने की के लिए लगातार फोन लगाया गया लेकिन उनका फोन बंद मिला. ईटीवी भारत की टीम से स्पष्ट करती है कि जब उनका पक्ष सामने आएगा तो हम उसे भी प्राथमिकता के साथ सामने रखेंगे.

कोरिया में भ्रष्टाचार की सीसी सड़क, कलेक्टर ने दिया कार्रवाई का भरोसा - Korea News
भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा करोड़ों रुपए का स्विमिंग पूल, अधिकारी और जनप्रतिनिधि ने साधी चुप्पी, जांच की मांग तेज - Manendragarh Chirmiri Bharatpur
10 लाख की सड़क 10 माह में जर्जर, पेंड्रा के वनांचल इलाकों में चरम पर भ्रष्टाचार
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.