क्राइम ब्रांच के नोटिस पर CM केजरीवाल का BJP पर बड़ा हमला, बोले- आपको सब पता है, फिर ये ड्रामा क्यों?

author img

By ETV Bharat Delhi Desk

Published : Feb 3, 2024, 6:19 PM IST

Updated : Feb 3, 2024, 6:44 PM IST

CM केजरीवाल का BJP पर बड़ा हमला

Delhi Politics: आप विधायकों की खरीद-फरोख्त मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच टीम के नोटिस पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी पर बड़ा हमला किया है. उन्होंने कहा कि आपको (भाजपा) तो सब पता है, फिर ये ड्रामा क्यों?

नई दिल्ली: दिल्ली में विधायकों की खरीद-फरोख्त मामले में आम आदमी पार्टी और बीजेपी के बीच सियासी घमासान जारी है. शनिवार को जब दोबारा मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर पर दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम पहुंची तो नोटिस देने को लेकर बड़ा बवाल हो गया. इसको लेकर अब सीएम केजरीवाल ने बीजेपी पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि बीजेपी वालों को तो सब पता है? फिर ये ड्रामा क्यों कर रहे हैं?

दरअसल, सीएम केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए कहा कि ''मुझे क्राइम ब्रांच के इस पुलिस ऑफिसर से सहानुभूति है. इनका क्या कसूर है? इनका काम है दिल्ली में क्राइम रोकना. पर इनसे क्राइम रोकने की बजाय इस क़िस्म की नौटंकी करवाई जा रही है. दिल्ली में इतना क्राइम बढ़ रहा है. इनके पॉलिटिकल आका मुझसे पूछ रहे हैं कि 'आप' के किस-किस MLA को तोड़ने की कोशिश की गई? पर मुझसे ज़्यादा तो आपको पता है? केवल दिल्ली क्यों, देश भर में पिछले कुछ सालों में दूसरी पार्टियों के कौन-कौन से MLA को तोड़कर सरकारें गिराई गईं, आपको तो सब पता है? फिर ये ड्रामा क्यों?''

क्राइम ब्रांच ने नोटिस पर तीन दिन में मांगा जवाब: आम आदमी पार्टी के विधायकों की खरीद-फरोख्त के संबंध में जांच कर रही क्राइम ब्रांच की टीम शनिवार सुबह जब केजरीवाल के घर पर पहुंची तो नोटिस देने को लेकर तीखी बहस हुई. इस दौरान क्राइम ब्रांच करीब 5 घंटे वहां मौजूद रही. आखिरकार पांच घंटे के लंबे इंतजार के बाद जब केजरीवाल नहीं आए तो सीएम ऑफिस में नोटिस दे दिया गया.

वहीं, इस नोटिस का जवाब तीन दिन के अंदर मांगा गया है. जवाब में दो सवालों के उत्तर प्रमुखता से दिए जाने हैं. पहला सवाल है कि जो आरोप लगाए गए हैं, उसके सबूत क्या हैं? वहीं, दूसरा सवाल ये है कि उन सात विधायकों के नाम बताएं, जिनके आधार पर विधायकों की खरीद-फरोख्त आरोप लगाए गए हैं.

यह है पूरा मामला: गत 27 जनवरी को मुख्यमंत्री केजरीवाल और उनके मंत्रियों ने बीजेपी पर विधायकों की खरीद-फरोख्त करने का आरोप लगाया था. तब दावा किया गया था कि भाजपा ने AAP के सात विधायकों से संपर्क किया. उनमें से प्रत्येक को दलबदल करने के लिए 25 करोड़ रुपये की पेशकश की. इसकी उनके पास ऑडियो क्लिप भी है. वहीं, सीएम केजरीवाल व उनके नेताओं के आरोपों के बाद 30 जनवरी को दिल्‍ली भाजपा के एक प्रतिनिधिमंडल दिल्‍ली पुलिस कमिश्‍नर से मिले और AAP विधायकों की खरीद-फरोख्त के आरोपों की निष्पक्ष जांच कराने की मांग की थी.

यह भी पढ़ें-CM अरविंद केजरीवाल के घर पहुंची दिल्ली क्राइम ब्रांच की टीम, जानें पूरा मामला

Last Updated :Feb 3, 2024, 6:44 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.