अयोध्या से पंचकूला पहुंची राम नाम की 400 ईंटें, माता मनसा देवी मंदिर में श्रीराम भगवान की प्राण प्रतिष्ठा का होगा लाइव प्रसारण

author img

By ETV Bharat Haryana Desk

Published : Jan 20, 2024, 9:39 PM IST

Updated : Jan 20, 2024, 11:05 PM IST

Brick Named Ram

Brick Named Ram: रामनगरी अयोध्या में एक दिन बाद राम लला की प्राण प्रतिष्ठा का महोत्सव पूरे देशभर में मनाया जाएगा. जिसके चलते पूरा देश राम मय हो चुका है. ऐसे में अयोध्या से 400 ईंटे पंचकूला में पहुंची है. लोग 22 जनवरी को अपने आवास निर्माण के लिए एक-एक ईंट ले जा सकते हैं.

अयोध्या से पंचकूला पहुंची राम नाम की 400 ईंटें

चंडीगढ़: रामनगरी अयोध्या में श्रीराम मूर्ति के प्राण प्रतिष्ठा उत्सव को देश भर में भव्य तरीके से मनाया जा रहा है. समूचे देश में राम भक्त श्रीराम का स्वागत करने के लिए 22 जनवरी 2024 का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं. हरियाणा के जिला पंचकूला में भी विभिन्न जगहों पर भव्य आयोजन किए जाएंगे. जहां एक ओर माता मनसा देवी मंदिर में श्रीराम भगवान की प्राण प्रतिष्ठा का लाइव प्रसारण और पूजा-हवन करने सहित 5100 दीपक प्रज्वलित किए जाएंगे. इससे पहले पंचकूला सेक्टर-23, घग्गर नदी के समीप बसे गोवन में अयोध्या से राम नाम लिखी 400 ईंट लाई गई हैं.

हर ईंट पर लिखा है राम नाम: अयोध्या से गोसेवकों द्वारा पंचकूला सेक्टर-23 के गोवन में पहुंचाई गई हर ईंट पर श्रीराम का नाम लिखा है. गोवन के मुख्य सेवक सत्यनारायण गुप्ता ने बताया कि 22 जनवरी को गोवन पहुंचने वाले सभी गो भक्तों और राम भक्तों को उनके आवास निर्माण के लिए एक-एक ईंट दी जाएगी. उन्होंने बताया की अयोध्या से हर ईंट अलग-अलग पैकेट में आई है. इसके बाद सेवकों द्वारा सभी ईंटों पर प्रभु श्रीराम का नाम लिखा है.

गोवन में बनाया जा रहा है रामसेतु: गोसेवक सत्यनारायण गुप्ता ने बताया कि गोवन में राम सेतु भी बनाया जा रहा है, जिसे सभी गोसेक और रामभक्त 22 जनवरी को देख सकेंगे. दरअसल, गोवन में एक किनारे पर मिट्टी को दरकने से रोकने के लिए जो बड़े-बड़े पत्गाथर लगाए गए हैं. प्रबंधकों द्वारा उनपर रंग-रोगन किया जा रहा है. सुंदर सजावट कर इन पत्थरों की दीवार को रामसेतु नाम दिया गया है. 22 जनवरी को गोवन पहुंचने वाले गौ सेवक और राम भक्त गौ माता की सेवा करने के साथ-साथ श्रीराम का आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए उनके नाम की एक-एक ईंट घर ले जाने के साथ राम सेतु को भी देख और स्पर्श कर सकेंगे.

6 एकड़ में फैला है गोवन: पंचकूला सेक्टर-23 घग्गर नदी के समीप बसाए गए गोवन के मुख्य सेवक सत्यनारायण गुप्ता ने बताया कि गौ माता की रक्षा के लिए मुख्य संस्थापक श्रवण गर्ग के नेतृत्व में गौ सेवा की जा रही है. उन्होंने कहा कि यह पूरा गोवन करीब 6 एकड़ भूमि पर बसाया गया है, जहां गौ माता के अलावा बैल और बछड़ा-बछड़ी की सेवा भी की जा रही है.

प्राण प्रतिष्ठा पर भारी संख्या में पहुंचेंगे गौ सेवक: अयोध्या में श्रीराम की मूर्ति के प्राण प्रतिष्ठा दिवस पर पंचकूला सेक्टर-23 गोवन में गोसेवकों के भी भारी संख्या में पहुंचने का अंदेशा है. गोसेवक सत्यनारायण गुप्ता ने बताया कि अनेक बार ऐसा देखा गया है कि गोवन में गोसेवक बड़ी संख्या में पहुंचते हैं. श्रीराम की प्राण प्रतिष्ठा के दिन भी यहां गोसेवकों के भारी संख्या में पहुंचने का अनुमान है. इसके लिए लगभग सभी तैयारियां पूरी की जा चुकी हैं. गोवन में एक रसोई भी बनाई है, जहां सभी गोसेवकों समेत अन्य के चाय-पानी का प्रबंध किया जाता है.

ये भी पढ़ें: राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के दिन हरियाणा में भी आधे दिन की छुट्टी घोषित, दुल्हन की तरह सजे मंदिर

ये भी पढ़ें: रामलला के प्राण प्रतिष्ठा को लेकर चंडीगढ़ में गजब का उत्साह, शुद्ध देसी घी से बन रहा 125 क्विंटल लड्डू का प्रसाद

Last Updated :Jan 20, 2024, 11:05 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.