हसदेव जंगल को लेकर फिर भड़की सियासत, अब क्या है कांग्रेस का अगला प्लान

author img

By ETV Bharat Chhattisgarh Desk

Published : Feb 12, 2024, 6:08 PM IST

Updated : Feb 12, 2024, 7:02 PM IST

Congress will fight from Hasdeo Aranya

Hasdeo Aranya राहुल गांधी ने स्वीकार किया है कि हसदेव मध्य भारत का फेफड़ा है उसे हम किसी भी कीमत पर कटने नहीं देंगे. हम सदन से लेकर सड़क तक इस मुद्दे को उठाएंगे. हसदेव को बचाने की लड़ाई जनता के बीच जाकर लड़ी जाएगी. हसदेव को लेकर कांग्रेस लड़ेगी सदन से सड़क तक की लड़ाई Congress will fight from house to street

कोरबा: राहुल गांधी की न्याय यात्रा में एक बार फिर हसदेव जंगल की कटाई का मुद्दा उठा. कांग्रेस ने कहा कि राहुल गांधी पहले भी हसदेव को लेकर गंभीर थे. राहुल गांधी ने राज्य के कांग्रेस नेताओं से कहा है कि वो हसदेव को बचाने के लिए सदन से लेकर सड़क तक की लड़ाई लड़े. केंद्र की बीजेपी सरकार आदिवासियों से जल, जंगल और जमीन तीनों छीनना चाहती है. हम हमेशा से आदिवासियों और गरीबों की लड़ाई लड़ते आएं हैं. गरीबों की आवाज बनकर हम उनकी लड़ाई लड़ेंगे. हसदेव को बचाने के लिए आंदोलन चलाया जाएगा.

हसदेव के लिए लड़ेंगे लड़ाई: कांग्रेस ने कहा कि काफी पहले जंगल काटने के निर्देश आ गए थे. हसदेव जैसे गंभीर मसले पर हमने बाद में विधानसभा में एक अशासकीय संकल्प प्रस्ताव पारित किया. केंद्र की सरकार से हमने निवेदन किया कि इस जंगल को काटने से बचाया जाए. मोदी सरकार ने उद्योगपतियों के दबाव में हमारे प्रस्ताव को नजरअंदाज कर दिया. कांग्रेस के नेताओं और जनता ने सरकार से कटाई रोकने को कहा लेकिन वो किसी भी सुनने को तैयार नहीं हैं.

हम विधानसभा चुनाव में हार गए. चुनाव जीतते ही बीजेपी की सरकार ने जंगल की कटाई का काम शुरु कर दिया. कांग्रेस ने आरोप लगाया कि साय के शपथ लेने से पहले ही जंगल की कटाई का काम शुरु हो चुका था. हंसदेव की कटाई पर हम चुप नहीं बैठेंगे. विधानसभा में भी मुद्दा उठाएंगे और इस मुद्दे को लेकर सड़कों पर भी उतरेंगे. गरीबों और आदिवासियों का कांग्रेस ढाल बनेगी - जयराम रमेश, वरिष्ठ नेता कांग्रेस

राहुल गांधी जी की यात्रा में हम छत्तीसगढ़ के लोगों की समस्याओं को उठा रहे हैं. हसदेव पर जो संकट के बाद हैं उससे केलो बांध परियोजना पर भी दिक्कत भविष्य में आने वाली है. जल जंगल जमीन के लिए हम पहले भी संघर्ष कर रहे थे. राहुग गांधी जी के आने के बाद ये लड़ाई और तेज होगी. केंद्र की सरकार उद्योगपतियों के इशारे पर काम कर रही है. जंगल और खदान को लूटने की कोशिश चल रही है. नो गो एरिया में भी खदानें खोली जा रही हैं. जनता परेशान हो रही है लेकिन केंद्र सरकार अपनी गलत नीतियों को नहीं छोड़ रही है. हाथी और इंसानों का संघर्ष हो रहा है. हम गरीबों की आवाज बनकर लोगों के घरों तक पहुंचेंगे - चरण दास महंत, नेता प्रतिपक्ष

जल, जंगल, जमीन के लड़ाई जारी रहेगी: न्याय यात्रा के दौरान प्रेस में जयराम रमेश और चरण दास महंत ने कहा कि हम जल,जंगल और जमीन बचाने के लिए लड़ाई लड़ते रहेंगे. केंद्र और राज्य सरकार की गलत नीतियों का विरोधी दिल्ली से लेकर छत्तीसगढ़ तक जारी रहेगा. जयराम रमेश ने कहा कि हमने भूमि अधिग्रहण और वन संरक्षण का कानून बनाया था. केंद्र की बीजेपी सरकार अब उन कानूनों और नीतियों को अनदेखा कर रही है. केंद्र की मंशा ठीक नहीं है हम तमाम हालात की समीक्षा कर रहे हैं. राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा चुनाव को लेकर नही है ये यात्रा आदिवासियों को हक दिलाने के लिए है. ये यात्रा गरीबों और आदिवासियों को एकजुट और हिम्मत के साथ खड़ा करने की लड़ाई है, ये लड़ाई सही और गलत विचारधारा की लड़ाई है जिसे हम जीतेंगे.

रोजगार मेले में पीएम मोदी के दावे पर राहुल गांधी का वार-कहा- नहीं मिल रही नौकरी, सरकारी पदों पर हो भर्ती
कोरबा में राहुल ने भीड़ से मजदूर और एक्स आर्मी मैन को बुलाया, बगल में बिठाया और उनसे पूछा ये सवाल
कोरबा में भारत जोड़ो न्याय यात्रा में राहुल गांधी, कहा- मैं नरेंद्र मोदी नहीं, इसलिए गलतियां भी करता हूं
Last Updated :Feb 12, 2024, 7:02 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.