रोज 12 लाख के भुने आलू इस मेले में चट कर जा रहे पर्यटक, 30 दिनों में 2.5 करोड़ का कारोबार, दुकानदार मालामाल

author img

By ETV Bharat Uttar Pradesh Desk

Published : Feb 11, 2024, 11:04 AM IST

Updated : Feb 16, 2024, 12:54 AM IST

ोे्ि

आज हम आपको रूबरू कराने जा रहे हैं एक ऐसे व्यंजन से जिसका 73 साल से देश में डंका बज रहा है. यह है फर्रुखाबाद का भुना आलू. 30 दिनों में इस भुने आलू का 2.5 करोड़ का कारोबार होने का अनुमान है. चलिए जानते हैं इसके बारे में.

्िेु

फर्रुखाबाद: फर्रुखाबाद में बीती 25 जनवरी से गंगा किनारे मेला राम नगरिया का आयोजन चल रहा है. यह मेला 25 फरवरी यानी 30 दिन तक चलेगा. यहां गंगा स्नान करने के लिए देशभर के कोने-कोने से लोग पहुंच रहे हैं. स्नान के बाद भक्त यहां के भुने आलू और चटनी का लुत्फ उठाना नहीं भूल रहे हैं. करीब 73 साल से इस व्यंजन का डंका पूरे देशभर में बज रहा है. देश के कोने-कोने से लोग इसका स्वाद लेने आ रहे हैं. एक अनुमान के मुताबिक 30 दिनों में इस भुने आलू का करीब 2.5 करोड़ रुपए तक का कारोबार यहां के करीब 150 दुकानदार कर लेंगे. रोज करीब 12 लाख रुपए का भुना आलू बिक रहा है.

्ि
्िेु

150 दुकानदारों ने लगाईं दुकानेंः बता दें कि मेला रामनगरिया की शुरुआत सन् 1950 में हुई थी. तभी से यहां भुने आलू और चटनी की दुकानें सजने लगी. इस बार यहां मेले की शुरुआत 25 जनवरी से हुई है. 25 फरवरी तक चलने वाले इस मेले में करीब 150 दुकानदार भुने आलू का कारोबार कर रहे हैं. एक अनुमान के मुताबिक एक दुकानदार रोज करीब एक कुंतल से अधिक भुना आलू बेच ले रहा है. इस लिहाज से रोज करीब 12 लाख के भुने आलू बिक रहे हैं. 30 दिनों में भुने आलू का करीब 2.5 करोड़ से अधिक का कारोबार होने की उम्मीद है.

्ेु
्ेिु

चार गुना तक मुनाफा: दुकानदार सतीश ने बताया कि कच्चा आलू उन्हें 10-15 रुपए प्रति किलो में मिल जाता है. इसके बाद कई मसालों के साथ इस आलू को रेत में भुना जाता है और चटनी के साथ ग्राहकों को परोसा जाता है. यह आलू वह 80 रुपए प्रति किलो में ग्राहकों को देते हैं. मुनाफे के लिहाज से यह काफी अच्छा है.

े्ु
्ु

रेसिपी भी जान लीजिएः दुकानदार शीला ने बताया कि आलू में करीब 35 तरीके के मसाले डालकर टेस्टी बनाया जाता है. इसके बाद इसे मक्खन आदि के साथ नमक में भूना जाता है. इसे तब तक भूना जाता है जब तक यह बिल्कुल पक न जाए. इसके बाद सिलबट्टे पर धनिया, लहसुन, मिर्च और मसालों के साथ पीसी गई चटनी के साथ इसे ग्राहकों को परोसा जाता है. उन्होंने बताया कि मेला रामनगरिया में 24 घंटे यह आलू बिकता है. इस आलू को खाने के लिए दिल्ली, मुंबई, आगरा समेत देश के कोने से कोने से पर्यटक आते हैं. वे यहां मेला घूमने के साथ आलू जरूर खाते हैं.

्िेु
्िेु

ग्राहक भी मुरीदः मेला घूमने आए ज्यादातर परिवार भुने आलू का लुत्फ उठाते हुए नजर आए. इस मौके पर कई ग्राहकों ने बताया कि वह यहां आने पर सबसे पहले यह भुना आलू खाते हैं. यह आलू उन्हें बेहद पसंद है. ऐसा स्वाद उन्हें और कहीं नहीं मिलता है. वाकई इसका टेस्ट ही लाजवाब है.





ये भी पढ़ेंः आचार्य प्रमोद कृष्णम कांग्रेस से छह साल के लिए निष्कासित, पीएम मोदी को कल्कि धाम आने का दिया था न्यौता

ये भी पढ़ेंः रामलला के दर्शन को आज लग्जरी बसों से अयोध्या जाएंगे यूपी के विधायक, सीएम योगी भी पहुंचेंगे, अखिलेश यादव का इनकार

Last Updated :Feb 16, 2024, 12:54 AM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.