मोदी का राहुल गांधी पर बड़ा हमला; बोले- खुद के होश ठिकाने नहीं, काशी के युवाओं को नशेड़ी बता रहे

author img

By ETV Bharat Uttar Pradesh Team

Published : Feb 23, 2024, 8:12 AM IST

Updated : Feb 23, 2024, 5:31 PM IST

Etv Bharat

PM Modi Varanasi Visit: प्रधानमंत्री ने आज अपने संसदीय क्षेत्र के साथ पूर्वांचल और उत्तर प्रदेश की जनता को 13202 करोड़ रुपये की 36 विकास योजनाओं की सौगात दी. प्रधानमंत्री ने BHU में सांसद प्रतियोगित का विजेताओं को सम्मानित किया. भोजपुरी में छात्रों को संबोधित किया. साथ ही राहुल गांधी पर करारा प्रहार किया.

वाराणसी : पीएम मोदी ने बनारस में कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर बड़ा हमला बोला है. मोदी ने कहा है कि जिनके खुद के होश ठिकाने नहीं हैं, वे मेरी काशी के युवाओं को नशड़ी बता रहे हैं. ये परिवारवादी लोग हैं. इनकी यही असलियत है. परिवारवादी युवा असली युवा से डरते हैं. उनको लगता है कि सामान्य युवा को अवसर मिला तो चुनौती देगा. आजकल उनकी बौखलाहट का एक और कारण है. इनको काशी और अयोध्या का नया स्वरूप पसंद नहीं आ रहा है. यह लोग अपने भाषण में राम मंदिर को लेकर कैसी-कैसी बातें करते हैं, हमले करते हैं.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने काशी की धरती से इंडी गठबंधन को सीधे सीधे निशाने पर लिया. बनारस काशी संकुल के उद्घाटन समारोह और पूर्वांचल के लिए 13 हजार करोड़ से अधिक की परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास करने के उपरांत पीएम मोदी ने विपक्ष पर जमकर निशाना साधा. कहा कि दशकों के भ्रष्टाचार, परिवारवाद और तुष्टीकरण ने यूपी को पिछड़ा रखा. यूपी को बीमारू राज्य बनाया गया, युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ किया गया. कांग्रेस के शाही परिवार का कहना है कि काशी के नौजवान नशेड़ी हैं. मोदी को गाली देते देते दो दशक बिता दिए, अब ये लोग यूपी के नौजवानों पर फ्रस्टेशन निकाल रहे हैं.

परिवारवादियों को वही पसंद आते हैं, जो दिन रात इनकी जय जयकार करें

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस को ललकारते हुए कहा कि काशी और यूपी का नौजवान विकसित यूपी बनाने में जुटा है. अपना समृद्ध भविष्य लिखने के लिए परिश्रम की पराकाष्ठा कर रहा है. यूपी के युवा कांग्रेस और इंडी गठबंधन द्वारा किया गया अपमान कभी नहीं भूलेंगे. प्रधानमंत्री ने कांग्रेस और सपा पर हमलावर रुख अख्तियार करते हुए कहा कि परिवारवादी हमेशा युवा शक्ति और टैलेंट से डरते हैं. उन्हें लगता है कि सामान्य युवा को अवसर मिला तो वह हर जगह चुनौती देगा. इन्हें वही पसंद आते हैं जो दिन रात इनकी जय जयकार करते रहें.

नहीं पता था कि कांग्रेस को प्रभु श्रीराम से नफरत है : मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि इनके गुस्से और बौखलाहट का एक और कारण यह है कि इन्हें काशी और अयोध्या का नया स्वरूप पसंद नहीं आ रहा है. ये राममंदिर को लेकर कैसी कैसी बातों से हमला करते हैं. मुझे नहीं पता था कि कांग्रेस को प्रभु श्रीराम से इतनी नफरत है. ये अपने परिवार और वोट बैंक से बाहर कुछ सोच ही नहीं पाते. जब चुनाव आता है तो ये लोग साथ आते हैं. जब परिणाम नील बटा सन्नाटा होता है तो एक दूसरे को गाली देकर अलग हो जाते हैं. मोदी ने भोजपुरी में इंडी गठबंधन पर तंज कसते हुए कहा कि 'ई बनारस हव इहां सब गुरू ह, इहां इंडी गठबंधन क पैंतरा ना चली. बनारस नाहीं पूरे यूपी के पता हव कि माल वही है पैकिंग नई है'' प्रधानमंत्री ने कहा कि इस बार तो इनको जमानत बचाने के लिए बहुत संघर्ष करना पड़ेगा.

10 साल में बनारस हमके बनारसी बना देहलस

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत भोजपुरी में करते हुए कहा, ''काशी की धरती पर आज एक बार फिर आवे क मौका मिलल हव. जबतक बनारस नाहीं आइत तबतक हमार मन नाहीं मानेला. 10 साल पहिले आप लोग हमके बनारस क सांसद बनइला, अब 10 साल में बनारस हमके बनारसी बना देलस.'' प्रधानमंत्री ने कहा कि आज 13 हजार करोड़ से ज्यादा की 45 परियोजनाएं हैं, जो पूर्वांचल और पूर्वी भारत के विकास को गति देंगी. इसमें रेल, रोड, एयरपोर्ट, पशुपालन, उद्योग, स्पोर्ट, कौशल विकास, स्वास्थ्य, स्वच्छता, अध्यात्म, पर्यटन, एलपीजी गैस जैसे अनेक क्षेत्रों से जुड़े कार्य हैं. इससे रोजगार के बहुत से नए अवसर बनेंगे. कहा कि संत रविदास जी की जन्मस्थली से जुड़ी अनेक परियोजनाओं का आज लोकार्पण और शिलान्यास हुआ है.

फुलवरिया फ्लाईओवर वाराणसी के लिए वरदान साबित हुआ

प्रधानमंत्री ने कहा कि काशी और पूर्वांचल में कुछ भी अच्छा होता है तो मुझे आनंद होना बहुत स्वाभाविक है. कहा कि फुलवरिया फ्लाईओवर वाराणसी के लिए वरदान साबित हुआ है. पहले बीएलडब्ल्यू से बाबतपुर एयरपोर्ट जाना होता था तो दो से तीन घंटे पहले निकलना होता था. जितना समय वाराणसी से दिल्ली जाने में नहीं लगता था, उससे ज्यादा देर फ्लाइट पकड़ने के लिए एयरपोर्ट पहुंचने में लगता था. अब इस फ्लाईओवर ने समय को आधा कर दिया है. इसके अलावा सिगरा स्टेडियम के कार्य का लोकार्पण किया गया है. बनारस के युवाओं के लिए आधुनिक शूटिंग रेंज की स्थापना की गई है. यहां आने से पहले बनास डेयरी प्लांट पर पशुपालक बहनों से बात करने का अवसर मिला. किसान परिवार की बहनों को दो तीन साल पहले स्वदेशी नस्ल की गीर गाय दी गई थी. मकसद था कि पूर्वांचल में बेहतर नस्ल की स्वदेशी गायों को लेकर जानकारी बढ़े. किसानों पशुपालकों को फायदा मिले. आज यहां साढ़े तीन सौ के करीब गीर गायों की संख्या पहुंच गई है. पहले जहां सामान्य गाय से 5 लीटर दूध मिलता था वहीं गीर गाय 15 लीटर दूध देती है. इससे इन बहनों को हर महीने हजारों रुपए की अतिरिक्त कमाई हो रही है. हमारी बहनें लखपति दीदी बनने लगी हैं. ये स्वयं सहायता समूहों से जुड़ी 10 करोड़ बहनों के लिए बहुत बड़ी प्रेरणा है.

बनारस और आसपास के जिलों के पशुपालकों को होगा लाभ

प्रधानमंत्री ने कहा कि बनास डेयरी का शिलान्यास दो साल पहले किया गया था. तब गोपालकों को इस प्रोजेक्ट को तेजी से पूरा करने की गारंटी दी थी. आज मोदी की गारंटी आपके सामने है. मोदी की गारंटी यानी योजना पूरा होने की गारंटी. सही निवेश से रोजगार के अवसर कैसे पैदा होते हैं, बनास डेयरी इसका उदाहरण है. ये डेयरी बनारस, मिर्जापुर, गाजीपुर, रायबरेली के पशुपालकों से प्रतिदिन दो लाख लीटर दूध इकट्ठा कर रही है. प्लांट चालू होने के साथ चंदौली, बलिया और आजमगढ़ सहित अन्य जिलों के पशुपालकों को भी लाभ होगा. इन जिलों के हजार से अधिक गांवों में दुग्ध मंडियां बनेंगी. पशुपालकों का ज्यादा दूध ज्यादा कीमत पर बिकेगा. ये प्लांट पशुपालकों को बेहतर पशुओं के नस्ल के लिए जागरूक और प्रशिक्षित भी करेगा. साथ ही इससे रोजगार के हजारों नये अवसर बनेंगे. इससे पूरे इलाके में तीन लाख से ज्यादा किसानों की आय बढ़ेगी. यहां दूध के अलावा छाछ, दही, लस्सी, आइस्क्रीम, पनीर सहित अनेक प्रकार की स्थानीय मिठाइयां बनेंगी. इससे इन्हें बेचने वालों को भी रोजगार मिलेगा. ये प्लांट बनारस की मिठाइयों को देश के कोने कोने में पहुंचाने में मदद करेगा. पशु आहार से जुड़े दुकानदार और स्थानीय वितरकों का भी रोजगार बढ़ेगा.

काशी कचरे से कंचन बनाने के मामले में मॉडल बन चुकी है

प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार अन्नदाता को ऊर्जादाता बनाने के साथ अब पशुपालकों को उर्वरक दाता बनाने के लिए प्रयासरत है. हम पशुपालकों को दूध के अलावा गोबर से भी कमाई के अवसर दे रहे हैं. डेयरी प्लांट से बायो सीएनजी बने और इस प्रक्रिया में जैविक खाद कम दाम में किसानों को मिले. इससे प्राकृतिक खेती को और बल मिलेगा. गोबरधन योजना के तहत गोबर और दूसरे कचरे से बायोगैस बनाई जा रही है. इससे साफ सफाई के साथ कचरे का पैसा मिलता है. काशी कचरे से कंचन बनाने के मामले में मॉडल बन चुकी है. आज एक और प्लांट का लोकार्पण हुआ है, जहां 600 टन कचरे को 200 टन चारकोल में बदला जाएगा.

किसान और पशुपालक हमेशा से भाजपा सरकार की सबसे बड़ी प्राथमिकता

प्रधानमंत्री ने कहा कि किसान और पशुपालक हमेशा से भाजपा सरकार की सबसे बड़ी प्राथमिकता रहे हैं. देश तभी आत्मनिर्भर बनेगा, जब देश की हर छोटी छोटी शक्ति को जगाया जाए. किसान, पशुपालकों, कारीगरों, शिल्पकारों, लघु उद्यमियों को मदद दी जाए. प्रधानमंत्री ने कहा कि वे हमेशा लोकल के लिए वोकल रहते हैं. मैं जब वोकल फॉर लोकल कहता हूं तो उन बुनकरों और छोटे उद्यमियों का प्रचार होता है, जो लाखों रुपए अखबारों और टीवी में प्रचार के लिए खर्च नहीं कर सकते. पीएम ने कहा कि स्थानीय उत्पाद का प्रचार वो खुद करते हैं और वह हर छोटे उद्यमी के ब्रांड एंबेसडर मोदी हैं. जबसे विश्वनाथ धाम का लोकार्पण हुआ है, तब से 12 करोड़ से अधिक लोग काशी आ चुके हैं. इससे सबका रोजगार बढ़ा है.

भारत के सामर्थ्य का सबसे प्रचंड कार्यकाल होगा मोदी का तीसरा कार्यकाल

पीएम मोदी ने कहा कि मोदी की गारंटी है हर लाभार्थी को शत प्रतिशत लाभ. मोदी लाभार्थी के सैचुरेशन की गारंटी दे रहा है तो यूपी ने भी सारी सीटें मोदी को देने का निर्णय किया है. इस बार यूपी सभी सीटें एनडीए के नाम करने वाला है. मोदी का तीसरा कार्यकाल पूरी दुनिया में भारत के सामर्थ्य का सबसे प्रचंड कार्यकाल होने वाला है. इसमें सामरिक, आर्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक हर क्षेत्र नई बुलंदी पर होगा. बीते 10 साल में भारत 11वें नंबर से उठकर 5वें नंबर की आर्थिक ताकत बन गया. आने वाले पांच साल में भारत दुनिया की तीसरी बड़ी आर्थिक ताकत बनेगा. प्रधानमंत्री ने कहा कि मोदी की गारंटी पर अगर देश और दुनिया का इतना भरोसा है तो इसके पीछे आपका अपनापन और बाबा का आशीर्वाद है.

कार्यक्रम की शुरुआत में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री मोदी को अंगवस्त्र और कामधेनु की मूर्ति भेंटकर उनका स्वागत एवं अभिनंदन किया. वहीं बनास डेयरी के चेयरमैन शंकरभाई चौधरी ने प्रधानमंत्री को पगड़ी, शॉल एवं कामधेनु की मूर्ति प्रदानकर स्वागत किया. इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने जीआई उत्पादों के पांच कारीगरों को अधिकृत उपयोगकर्ता का प्रमाणपत्र भी प्रदान किया, इनमें जमालुद्दीन अंसरी, श्रीकांत मिश्र, सत्या सिंह, अमृता सिंह और सिद्धार्थ मौर्य शामिल रहे. पीएम मोदी ने इससे पहले बनास डेयरी का अवलोकन भी किया.

संत रविदास जयंती पर मंदिर में मत्था टेका

पीएम मोदी संत रविदास जयंती पर उनके मंदिर पहुंचे और मत्था टेका. यहां उन्होंने आध्यत्मिक पर्यटन विकास कार्य का शुभारंभ किया. साथ ही वहां मौजूद भारी भीड़ को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने अपना 10 साल का रिपोर्ट कार्ड भी जनता के सामने रखा. साथ ही आने वाले सालों की योजनाओं के बारे में भी बताया. यहां लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि रविदास जी ने समाज को आजादी का महत्व भी बताया था और सामाजिक विभाजन को पाटने का काम भी किया. ऊंच नीच, छुआछूत, भेदभाव, इस सबके खिलाफ उन्होंने आवाज उठाई. भारत का इतिहास रहा है, जब भी देश को जरूरत हुई है, कोई न कोई संत, ऋषि, महान विभूति भारत में जन्म लेते हैं. संत रविदास जी तो उस भ​क्ति आंदोलन के महान संत थे, जिन्होंने कमजोर और विभाजित हो चुके भारत को नई ऊर्जा दी थी. कहा कि आज मुझे संत रविदास जी की नई प्रतिमा के लोकार्पण का भी सौभाग्य मिला है. संत रविदास म्यूजियम की आधारशिला भी आज रखी है. मैं आप सभी को इन विकास कार्यों की बहुत-बहुत बधाई देता हूं. यहां का सांसद होने के नाते, मेरी विशेष जिम्मेदारी भी बनती है कि मैं बनारस में आप सबका स्वागत भी करूं और आप सबकी सुविधाओं का खास खयाल भी रखूं. मुझे खुशी है कि संत रविदास जी की जयंती पर मुझे इन दायित्वों को पूरा करने का अवसर मिला है.

आज हमारी सरकार रविदास जी के विचारों को ही आगे बढ़ा रही है. भाजपा सरकार सबकी है, भाजपा सरकार की योजनाएं सबके लिए हैं. 'सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास' ये मंत्र आज 140 करोड़ देशवासियों से जुड़ने का मंत्र भी बन गया है. समानता, वंचित समाज को प्राथमिकता देने से ही आती है. इसलिए जो लोग, जो वर्ग विकास की धारा से दूर रह गए, पिछले 10 वर्षों में उनको ध्यान में रखकर ही काम हुआ है. पहले जिस गरीब को सबसे आखिरी समझा जाता था, आज सबसे बड़ी योजनाएं उन्हीं के लिए बनी हैं.

आज देश के हर दलित को, हर पिछड़े को एक और बात ध्यान रखनी है. हमारे देश में जाति के नाम पर उकसाने और उन्हें लड़ाने में भरोसा रखने वाले इंडी गठबंधन के लोग दलित, वंचित के हित की योजनाओं का विरोध करते हैं. जाति की भलाई के नाम पर ये लोग अपने परिवार के स्वार्थ की राजनीति करते हैं.

सीएम बोले- जो कभी नहीं हुआ, वह पीएम मोदी ने कर दिखाया

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि दस वर्ष के अंदर हजारों करोड़ की विकास परियोजना देकर प्रधानमंत्री ने काशी को नए कलेवर के रूप में वैश्विक मानचित्र पर प्रस्तुत किया है. आज एक बार फिर हजारों करोड़ों की इन योजनाओं को लेकर पीएम का आगमन हुआ है. साढ़े छह सौ करोड़ की लागत से बनास डेयरी बनी है. लगता है कि यह किसानों व पशु पालकों के लिए आधुनिक तीर्थ जैसी है. यह डेयरी आमदनी को बढ़ाने के साथ ही भारत की श्रद्धा को सम्मानित और संरक्षित करने का नया केंद्र बनी हुई है. सीएम ने कहा कि उप्र की उर्वरा भूमि को गोमाता का आशीर्वाद देकर हमारे पशुपालकों की समृद्धि के लिए कार्य प्रारंभ किया. इस बहाने गोमाता की रक्षा भी होगी और हमें पुण्य व आशीर्वाद भी प्राप्त हो जाएगा. प्रधानमंत्री द्वारा काशी में नए मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास होने जा रहा है. जीवन के अलग-अलग क्षेत्रों से जुड़े तकरीबन 13 हजार करोड़ से अधिक की नई योजनाओं की सौगात मिलने जा रही है. 10 वर्ष में काशी को प्रधानमंत्री जी द्वारा 45 हजार करोड़ की परियोजनाओं की सौगात दी गईं. जो कभी नहीं हुआ, वह मोदी जी ने कर दिखाया.

हर सनातन धर्मावलंबी व भारतवासी अभिभूत है

सीएम ने कहा कि पांच सदी के बाद अयोध्या में रामलला के इंतजार को समाप्त करते हुए उनकी दिव्य मूर्ति को भव्य मंदिर में विराजमान कराने के उपरांत प्रधानमंत्री का काशी आगमन हुआ है. पीढ़ियां बीत गईं, युग समाप्त हो गए, लेकिन इंतजार का क्रम तब टूटा, जब मोदी की दूरदर्शिता, मार्गदर्शन व नेतृत्व भारत प्राप्त कर रहा है. काशी विश्वनाथ धाम के बाद अयोध्या में श्रीरामलला का विराजमान होना हर सनातन धर्मावलंबियों व भारतवासी को अभिभूत करता है.

प्रधानमंत्री ने देश को नई दृष्टि व पहचान दी है

सीएम योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने देश को नई दृष्टि व पहचान दी है. भारतवासी नए भारत का दर्शन कर रहे हैं. नया भारत वैश्विक मंच पर नागरिकों को सम्मान व सुरक्षा देता है तो समृद्धि का मार्ग भी प्रशस्त करता है. उनकी आस्था और आजीविका का भी ध्यान रखता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत को नई दिशा व नेतृत्व देने के साथ ही विकसित भारत के संकल्प संग देशवासियों को नए भारत के साथ जोड़ रहे हैं.

ये भी पढ़ेंः PM मोदी वाराणसी दौरा: प्रधानमंत्री की सीएम योगी ने की आगवानी, एयरपोर्ट पर सैकड़ों लोगों ने बरसाए फूल

Last Updated :Feb 23, 2024, 5:31 PM IST
ETV Bharat Logo

Copyright © 2024 Ushodaya Enterprises Pvt. Ltd., All Rights Reserved.